UP को मिला तीसरा अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा, मोदी बोले- इससे किसानों को भी होगा फायदा

बता दें कि यूपी के कुशीनगर अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट के निर्माण में 260 करोड़ रुपए की लागत आई है। आधुनिकता से लैस इस एयरपोर्ट पर चार बड़े हवाई जहाज एक साथ खड़े किए जा सकते हैं। 

modi, bjp,kushinagar
कुशीनगर में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी(फोटो सोर्स: ट्विटर/@BJP4India)।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार को उत्तर प्रदेश के कुशीनगर में 589 एकड़ में फैले अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा का उद्घाटन किया। उन्होंने इस मौके पर कहा कि, “कुशीनगर एयरपोर्ट बनने से किसानों को फायदा होगा। इसके अलावा पशुपालक, दुकानदार, श्रमिक सभी इससे सीधे तौर पर लाभ पा सकेंगे।” उन्होंने कहा कि, “व्यापार के साथ-साथ इस एयरपोर्ट के जरिए टूरिज्म को भी बढ़ावा मिलने जा रहा है, साथ ही युवाओं को रोजगार भी मिलेगा।”

अपने संबोधन की शुरुआत में पीएम मोदी ने कहा कि, भारत विश्व भर के बौद्ध समाज की श्रद्धा, आस्था और प्रेरणा का केंद्र है। आज कुशीनगर अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे की ये सुविधा एक प्रकार से उनकी श्रद्धा को अर्पित पुष्पांजलि है। बता दें कि उद्घाटन के दौरान उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, राज्यपाल आनंदीबेन पटेल और केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया और कुशीनगर सांसद विजय दुबे सहित जिले के विधायक मौजूद रहे।

गौरतलब है कि कुशीनगर इंटरनेशनल एयरपोर्ट के निर्माण में 260 करोड़ रुपए की लागत आई है। आधुनिक साज-सज्जा वाले इस एयरपोर्ट पर चार बड़े हवाई जहाज एक साथ खड़े किए जा सकते हैं। इसके अलावा नया टर्मिनल भीड़भाड़ वाले समय में 300 यात्रियों को आने-जाने की सुविधा देगा। वहीं लखनऊ और वाराणसी के बाद कुशीनगर में यूपी का यह तीसरा इंटरनेशनल एयरपोर्ट होगा।

कुशीनगर में पीएम मोदी ने कहा कि, अगले 3, 4 सालों में कोशिश रहेगी कि 200 से अधिक हेलीपैड, सी-प्लेन की सर्विस चालू किया जा सके। आज भारत के मध्यम वर्ग के लोग अधिक से अधिक हवाई सेवा का लाभ ले रहे हैं। लखनऊ, वाराणसी-कुशीनगर के बाद अब जेवर एयरपोर्ट पर भी तेजी से काम हो रहा है।

पीएम मोदी ने कहा कि, अयोध्या, चित्रकूट, श्रावस्ती में भी एयरपोर्ट का काम तेजी से चल रहा है। अगले कुछ हफ्ते में कुशीनगर को दिल्ली से सीधी उड़ान सेवा से जोड़ने का कार्य प्रारंभ हो जाएगा। इंफ्रास्ट्रक्चर, रेल, रोड सहित सभी का इंफ्रास्ट्रक्चर डेवलपमेंट का काम हो रहा है। टूरिज्म के क्षेत्र मे नया पहलू जुड़ गया है। वैक्सीनेशन की तेज गति भारत की टूरिज्म को बढ़ावा दे रहा है।

पीएम ने कहा कि, भगवान बुद्ध से जुड़े स्थानों को विकसित करने के लिए, बेहतर कनेक्टिविटी के लिए, श्रद्धालुओं की सुविधाओं के निर्माण पर भारत द्वारा आज विशेष ध्यान दिया जा रहा है। कुशीनगर का विकास, यूपी सरकार और केंद्र सरकार की प्राथमिकताओं में है।

कुशीनगर एयरपोर्ट के उद्घाटन से पहले पीएम मोदी ने अपने एक ट्वीट में कहा था, “20 अक्टूबर का दिन नागरिक उड्डन सेक्टर एवं हमारी बुनियादी संरचना के लिए एक अहम दिन होने जा रहा है। इस एयरपोर्ट से उत्तर प्रदेश एवं बिहार के लोग लाभान्वित होंगे।”

यहां के लिए होगी फ्लाइट: इस एयरपोर्ट से चीन, ताइवान, श्रीलंका, जापान, साउथ कोरिया, थाईलैंड, सिंगापुर और वियतनाम जैसे दक्षिण एशियाई देशों के लोग डायरेक्ट फ्लाइट ले सकेंगे। टूरिज्म के लिहाज से कुशीनगर एयरपोर्ट काफी महत्वपूर्ण होगा। यहां आने वाले यात्री लुम्बिनी, बोधगया, सारनाथ और कुशीनगर की यात्रा कर सकते हैं। इसके अलावा श्रावस्ती, कौशांबी, और वैशाली की यात्रा करने में भी लोगों को कम समय लगेगा।

पढें राष्ट्रीय समाचार (National News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट