ताज़ा खबर
 

‘मोदीगेट’ मुद्दा: नरेंद्र मोदी और अरुण जेटली की ‘चुप्पी’ पर दिग्गी ने दागे सवाल

‘मोदीगेट’ मामले को लेकर सरकार पर हमला जारी रखते हुए कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह ने आज इस मुद्दे पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और वित्त मंत्री अरुण जेटली की चुप्पी पर सवाल खड़ा किया...

Author June 16, 2015 5:53 PM
दिग्विजय सिंह ने पूछा, इस देश में ललित मोदी की स्थिति क्या है। अरुण जेटली चुप क्यों हैं। आस्तीन का सांप कौन है।’’

‘मोदीगेट’ मामले को लेकर सरकार पर हमला जारी रखते हुए कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह ने आज इस मुद्दे पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और वित्त मंत्री अरुण जेटली की चुप्पी पर सवाल खड़ा किया।

कांग्रेस नेता ने सत्तारूढ भाजपा सांसद कीर्ति आजाद द्वारा अपने एक ट्वीट में ‘‘आस्तीन का सांप’’ संबंधी टिप्पणी के संदर्भ का भी खुलासा करने की मांग की जो कि विदेश मंत्री सुषमा स्वराज द्वारा आईपीएल के पूर्व प्रमुख ललित मोदी की मदद को लेकर उठे विवाद के बीच की गई है।

कांग्रेस नेता ने दावा किया कि सरकार ललित मोदी को पहुंचायी गई मदद को यह कह कर उचित ठहरा रही है कि यह मानवीयता के आधार पर दी गई है। लेकिन साथ ही कहा कि यह पूरी तरह से शासन से जुड़ा मुद्दा है जिसमें मंत्री जनता के प्रति जिम्मेदार होता है।

सिंह ने कहा, ‘‘मैं प्रधानमंत्री से पूछना चाहता हूं, मैं वित्त मंत्री से पूछना चाहता हूं वे चुप्पी क्यों साधे हुए हैं। हम यह जानना चाहते हैं कि क्या ललित मोदी कर से बच रहे हैं। वह भारत क्यों नहीं आ रहे। उनके खिलाफ क्या कोई ब्ल्यू या रेड कॉर्नर नोटिस है। क्या वह फरार हैं। क्या वह भगोड़ा हैं।’’

कांग्रेस नेता ने कहा कि उनका सुषमा के प्रति गहरा सम्मान है लेकिन जब मामला राष्ट्र का आता है तो एक मंत्री जो निर्णय करता है उसके लिए वह जनता के प्रति उत्तरदायी होता है। सिंह ने कहा, ‘’इसलिए, हम यह चाहेंगे कि प्रधानमंत्री और वित्त मंत्री इस मामले में स्थिति स्पष्ट करें। हम यह जानना चाहेंगे कि इस देश में ललित मोदी की स्थिति क्या है। अरुण जेटली चुप क्यों हैं। आस्तीन का सांप कौन है।’’

बिहार से भाजपा के सांसद कीर्ति आजाद ने कल ट्विटर पर अपनी एक टिप्पणी में ‘आस्तीन का सांप’ की चर्चा कर खलबली मचा दी थी। साथ ही उन्होंने यह भी दावा किया कि सुषमा को निशाना बनाने के लिए पार्टी के एक इनसाइडर और एक मीडिया हस्ती का षडयंत्र है।

इस बीच केन्द्रीय पर्यावरण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने आज कहा कि सुषमा स्वराज द्वारा स्पष्टीकरण दिये जाने के बाद मामला समाप्त हो जाता है। कांग्रेस द्वारा भाजपा नेताओं के साथ ललित मोदी की तस्वीर दिखाये जाने का उललेख करते हुए जावड़ेकर ने कहा कि ये काफी पुरानी तस्वीर है और 2010 की है और विपक्षी दल की इस कार्रवाई से लगता है कि उसके पास मुद्दे बाकी नहीं बचे हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App