ताज़ा खबर
 

पीएम के जन्‍मदिन के लिए हफ्ते भर से बच्‍चों को दी जा रही थी ट्रेनिंग, बोला गया- ‘काका मोदी’ कहना

देश के पहले प्रधानमंत्री पंडित जवाहर लाल नेहरू भी बच्चों के बीच खासा लोकप्रिय थे। बच्चे प्यार से उन्हें चाचा नेहरू कह कर बुलाया करते थे।

वाराणसी स्थित नारौर के प्राथमिक स्कूल में सोमवार को बच्चों से बात करते हुए पीएम मोदी। (फोटोः पीटीआई)

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के जन्मदिन के लिए हफ्ते भर से बच्चों को खास तौर पर ट्रेनिंग दी जा रही थी। बच्चों को उस दौरान बोला गया कि पीएम से मिलने पर वे उन्हें ‘काका मोदी’ कह कर पुकारें। आपको बता दें कि सोमवार (17 सितंबर) को पीएम मोदी 68 वर्ष के हो गए। वह इस खास मौके पर अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी पहुंचे थे, जहां उन्होंने बच्चों के साथ वक्त बिताया और जन्मदिन मनाया। नारौर प्राथमिक स्कूल में तकरीबन 200 बच्चों ने उन्होंने उस दौरान काका मोदी कहकर जन्मदिन की शुभकामनाएं दीं।

नाम न बताने की शर्त पर ‘टेलीग्राफ’ को उन्हीं बच्चों में से एक के पिता ने बताया, “स्कूल में हफ्ते भर से कुछ लोग आ रहे थे। वे बच्चों को अच्छी आदतों के साथ यह बताने आए थे कि पीएम का किस प्रकार से स्वागत करना है। उन्हीं लोगों ने बच्चों से पीएम को काका मोदी कहकर बुलाने के लिए कहा था।” काका का मतलब चाचा होता है।

पांचवीं कक्षा के छात्र अमित गुप्ता ने अखबार से कहा, “मोदी काका हमारे स्कूल आए थे। मैं बहुत खुश हूं। उन्होंने कहा- अगर तुम खेलोगे, तो तुम खिलोगे।” जिस दौरान पीएम बच्चों से मिलने आए थे, उस वक्त छात्र-छात्राओं के पास कुछ तख्तियां और पोस्टर भी थे। उन पर लिखा था- हैपी बर्थडे मोदी जी।

पीएम मोदी इस सराकारी स्कूल में तकरीबन एक घंटा रुके थे। उस दौरान वह शिक्षकों से भी मिले। वह उसके बाद डीजल लोकोमोटिव वर्क्स गेस्ट हाउस पहुंचे। वहां उनकी मुलाकात काशी विद्यापीठ के 68 विद्यार्थियों और उनके शिक्षकों से हुई थी।

गौरतलब है कि देश के पहले प्रधानमंत्री पंडित जवाहर लाल नेहरू भी बच्चों के बीच खासा लोकप्रिय थे। बच्चे प्यार से उन्हें चाचा नेहरू कह कर बुलाया करते थे। यही कारण है कि हर साल उनके सम्मान में 14 नवंबर को बाल दिवस मनाया जाता है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App