ताज़ा खबर
 

वीडियो में पीएम मोदी को शिवाजी के रूप में दिखाए जाने पर विवाद, महाराष्ट्र सरकार की यूट्यूब से वीडियो हटाने की मांग

शिवसेना के नेता संजय राउत ने पत्रकारों को बताया कि उनकी पार्टी छत्रपति शिवाजी का इस तरह का 'अपमान' सहन नहीं करेगी। उन्होंने पूछा कि जिन लोगों ने उनकी टिप्पणी के खिलाफ विरोध किया, वे अब क्लिप को लेकर चुप क्यों हैं?

पीएम मोदी। (PTI Photo)

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को एक वीडियो क्लिप में शिवाजी महाराज के रूप में दिखाने के बाद विवाद हो गया है। महाराष्ट्र सरकार ने इस पर कड़ी नाराजगी जाहिर की है और यूट्यूब से इस वीडियो हटाने की मांग की है। दरअसल बॉलीवुड फिल्म ‘तान्हाजी- द अनसंग वॉरियर’ के एक सीन के बारे में सोशल मीडिया पर एक ऐसी वीडियो क्लिप सामने आयी है जिसमें प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को छत्रपति शिवाजी और केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह को तान्हाजी के रूप में दिखाया गया है।

महाराष्ट्र के गृह मंत्री और एनसीपी नेता अनिल देशमुख ने वीडियो की निंदा की है और कहा कि ‘सरकार यूट्यूब के साथ इस मुद्दे को उठायेगी।’ सबसे पहले यह क्लिप ट्विटर हैंडल ‘पॉलिटिकल कीड़ा’ पर पोस्ट की गई जिसमें दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को उदयभान सिंह राठौड़ के रूप में दिखाया गया है।

वीडियो क्लिप की निंदा करते हुए महाराष्ट्र के गृह मंत्री देशमुख ने कहा कि उन्हें वीडियो के बारे में शिकायतें मिली हैं और सरकार यूट्यूब के समक्ष इस मुद्दे को उठायेगी। शिवसेना के नेता संजय राउत ने पत्रकारों को बताया कि उनकी पार्टी छत्रपति शिवाजी का इस तरह का ‘अपमान’ सहन नहीं करेगी। उन्होंने पूछा कि जिन लोगों ने उनकी टिप्पणी के खिलाफ विरोध किया, वे अब क्लिप को लेकर चुप क्यों हैं?

वहीं भाजपा ने वीडियो क्लिप से दूरी बनाते हुए कहा कि यह पार्टी से संबंधित नहीं है और वह छत्रपति शिवाजी के साथ कभी भी किसी की तुलना नहीं करेगी। देशमुख ने भाजपा को निशाने पर लेते हुए कहा कि, “मैं राजनीतिक लाभ लेने के लिए इतना नीचे गिरने के लिए भाजपा की निंदा करता हूं। (राजनीतिक फायदे के लिए) शिवाजी महाराज, तान्हाजी का इस्तेमाल करना गलत है।”

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

X
Next Stories
ये पढ़ा क्या?
X