ताज़ा खबर
 

पीएम मोदी की पाकिस्‍तान को चुनौती- हिम्‍मत है तो गरीबी, बेरोजगारी लड़ो, देखो कौन जीतता है

मोदी ने कहा कि पकिस्तान की जनता को अपने नेताओं से पूछना चाहिए कि एक साथ आजादी प्राप्त करने के बाद भी क्या कारण है कि भारत साफ्टवेयर का निर्यात कर रहा है और पाकिस्तान आतंकवाद का निर्यात कर रहा है

PM narendra modi, kojhikode, kerala, uri attack, pakistan, india, indian army, india pakistanप्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी केरल में रैली को संबोधित करते हुए। (Photo:PTI)

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने केरल के कोझिकोड में रैली में पाकिस्‍तान को युद्ध के लिए ललकारा। उन्‍होंने गरीबी, बेरोजगारी और अशिक्षा को दूर करने के लिए लड़ाई लड़ने की चुनौती दी। मोदी ने कहा, ”मैं इस चुनौती को स्वीकार करता हूं। मैं बताना चाहता हूं कि भारत, पाकिस्तान के साथ लड़ना चाहता है। अगर आपमें साहस है तब क्यों नहीं गरीबी, बेरोजगारी, अशिक्षा को समाप्त करने के लिए लड़ते हैं। तब देखें कि कौन सा देश जीतता है… भारत या पाकिस्तान।” पड़ोसी देश पर करारा प्रहार करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि पड़ोसी देश के नेता यह कहते रहते हैं कि वे भारत के साथ 1000 वर्षो तक युद्ध करेंगे, वे कहां हैं। उन्‍होंने साथ ही साफ किया कि उरी में शहीद हुए 18 जवानों को भूला नहीं जाएगा।

मोदी ने कहा कि पकिस्तान की जनता को अपने नेताओं से पूछना चाहिए कि एक साथ आजादी प्राप्त करने के बाद भी क्या कारण है कि भारत साफ्टवेयर का निर्यात कर रहा है और पाकिस्तान आतंकवाद का निर्यात कर रहा है। मोदी ने कहा कि सरकार गरीबी को समाप्त कर भारत को समृद्ध बनाने के जन संघ के संस्थापक दीन दयाल उपाध्याय की सोच को आगे बढ़ायेगी जिनका जन्मशती समारोह कल है। पीएम ने कहा कि पाकिस्‍तान के हुक्‍मरान आतंकियों के लिखे भाषण पढ़ते हैं। प्रधानमंत्री ने कहा कि भारत आतंकवाद के समक्ष कभी नहीं झुका है और भविष्य में भी नहीं झुकेगा तथा इसे परास्त करने के लिए प्रयासरत रहेगा।

PM Modi: पाकिस्‍तान के हुक्‍मरान सुन लें, हमारे 18 जवानों का बलिदान बेकार नहीं जाएगा

उन्‍होंने कहा कि पाकिस्‍तान को पूरी दुनिया में अलग-थलग करने में भारत सफल रहा है। पूरी दुनिया में उसे अकेला कर दिया गया है। उन्‍होंने कहा कि पिछले कुछ महीनों में 17 बार पाकिस्‍तान की ओर से आतंक भेजा गया। सुरक्षाबलों ने 110 आतंकियों को मार गिराया है। गौरतलब है कि उरी हमले में 18 जवान शहीद हुए थे। इस हमले के बाद से देश में पाकिस्‍तान पर हमले की मांग बुलंद की जा रही है। पीएम ने शनिवार को केरल आने से पहले भी तीनों सेनाओं के प्रमुखों से मुलाकात की थी।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 पाकिस्तानी नेता आतंकियों की इबारत को पढ़ते हैं, कश्मीर राग अलापते रहते हैं: नरेंद्र मोदी
2 पाकिस्तान को आतंकी देश घोषित कराने के लिए RS सांसद ने प्रस्तावित किया प्राइवेट बिल
3 पीएम मोदी बोले- 18 जवानों का बलिदान बेकार नहीं जाएगा, हिेंदुस्‍तान जंग को तैयार है
ये पढ़ा क्या?
X