ताज़ा खबर
 

आज अपने घर भाजपा नेताओं को डिनर कराएंगे पीएम नरेंद्र मोदी, देंगे चुनाव पर टिप्स

पीएम मोदी का जोर केन्द्र सरकार की योजनाओं के लाभार्थियों तक पहुंचना और उनसे संवाद स्थापित करना है।

Author January 11, 2018 12:13 pm
बीजेपी संसदीय पार्टी की मीटिंग में पीएम नरेंद्र मोदी, बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह, गृह मंत्री राजनाथ सिंह, केन्द्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद (पीटीआई फाइल फोटो 12/28/2017)

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज शाम बीजेपी नेताओं को डिनर पर बुलाया है। दिल्ली में कड़ाके की सर्दी के बीच पीएम मोदी बीजेपी नेताओं के साथ देश के सियासी मूड पर चर्चा करेंगे, 2018 में कई राज्यों में होने वाले चुनाव के लिए बीजेपी नीतियां तय करेंगी, और इन नीतियों पर चलकर किस तरह विजय श्री हासिल की जाए पीएम मोदी इस पर टिप्स दे सकते हैं। 2018 में आठ राज्यों में विधानसभा चुनाव होने हैं। इन चुनावों का नतीजा 2019 लोकसभा चुनाव के लिए मूड और माहौल दोनों तय कर देगा। लिहाजा बीजेपी इन चुनावों को लेकर काफी गंभीर है। इन मुद्दों पर चर्चा के लिए पीएम मोदी ने बीजेपी के महासचिवों और संगठन सचिवों को अपने आधिकारिक आवास 7 लोक कल्याण मार्ग पर बुलाया है।माना जा रहा है कि पीएम मोदी राज्यों में पार्टी के काम-काज पर पदाधिकारियों पर चर्चा करेंगे। पीएम मोदी बीजेपी सरकार की अहम फ्लैगशिप योजनाओं के कार्यान्वयन और उनके प्रचार पर बात कर सकते हैं।

पीएम मोदी का जोर केन्द्र सरकार की योजनाओं के लाभार्थियों तक पहुंचना और उनसे संवाद स्थापित करना है। बता दें कि उज्ज्वला योजना, जन-धन योजना जैसे स्कीम को बीजेपी काफी कामयाब बताती है। बीजेपी चाहती है कि इन योजना के लाभार्थियों से आगामी चुनाव में वोट लिया जाए।2018 में कर्नाटक, मध्य प्रदेश, राजस्थान और छत्तीसगढ़ जैसे बड़े राज्यों में विधानसभा हैं। इनमें से कर्नाटक को छोड़ दें तो तीन राज्यों में बीजेपी की सरकार है। यहां पर जीत की रफ्तार को कायम रखना बीजेपी के लिए बड़ी चुनौती है। अगर बीजेपी यहां सरकार बना पाती है तो लोकसभा की राह पार्टी के लिए काफी आसान हो सकती है। इन चारों राज्यों में लोकसभा की 93 सीटें हैं। 2014 के लोकसभा चुनाव में बीजेपी ने यहां पर 79 सीटें जीतीं थीं।

पूर्वोत्तर के 4 राज्यों मेघालय, मिजोरम, त्रिपुरा और नगालैंड में भी इसी साल विधानसभा चुनाव होने हैं। हालांकि इन चारों राज्यों में विधानसभा की मात्र 6 सीटें हैं, लेकिन पूर्वोत्तर राज्यों में बीजेपी की आक्रामक नीति को देखकर लगता है पार्टी इन छोटे राज्यों में भी सरकार बनाने की लेकर गंभीर है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App