ताज़ा खबर
 

बांग्लादेश में पीएम मोदी ने इंदिरा गांधी की तारीफ की, कहा- मैंने भी किया था सत्याग्रह

प्रधानमंत्री मोदी ने बांग्लादेश दौरे के दौरान कहा कि उन्होंने भी पहला आंदोलन बांग्लादेश की आजादी के लिए ही किया था। उन्होंने पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी को भी याद किया।

pm modi, bangladeshढाका में पीएम मोदी ने 1971 के युद्ध के जवानों को श्रद्धांजलि दी। फोटो- एपी

प्रधानमंत्री मोदी बांग्लादेश के दौरे पर हैं। ढाका में अपने संबोधन के दौरान उन्होंने न सिर्फ पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी की तारीफ की बल्कि यह भी बताया कि उन्होंने भी बांग्लादेश की आजादी के लिए सत्याग्रह किया था। उन्होंने कहा, ‘तब मैं 20 या 22 साल का रहा होऊंगा जब मैंने पहला आंदोलन किया था।’

प्रधानमंत्री ने कहा, ‘हम उन लोगों को नहीं भुला सकते जिन्होंने बांग्लादेश की आजादी के लिए अपनी जान दे दी। बंगबंधु मुजीबुर्रहमान एक आशा की किरण की तरह थे। उन्होंने यह सुनिश्चित किया कि कोई भी देश बांग्लादेश पर शासन नहीं कर सकता। 1971 के युद्ध में पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरागांधी की भूमिका को भुलाया नहीं जा सकता।’ साझा बयान जारी करते हुए बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना ने भी कहा कि भारत हमेशा उनके अच्छे और बुरे समय में साथ खड़ा रहा है।

पीएम मोदी ने कहा, ‘ये एक सुखद संयोग है कि बांग्लादेश के आजादी के 50 वर्ष और भारत की आजादी के 75 वर्ष का पड़ाव, एक साथ ही आया है। हम दोनों ही देशों के लिए, 21वीं सदी में अगले 25 वर्षों की यात्रा बहुत ही महत्वपूर्ण है। हमारी विरासत भी साझी है, हमारा विकास भी साझा है।’

उन्होंने कहा, ‘मेरी उम्र 20-22 साल रही होगी जब मैंने और मेरे कई साथियों ने बांग्लादेश के लोगों की आजादी के लिए सत्याग्रह किया था… बांग्लादेश की आजादी के लिए संघर्ष में शामिल होना, मेरे जीवन के भी पहले आंदोलनों में से एक था।’

प्रधानमंत्री मोदी ने आतंकवाद का मुद्दा उठाते हुए कहा कि दोनों देश मिलकर आतंक के खिलाफ लड़ाई लड़ेंगे। उन्होंने कहा, ‘ये एक सुखद संयोग है कि बांग्लादेश के आजादी के 50 वर्ष और भारत की आजादी के 75 वर्ष का पड़ाव, एक साथ ही आया है। हम दोनों ही देशों के लिए, 21वीं सदी में अगले 25 वर्षों की यात्रा बहुत ही महत्वपूर्ण है। हमारी विरासत भी साझी है, हमारा विकास भी साझा है।’ उन्होंने कहा, ‘मैं बांग्लादेश के 50 उद्यमियों को भारत आमंत्रित करना चाहता हूं। वे भारत आए हमारे स्टार्टअप से जुड़ें। हम भी उनसे सीखेंगे, उन्हें भी हमसे सीखने का अवसर मिलेगा।’

Next Stories
1 शानदार रहा है मुख्तार अंसारी का परिवार, नाना थे ब्रिगेडियर, जुर्म की दुनिया में कैसे मशहूर हुआ बाहुबली
2 जब लालू यादव से मुलायम की बात करने लगे एंकर, बोले- फालतू की बात न करो, इस टीवी को मैंने बनाया
3 परिवार के साथ मार दिए गए थे बांग्लादेश के पहले राष्ट्रपति, इस वजह से बच गईं शेख हसीना
क्लब हाउस चैट लीक:
X