ताज़ा खबर
 

मोदी के मंत्री का अजीबोगरीब बयान, राहुल गांधी को बताया ‘पूंछ का बाल’

अनंत हेगड़े के बाद एक और केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने आपत्तिजनक टिप्‍पणी की है।

Author नई दिल्‍ली | January 1, 2018 12:08 PM
केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर। (फाइल फोटो)

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपने मंत्रियों के बोलने पर लगाम नहीं लगा पा रहे हैं। इसी का नतीजा है कि एक के बाद एक केंद्रीय मंत्री बेतुके बयान दे रहे हैं। केंद्रीय कौशल विकास राज्‍यमंत्री अनंत कुमार हेगड़े के बयान पर मचा बवाल अभी थमा भी नहीं था कि मोदी के एक और मंत्री ने विवादास्‍पद बयान दे डाला है। ग्रामीण विकास मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने कांग्रेस अध्‍यक्ष राहुल गांधी को ‘पूंछ का बाल’ करार दिया है। साथ ही पीएम मोदी को ‘मूंछ का बाल’ बाताया है। केंद्रीय मंत्री ने एक जनसभा को संबोधित करते हुए यह बात कही है।

केंद्रीय मंत्री नरेंद्र तोमर एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए राहुल गांधी को लेकर विवादित बयान दिया है। उन्‍होंने गुजरात विधानसभा चुनाव का संदर्भ देते हुए यह टिप्‍पणी की है। केंद्रीय मंत्री ने कहा, ‘गुजरात का चुनाव आया। वहां भी दो-तीन लड़के थे। राहुल को लगा कि पहले दो से काम नहीं चला तो चलो अब तीन से समझौता कर लिया जाए। उनके साथ मिलकर हम चार हो जाएंगे और नरेंद्र मोदी को चुनौती दी जा सकेगी। लेकिन, आपलोग जानते हैं कि नरेंद्र मोदी और कांग्रेस के नेता में इतनी दूरी का अंतर है, जितना मूंछ के बाल और पूंछ के बाल में होता है।’ मालूम हो कि गुजरात विधानसभा चुनावों में राहुल गांधी ने हार्दिक पटेल, जिग्‍नेश मेवाणी और अल्‍पेश ठाकोर के साथ समझौता किया था। इसके बावजूद बीजेपी ने गुजरात चुनाव में जीत हासिल करने में सफलता हासिल की थी। हालांकि, भाजपा को दो दशकों में पहली बार सौ से कम सीटें आई थीं।

नरेंद्र मोदी के एक और मंत्री अनंत हेगड़े ने कर्नाटक में एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए धर्मनिरपेक्षता को लेकर आपत्तिजनक टिप्‍पणी की थी। उन्‍होंने कहा था कि वह जाति और धर्म के आधार पर पहचान बताने वालों का समर्थन करते हैं। केंद्रीय मंत्री यहीं रुके थे। उन्‍होंने आगे कहा था कि अगर जरूरी हुआ तो संविधान भी बदला जाएगा और वह इसी के लिए आए हैं। इसको लेकर उनकी कड़ी आलोचना शुरू हो गई थी। आखिरकार अनंत हेगड़े को लोकसभा में इसको लेकर माफी मांगनी पड़ी थी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App