ताज़ा खबर
 

PM मोदी ने स्मृति ईरानी को स्कूलों के लिए सौंपा था 39 सूत्री एजेंडा

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने खुद 39 सूत्री एजेंडे के प्वाइंट्स पर 10 मार्च को हुई बैठक में समीक्षा की थी।
Author नई दिल्ली | July 18, 2016 09:19 am
पूर्व मानव संसाधन मंत्री स्मृति ईरानी अभी कपड़ा मंत्रालय संभाल रही हैं।

पूर्व मानव संसाधन मंत्री स्मृति ईरानी के पीएमओ के साथ हायर एजुकेशन के मुद्दे पर मतभेद ही उनसे मंत्रालय छीने जाने की वजह नहीं बने, बल्कि पीएमओ स्कूल एजुकेशन पर भी करीब से नजर रख रहा था। पीएमओ और मानव संसाधन मंत्रालय में हायर एजुकेशन को लेकर केवल पांच मुद्दों पर ही असहमति थी। जबकि पीएमओ ने स्कूल एजुकेशन के सुधार के लिए 39 सूत्री एजेंडा मंत्रालय को सौंपा था। इन प्वाइंट्स पर ईरानी को काम करना था। इसके साथ ही पीएमओ इनकी निगरानी कर रहा था। इनमें लर्निंग स्तर में सुधार, टीचर ट्रेनिंग और वोकेशनल ट्रेनिंग जैसे कई प्वाइंट्स शामिल थे। इन प्वाइंट्स पर कितना काम हुआ, इसकी समीक्षा खुद पीएम मोदी ने 10 मार्च को हुई बैठक में की थी।

Read Also:  कैबिनेट की नियुक्ति समिति ने CBSC प्रमुख के लिए स्मृति ईरानी की पसंद को खारिज किया

अंग्रेजी अखबार ईटी की रिपोर्ट के मुताबिक हर एक प्वाइंट के लिए टारगेट और डेडलाइन दी गई थी। इन 39 प्वाइंट्स के लिए जून 2016 से वित्तिय वर्ष 2017 तक की समय सीमा थी। अलग-अलग प्वाइंट्स को अलग-अलग डेडलाइन पूरा करना था। इनमें से जहां कुछ पर काम शुरू नहीं हुआ था तो कुछ का काम जारी थी। पीएम मोदी ने बैठक में प्राइमेरी और सैकंडरी स्तर पर एजुकेशन के स्तर को सुधारने जैसे मुद्दों सहित 9 प्वाइंट्स की पहचान की थी। जिन पर मंत्रालय को काम करना था। मंत्रालय को कहा गया था कि कक्षा एक से आठ तक लर्निंग गोल बनाए और उन्हें जून 2016 तक हर एक स्कूल के नोटिस बोर्ड पर लगाए। जुलाई तक सभी स्कूलों में कमजोर बच्चों की पहचान करके उन्हें सुधारने के लिए कदम उठाए जाएं।

Read Also:  सूत्रों का दावा- स्मृति के झगड़े, जयंत की चाय पार्टी उन्हें पीछे खींच लाई

टीचर्स और हेडमास्टरों के प्रदर्शन को सुधारने के लिए प्वाइंट्स की पहचान की गई थी। सरकारी और प्राइवेट स्कूलों में छात्रों के आकलन की व्यवस्था करना। इसके साथ ही पीएमओ का फोकस ट्रेनिंग, टीचर्स की समीक्षा, अनट्रेंड टीजर्स को टेक्निकल ट्रेनिंग देने पर था। इसके साथ ही एक टीचर ट्रेनिंग यूनिवर्सिटी की स्थापना भी इसमें शामिल थी।

Read Also:  स्मृति ईरानी ने संभाला पद, बोलीं- कुछ तो लोग कहेंगे, लोगों का काम है कहना

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.