PM Narendra Modi to meet Commandos that carried out Surgical Strike across LoC in PoK - पीओके में घुसकर सर्जिकल स्‍ट्राइक करने वाले भारतीय कमांडोज से मिलेंगे पीएम मोदी, देंगे बधाई - Jansatta
ताज़ा खबर
 

पीओके में घुसकर सर्जिकल स्‍ट्राइक करने वाले भारतीय कमांडोज से मिलेंगे पीएम मोदी, देंगे बधाई

शनिवार को आर्मी चीफ दलबीर सिंह ने नॉर्दन कमांड के दौरे पर इन कमांडोज को बधाई दी।

सेना के जवानों से मिलते प्रधानमंत्री मोदी। (File Photo)

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पाकिस्‍तान अधिकृत कश्‍मीर में घुसकर सर्जिकल स्‍ट्राइक करने वाले कमांडोज को मिलकर बधाई देना चाहते हैं। सेना की क्रैक कमांडो टीम के जाबांज आने वाले दिनों में दिल्‍ली आ सकते हैं, जहां खुद पीएम मोदी उनसे मुलाकात करेंगे। इकॉनमिक टाइम्‍स ने सूत्रों के हवाले से लिखा है कि जवानों को मोदी के शेड्यूल और उपलब्‍धता के आधार पर आने वाले दिनों में दिल्‍ली बुलाया जा सकता है। प्रधानमंत्री मोदी ने योजना बनने से लेकर 23 सितंबर को डायरेक्‍टर जनरल ऑफ मिलिट्री ऑपरेशंस के घोषणा करने तक, पूरे मिशन पर करीब से नजर रखी है। प्रधानमंत्री मोदी ने अभी तक सर्जिकल स्‍ट्राइक पर चुप्‍पी साधे रखी है। सत्‍ताधारी बीजेपी और अन्‍य राजनैतिक दल सर्जिकल स्‍ट्राइक को लेकर सेना और मोदी को बधाई दे रहे हैं, मगर खुद पीएम ने अभी तक कुछ नहीं कहा है। पिछले साल म्‍यांमार में आतंकियों के ट्रेनिंग कैंप ध्‍वस्‍त करने के लिए किए गए क्रॉस बॉर्डर ऑपरेशंस के कुछ दिन बाद प्रधानमंत्री ने 21 पैरा स्‍पेशल फोर्सेज के जवानों से गुप्‍त मुलाकात की थी। चंदेल में आर्मी काफिले पर हमले में 18 सैनिकों के मारे जाने के बाद 50 से ज्‍यादा जवानों ने म्‍यांमार पार कर आतंकियों के ठिकानों को निशाना बनाया था।

सर्जिकल स्‍ट्राइक को लेकर शुरू हुई राजनीति, देखें वीडियो: 

पिछले सप्‍ताह नियंत्रण रेखा (LoC) पार कर की गई सर्जिकल स्‍ट्राइक में पैरा स्‍पेशल फोर्सेज के करीब 150 जवानों ने पराक्रम दिखाया था। इस सर्जिकल स्‍ट्राइक में पाकिस्‍तानी मिलिट्री द्वारा सुरक्षित सात आतंकी लॉन्‍च पैड्स पर हमला कर भारी मात्रा में नुकसान पहुंचाया गया था। इस सर्जिकल स्‍ट्राइक में शामिल कमांडो जम्‍मू-कश्‍मीर में लगातार ऑपरेशंस के लिए ट्रेन किए गए हैं। सभी को सर्जिकल स्‍ट्राइक के लिए अलग से चुना गया और फिर ट्रेनिंग दी गई। इसमें पैरा स्‍पेशल फोर्सेज 1, 4 और 9 के जवान शामिल हैं।

READ ALSO: इमाम की टीवी शो पर हुई जूते से पिटाई, ‘महिलाओं के हक’ की कर रहा था बात, लोगों ने लाइव देखा VIDEO

इस ऑपरेशन को कम से कम एक सप्‍ताह पहले ही प्‍लान कर लिया गया था। कमांडोज ने पूरे ऑपरेशन को इतनी सफाई से अंजाम दिया कि कोई भी भारतीय जवान हताहत नहीं हुआ। कई टीमों में से सिर्फ एक जवान को पीओके से वापस लौटते वक्‍त एक माइन पर पैर पड़ जाने से हल्‍की चोटें आई थीं। शनिवार को आर्मी चीफ दलबीर सिंह ने नॉर्दन कमांड के दौरे पर इन कमांडोज को बधाई दी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App