दीदी, गुस्सा निकालना है, तो मैं यहां हूं न…दे लो जी भर के गालियां- बोले PM

पश्चिम बंगाल के बर्धमान में आयोजित रैली में पीएम मोदी ने ममता बनर्जी पर जमकर हमला बोला।

pm modi, west bengal, BJPपश्चिम बंगाल के बर्धमान में आयोजित रैली में पीएम मोदी ने कहा कि ममता बनर्जी केंद्रीय वाहिनी के खिलाफ अपने कार्यकर्ताओं को भड़का रही हैं। (फोटो- पीटीआई)

पश्चिम बंगाल में 17 अप्रैल को होने वाले पांचवे चरण के मतदान के लिए पीएम मोदी ताबरतोड़ रैलियां कर रहे हैं। सोमवार को पीएम मोदी पश्चिम बंगाल में तीन रैलियों को संबोधित करेंगे। पश्चिम बंगाल के बर्धमान में आयोजित रैली में पीएम मोदी ने ममता बनर्जी पर जमकर हमला बोला। पीएम ने कहा कि पश्चिम बंगाल में हालत तो ये हो गई है कि दीदी(ममता बनर्जी) अब केंद्रीय वाहिनी के खिलाफ अपने कार्यकर्ताओं को भड़का रही हैं। दीदी आपको गुस्सा करना है तो मैं हूं ना..आपको गाली देनी है तो मोदी को गाली दीजिए।

पश्चिम  बंगाल के बर्धमान में आयोजित रैली में पीएम मोदी ने कहा कि पहले हुए चार चरणों के चुनाव में ही टीएमसी की हार हो चुकी है। साथ ही उन्होंने कहा कि अगर ममता बनर्जी एक बार हार गई तो दोबारा कभी चुनाव नहीं जीत पाएंगी। बर्धमान में लोगों को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि दीदी को ये भी मालूम है कि एक बार बंगाल से कांग्रेस गई तो कभी वापस नहीं आई। वामपंथी वाले, लेफ्ट वाले गए तो वापस नहीं आए। इसलिए दीदी, आप भी एक बार गई तो कभी वापस नहीं आएंगी।

इसके अलावा पीएम मोदी ने कहा कि ममता बनर्जी और उनकी पार्टी टीएमसी ने भीमराव आंबेडकर का अपमान किया है। प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि दीदी के लोग बंगाल के अनुसूचित जाति के हमारे भाई-बहनों को गाली देने लगे हैं। वे उन्हें भिखारी कहने लगे हैं। अभी 14 अप्रैल को ही बाबा साहेब की जन्म जयंती है, जन्म जयंती से पहले दीदी व टीएमसी ने बाबा साहेब आंबेडकर का इतना बड़ा अपमान किया।  

वहीं बंगाल की चुनावी रैली में गृहमंत्री अमित शाह ने पिछले चार चरणों के लिए हुए चुनाव में 92 से ज्यादा सीटों को जीतने का दावा किया। अमित शाह ने कहा कि 4 चरण के चुनावों में भाजपा 92 से ज्यादा सीटों पर आगे है। दीदी अपने भाषण में बंगाल से ज्यादा मेरा नाम बोलती हैं। जितनी गालियां मुझे देती हैं उसका कोई हिसाब नहीं। दीदी, अगर आप लोगों को न उकसाती तो 4 युवाओं की मौत नहीं होती।

प्रधानमंत्री मोदी के द्वारा लगाए जा रहे आरोपों पर मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने भी पलटवार किया। ममता बनर्जी ने कहा कि मैंने ऐसा प्रधानमंत्री नहीं देखा जो बोलते समय सभी सीमाओं को लांघ जाता है। मैं वास्तव में दुखी और शर्मिंदा हूं। इसके अलावा ममता बनर्जी ने चुनाव आयोग से पक्षपाती ना बनने का आग्रह किया। ममता बनर्जी ने कहा कि मैं चुनाव आयोग से हाथ जोड़कर निवेदन करती हूं कि सिर्फ भाजपा की न सुनें, सभी की सुनें, पक्षपाती न बनें।

Next Stories
1 सुप्रीम कोर्ट: 26 आयतों को कुरान से हटाने की मांग वाली याचिका खारिज, याचिकाकर्ता पर लगाया गया जुर्माना
2 Lockdown in India 2021: बढ़ते कोरोना संकट के बीच देश भर में बढ़ी पाबंदियां, महाराष्ट्र में लॉकडाउन की संभावना
3 भगवान हनुमान के जन्म पर दक्षिण के दो सूबों में दंगल! विवाद के बीच एक्सपर्ट्स कमेटी सौंपेगी रिपोर्ट
ये पढ़ा क्या?
X