ताज़ा खबर
 

पीएम नरेंद्र मोदी ने सांसदों को कराया नाश्‍ता, यूपी में की गई मेहनत के लिए की तारीफ, कहा- तबादले-पोस्टिंग से दूर रहें

यूपी की कुल 403 विधान सभा सीटों में से 312 पर भाजपा को और 13 पर उसके सहयोगी दलों को जीत मिली है। यूपी की 80 संसदीय सीटों में से 73 भाजपा गठबंधन के पास है।

भाजपा संसदीय दल की बैठक के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को तिरुपति बालाजी का प्रसाद देते हुए अनंत कुमार। (PTI Photo by Vijay Verma)

उत्तर प्रदेश में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) गठबंधन को कुल 403 सीटों में से 325 सीटों पर जीत मिलने का जश्न खत्म होता नहीं दिख रहा है। गुरुवार (23 मार्च) को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पार्टी सासंदों को चाय-नाश्ते पर बुलाया। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार पीएम मोदी ने सासंदों को उनके बेहतरीन प्रदर्शन के लिए शाबाशी दी साथ ही भविष्य में भी इस तरह पार्टी के लिए कड़ी मेहनत करते रहने के लिए कहा। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार पीएम मोदी ने भाजपा सांसदों से कहा कि वो अपने-अपने संसदीय क्षेत्रों में अच्छे काम करना जारी रखें और ट्रांसफर-पोस्टिंग से दूर रहें। साल 2014 में हुए लोक सभा चुनाव में उत्तर प्रदेश की कुल 80 सीटों में से 73 पर भाजपा एवं उसके सहयोगी दलों को जीत मिली थी।

यूपी में प्रचंड बहुमत हासिल करने के बाद सीएम बने गोरखपुर के सांसद योगी आदित्यन नाथ ने मंगलवार (21 मार्च) को नई दिल्ली में पीएम मोदी से मुलाकात की थी। मंगलवार को ससंद की कार्यवाही में शामिल हुए योगी ने अपने संबोधन में कहा कि पीएम मोदी ने उनका मार्गदर्शन किया है। योगी ने पीएम का गोरखपुर में अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) की मंजूरी देने के लिए भी आभार जताया।

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार करीब एक घंटे चली मुलाकात में पीएम मोदी ने योगी आदित्य नाथ को प्रदेश में कानून-व्यवस्था पर विशेष ध्यान रखने का सुझाव दिया। सीएम बनते ही आदित्य नाथ सभी जिला पुलिस मुख्यालयों को 12 सूत्रीय निर्देश भेजा। माना जा रहा है के ये निर्देश पीएम के सुझाव के मद्देनजर ही भेजे गए हैं। इन आदेश के तहत प्रदेश में हत्या, अपहरण, डकैती, छेड़खानी, बलात्कार, शराब तस्करी, गाय तस्करी, गोहत्या इत्यादि मामलों में सख्त रवैया अपनाने का निर्देश दिया गया है।

सीएम आदित्य नाथ पहले ही मनचलों से निपटने के लिए यूपी पुलिस का विशेष “एंटी-रोमियो स्क्वायड” बनवा चुके हैं जो अपना काम शुरू भी कर चुका है। योगी ने राज्य सचिवालय में गुटखा और पान-मसाला खाने पर भी पाबंदी लगा दी है। उन्होंने सभी अधिकारियों को फाइलों का 60 दिन में निपटारा करने का भी निर्देश दिया है।

बताया जा रहा है कि जल्द ही यूपी के सभी सरकारी दफ्तरों में सीसीटीवी कैमरे और हाजिरी के लिए बायोमेट्रिक सिस्टम लगाया जाएगा। पीएम मोदी केंद्रीय कार्यालयों की हाजिरी के लिए पहले ही ऐसी व्यवस्था कर चुके हैं। जाहिर योगी मोदी की राह पर चलकर उत्तर प्रदेश को “उत्तम प्रदेश” बनाना चाहते हैं।

 

वीडियो: योगी के CM बनते ही एक्शन में आया एंटी रोमियो स्कवैड; लेकिन कई जगह हुआ कानून का उल्लंघन

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App