ताज़ा खबर
 

जानकी मंदिर में पीएम नरेंद्र मोदी: पाग पहन, मंजीरा बजा किया सीताराम का जाप

पीएम मोदी से पहले पूर्व राष्ट्रपति नीलम संजीवरेड्डी, ज्ञानी जैल सिंह और प्रणब मुखर्जी भी जानकी मंदिर जा चुके हैं। पीएम मोदी भारत के पहले प्रधानमंत्री हैं, जिन्होंने जानकी मंदिर की विशेष पूजा में भाग लिया है।

पीएम मोदी ने जानकी मंदिर में की विशेष पूजा। (image source-ANI)

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 2 दिवसीय यात्रा पर शुक्रवार को नेपाल पहुंचे। नेपाल पहुंचने के बाद पीएम मोदी सीधे जनकपुर में स्थित जानकी मंदिर पहुंचे और वहां विशेष पूजा अर्चना की। नेपाल के प्रधानमंत्री केपी शर्मा ओली ने मंदिर परिसर में पीएम मोदी की आगवानी की। बता दें कि जनकपुर माता सीता का मायका है और जानकी मंदिर माता सीता को ही समर्पित है। पीएम मोदी मंदिर परिसर में करीब 45 मिनट रहे और स्थानीय मीडिया के अनुसार, पीएम मोदी ने मंदिर में विशेष पूजा शोदासोपचारा पूजा में भाग लिया। मंदिर में पीएम मोदी पूरे भक्ति भाव में दिखाई दिए, इस दौरान पीएम मोदी ने मंदिर के पुजारियों और अन्य संतों से तो मुलाकात की है, साथ ही मंदिर में चल रहे भजन कीर्तन में मंजीरा भी बजाया और सीताराम का जाप किया। मंदिर पहुंचने पर पीएम मोदी को सम्मान स्वरुप पगड़ी भी पहनायी गई।

शोदासोपचारा पूजा के दौरान 16 तरह की विशेष पूजाएं की जाती हैं, जिनमें से तांत्रिक मंत्रोंच्चार जानकी मंदिर आने वाले कुछ विशेष लोगों के लिए ही किए जाते हैं। इस पूजा में माता सीता का गुणगान किया जाता है। बता दें कि पीएम मोदी से पहले पूर्व राष्ट्रपति नीलम संजीवरेड्डी, ज्ञानी जैल सिंह और प्रणब मुखर्जी भी जानकी मंदिर जा चुके हैं। पीएम मोदी भारत के पहले प्रधानमंत्री हैं, जिन्होंने जानकी मंदिर की विशेष पूजा में भाग लिया है। वहीं पीएम मोदी का स्वागत करने के उद्देश्य से हजारों लोग मंदिर परिसर के बाहर मौजूद थे। मंदिर में पूजा अर्चना के बाद पीएम मोदी ने जनकपुर में एक जनसभा को भी संबोधित किया। पीएम मोदी और नेपाल के पीएम केपी शर्मा ओली संयुक्त रुप से रामायण सर्किट को लॉन्च करेंगे, जिससे भारत और नेपाल के बीच टूरिज्म सर्किट को बढ़ावा मिलेगा।

बता दें कि जनकपुर माता सीता के जन्मस्थान के रुप में जाना जाता है। साल 1910 में यहां जानकी मंदिर की स्थापना की गई थी। तीन मंजिला यह मंदिर मार्बल पत्थर से निर्मित है और 4860 स्कवायर फीट इलाके में फैला हुआ है। जानकी मंदिर नेपाल में श्रद्धा का प्रमुख स्थान है। बताया जाता है कि इस मंदिर का निर्माण भारत के टीकमगढ़ की महारानी वृषभानु कुमारी ने 9 लाख रुपए में कराया था। इसी कारण जानकी मंदिर को नौलखा मंदिर भी कहा जाता है। पीएम मोदी नेपाल के इस दौरे पर मुक्तिधाम मंदिर भी जाएंगे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App