ताज़ा खबर
 

लड़कियों की शादी की उम्र फिर से तय करेगी मोदी सरकार, पीएम का ऐलान- कमेटी बनाई है, रिपोर्ट मिलने पर ऐक्शन

शिक्षा, स्वास्थ्य पर अपनी सरकार की प्राथमिकता गिनाते हुए पीएम मोदी ने महिला शक्ति को नमन किया। उन्होंने कहा, "हमारा अनुभव कहता है कि भारत में महिला शक्ति को जब-जब भी अवसर मिले, उन्होंने देश का नाम रोशन किया, देश को मजबूती दी है।"

Author Edited By प्रमोद प्रवीण नई दिल्ली | Updated: August 15, 2020 10:29 AM
PM Narendra Modi Speech, Minimum age of marriage for girls, Independence Day 2020, independence day, modi live news, modi speech, भारत का स्वतंत्रता दिवस, भारत का स्वतंत्रता दिवस 2020, modi speech today live, live modi speech, modi live news today, live modi, narendra modi, pm modi live news, pm modi speech today, Bharat Ka Swatantrata Diwas, Bharat Ka Swatantrata Diwas 2020, India Independence Day 2020, independence day 2020, independence day live, independence day flag hoisting, independence day flag hoisting live, independence day celebration liveप्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 74वें स्वतंत्रता दिवस पर लाल किले की प्राचीर से सातवीं बार राष्ट्रीय झंडा फहराया। (ANI)

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 74वें स्वतंत्रता दिवस पर लाल किले की प्राचीर से सातवीं बार राष्ट्रीय झंडा फहराया। इस मौके पर अपने संबोधन में उन्होंने लड़कियों की शादी की न्यूनतम उम्र बदलने का ऐलान किया है। उन्होंने कहा कि बदलते वैश्विक माहौल में हमने बेटियों की शादी की न्यूनतम उम्र तय करने के लिए एक कमेटी का गठन किया है। उसकी रिपोर्ट मिलते ही सरकार इस पर फैसला लेगी।

शिक्षा, स्वास्थ्य पर अपनी सरकार की प्राथमिकता गिनाते हुए पीएम मोदी ने महिला शक्ति को नमन किया। उन्होंने कहा, “हमारा अनुभव कहता है कि भारत में महिला शक्ति को जब-जब भी अवसर मिले, उन्होंने देश का नाम रोशन किया, देश को मजबूती दी है।” उन्होंने कहा, “आज भारत में महिलाएं अंडरग्राउंड कोयला खदानों में काम कर रही हैं तो लड़ाकू विमानों से आसमान की बुलंदियों को भी छू रही हैं।”

इस साल के बजट भाषण में भी वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने इसके संकेत दिए थे। तब उन्होंने स्वास्थ, सबल, सक्षम नारी पर जोर दिया था। मोदी सरकार के पिछले कार्यकाल में बेटियों को बचाने और पढ़ाने पर जोर था, इस बार महिलाओं के स्वास्थ्य और कुपोषण से लड़ने पर जोर दिया गया है। शादी की उम्र में इजाफा कर सरकार उनके मातृत्व दर में कमी लाना और उनके पोषण स्तर को सुधार करना चाहती है।

इस वक्त देश में लड़कियों की शादी की न्यूनतन आयु सीमा 18 वर्ष और लड़कों की 21 साल है। साल 1929 में शारदा एक्ट आया था जिसमें लड़की की विवाह की न्यूनतम आयु 15 वर्ष तय थी। इस कानून में 1978 में संशोधन हुआ जिसमें लड़की की विवाह की आयु 15 वर्ष से बढ़ाकर 18 वर्ष कर दी गई।

पीएम ने अपने संबोधन में कोरोना वॉरियर्स को भी सलाम किया। उन्होंने कहा, “कोरोना के इस असाधारण समय में, सेवा परमो धर्म: की भावना के साथ, अपने जीवन की परवाह किए बिना हमारे डॉक्टर्स, नर्से, पैरामेडिकल स्टाफ, एंबुलेंस कर्मी, सफाई कर्मचारी, पुलिसकर्मी, सेवाकर्मी, अनेको लोग, चौबीसों घंटे लगातार काम कर रहे हैं।”

पीएम ने देश के मध्यम वर्ग की तारीफ करते हुए कहा, “मध्यम वर्ग से निकले प्रोफेशनल्स भारत ही नहीं पूरी दुनिया में अपनी धाक जमाते हैं। मध्यम वर्ग को अवसर चाहिए, मध्यम वर्ग को सरकारी दखलअंदाजी से मुक्ति चाहिए।” पीएम ने इसी लाल किले से पिछले वर्ष जल जीवन मिशन का ऐलान किया था। इस साल उन्होंने इस मिशन के तहत अब हर रोज एक लाख से ज्यादा घरों को पानी के कनेक्शन से जोड़ने का ऐलान किया। पीएम ने कहा कि देश के किसानों को आधुनिक इंफ्रास्ट्रक्चर देने के लिए कुछ दिन पहले ही एक लाख करोड़ रुपए का ‘एग्रीकल्चर इनफ्रास्ट्रक्चर फंड’ बनाया गया है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 Coronavirus in India HIGHLIGHTS: महाराष्ट्र में 12,614 तो पंजाब में 1,033 नए केस, त्रिपुरा में 167 ताजा मामले
2 आयुष्मान भारत: ग़रीबी रेखा से ऊपर वालों को भी लाने का प्लान, 45 करोड़ लोगों को सस्ता बीमा देने की तैयारी
3 215 गैलेंट्री अवार्ड्स में से 40 फीसदी पर सिर्फ जम्मू-कश्मीर के जवानों का कब्जा, 55 सीआरपीएफ के खाते में, कमांडेट को 4 साल में सातवां
ये पढ़ा क्या?
X