ताज़ा खबर
 

PM Modi Mann Ki Baat: कोरोना टीका पर जब ‘मन की बात’ में बोला युवक- मन में डर है, जानें- PM ने कैसे समझाया?

PM Narendra Modi Mann Ki Baat News : मोदी ने कहा "कभी-ना-कभी ये विश्व के लिए केस स्टडी का विषय बनेगा कि भारत के गांव के लोगों, हमारे वनवासी-आदिवासी भाई-बहनों ने इस कोरोना काल में किस तरह अपने सामर्थ्य और सूझबूझ का परिचय दिया।"

कोलकाता के एक टीकाकरण केंद्र में कोविड -19 वैक्सीन की पहली खुराक लेने के बाद सेल्फी लेती एक युवती। (PTI Photo/Swapan Mahapatra)

PM Narendra Modi Mann Ki Baat:प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने मासिक रेडियो कार्यक्रम ‘मन की बात’ के 78वे एपिसोड में कई मुद्दों पर बात की। पीएम मोदी ने टोक्यो ओलंपिक पर चर्चा की शुरुआत की और महान धावक मिल्खा सिंह को श्रद्धांजलि दी। इसके बाद उन्होंने कोरोना टीकाकरण के प्रति लोगों को जागरूक किया। इस दौरान उन्होंने मध्य प्रदेश से राजेश नाम के व्यक्ति से बात की और उनसे टीके को लेकर कुछ सवाल पूछे।

पीएम ने राजेश से पूछा कि अपने टीका लगवाया? इसपर राजेश ने कहा “नहीं अभी नहीं लगा है, गांव में कुछ लोगों ने इसे लेकर भ्रम फैलाया है। इसके चलते टीका नहीं लगवा रहे हैं।” इसपर पीएम ने पूछा “आपको भी डर लगता है? डरना नहीं है। अफवाह पर बिलकुल ध्यान न दे, हमारे वैज्ञानिकों ने दिन रात मेहनत कर के यह वैक्सीन बनाई है। उनपर भरोसा कीजिये। मन से डर निकाल दें। भ्रमित मत हों। अफवाहों पर ध्यान न दें। मेरी मां लगभग 100 साल की है और दोनों खुराक ले चुकी हैं। भ्रम का जवाब यही है कि आपको खुद को टीका लगवाकर इस भ्रम को तोड़ें।”

पीएम ने कहा “कोरोना के खिलाफ हम देशवासियों की लड़ाई जारी है, 21 जून को वैक्सीन अभियान के अगले चरण की शुरुआत हुई और उसी दिन देश ने 86 लाख से ज़्यादा लोगों को मुफ्त वैक्सीन लगाने का रिकॉर्ड भी बना दिया..वो भी एक दिन में।” उन्होंने कहा “एक साल पहले सबके समाने सवाल था कि वैक्सीन कब आएगी? आज हम एक दिन में लाखों लोगों को मेड इन इंडिया वैक्सीन मुफ्त में लगा रहे हैं। यही तो नए भारत की नई ताकत है।”

मोदी ने कहा “कभी-ना-कभी ये विश्व के लिए केस स्टडी का विषय बनेगा कि भारत के गांव के लोगों, हमारे वनवासी-आदिवासी भाई-बहनों ने इस कोरोना काल में किस तरह अपने सामर्थ्य और सूझबूझ का परिचय दिया। गांव के लोगों ने क्वारंटीन सेंटर बनाए, स्थानीय जरूरतों को देखते हुए कोविड प्रोटोकॉल बनाए।”

पीएम ने मिल्खा सिंह को याद करते हुए कहा ” कुछ दिन पहले कोरोना ने प्रसिद्ध एथलीट मिल्खा सिंह को हमसे छीन लिया। जब वे अस्पताल में थे, तो मुझे उनसे बात करने का अवसर मिला था। बात करते हुए मैंने उनसे आग्रह ​किया था कि आपने तो 1964 में टोक्यो ओलंपिक में भारत का प्रतिनिधित्व किया था इसलिए इस बार जब हमारे खिलाड़ी ओलंपिक के लिए टोक्यो जा रहे हैं तो आपको हमारे एथलीट का मनोबल बढ़ाना है।

पीएम ने ओलंपिक जाने वाले भारतीय खिलाड़ियों पर चर्चा करते हुए कहा “टोक्यो जा रहे हर खिलाड़ी का अपना संघर्ष रहा है, बरसों की मेहनत रही है। वो सिर्फ अपने लिए ही नहीं जा रहे हैं बल्कि देश के लिए जा रहे हैं। इन खिलाडियों को भारत का गौरव भी बढ़ाना है और लोगों का दिल भी जीतना है।”

बता दें मन की बात राष्ट्र के लिए प्रधानमंत्री का मासिक रेडियो संबोधन है, जो हर महीने के अंतिम रविवार को प्रसारित होता है।यह कार्यक्रम आकाशवाणी और दूरदर्शन के पूरे नेटवर्क पर प्रसारित किया जाता है।

Next Stories
1 कांच की छत, तीन तरफ घूमने वाली कुर्सियां और GPS सिस्टम, पहली बार ट्रेन में इस्तेमाल हुए खास विस्टाडोम कोच, जानें कैसा रहा यात्रियों का अनुभव
2 दिल्ली के पास रहते हुए भी LG से खुद न मिलने पहुंचे टिकैत, युद्धवीर सिंह मिलने पहुंचे, पर न हो सकी मुलाकात
3 एके शर्मा हैं ‘अजातशत्रु’, 20 साल से मोदी के बेहद भरोसेमंद, निवेश लाने को कभी गए थे विदेश
ये पढ़ा क्या?
X