ताज़ा खबर
 

सांसदों को नरेंद्र मोदी की चेतावनी- संसद में रहा कीजिए और 5 तारीख को बिना गलती के वोट डालिए

एक बीजेपी नेता ने बताया, "सांसदों से राष्ट्रवाद की भावना को जगाए रखने के लिए नए विचार सुझाने के लिए भी कहा गया।"

Author July 26, 2017 10:35 AM
भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (फाइल फोटो)

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार (25 जुलाई) को भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के सासंदों के संग सामूहिक लंच में रामनाथ कोविंद के राष्ट्रपति बनने को पार्टी की यात्रा में “मील का पत्थर” बताया। कोविंद के राष्ट्रपति पद की शपथ लेने से पहले हुई बीजेपी संसदीय दल की बैठक में पीएम मोदी ने कहा, “श्यामा प्रसाद मुखर्जी द्वारा शुरू की गई यात्रा और जिसमें लाखों ने लोगों ने बलिदाय दिया, वो आज राष्ट्रपति के शपथ लेते ही एक महत्वपूर्ण मकाम तक पहुंच जाएगी।” श्यामा प्रसाद मुखर्जी ने भारतीय जनसंघ की स्थापना की थी जिसे भारतीय जनता पार्टी पूर्व अवतार माना जाता है। पीएम मोदी ने सांसदों को 14 अगस्त से 22 अगस्त तक देश में निकाली गई तिरंगा यात्रा की सफलता की भी याद दिलाई। पीएम मोदी ने भारत छोड़ो आंदोलन की वर्षगांठ पर नौ अगस्त से 15 अगस्त तक ऐसी ही यात्रा निकालने का आह्वान किया।

रामनाथ कोविंद राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) या बीजेपी से सीधे तौर पर जुड़े हुए पहले शख्स हैं जो देश के सर्वोच्च संवैधानिक पद तक पहुंचा है। सांसदों से स्वतंत्रता दिवस (15 अगस्त) से 15 दिवसीय संकल्प यात्रा निकालने का भी आह्वान किया गया। पीएम मोदी ने कहा कि साल 2022 तक देश के हर हिस्से में बेहतर जीवन सुनिश्चित करने के लिए ऐसा करें। 2022 में भारत अपनी आजादी की 75वीं वर्षगांठ मनाएगा। एक बीजेपी नेता ने बताया, “सांसदों से राष्ट्रवाद की भावना को जगाए रखने के लिए नए विचार सुझाने के लिए भी कहा गया।” संसदीय कार्यमंत्री अनंत कुमार ने पत्रकारों को बताया कि बीजेपी सांसदों से गरीबों का कल्याण, सामाजिक सद्भाव का प्रचार और सुशासन पर अमल के लिए भी कहा गया।

पीएम मोदी ने पार्टी सांसदों से पांच अगस्त को होने वाले उप-राष्ट्रपति चुनाव में भी उपस्थिति सुनिश्चित कराने के लिए कहा। पीएम मोदी ने सांसदों को सावधान किया कि गलत तरीके से वोट देने से उनके मत अवैध हो सकते हैं। पीएम मोदी ने दोनों सदनों के सांसदों से कहा कि सदन की कार्रवाई में मौजूद रहा करें। सोमवार (24 जुलाई) को लोक सभा में हंगामे को पीएम मोदी ने “विपक्ष का शर्मनाक कृत्य” बताया। हंगामे के बाद के बाद कांग्रेस के छह सांसदों को पांच दिनों के लिए निलंबित कर दिया गया।

बीजेपी सांसदों की बैठक में वित्त मंत्री अरुण जेटली ने वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) के बारे में “फैलाई जा रही गलत खबरों” के प्रति चिंता जताई। जेटली ने कहा कि उनके मंत्रालय के अधिकारी संसद के मॉनसून सत्र में हर दिन मौजूद रहेंगे। जेटली ने सांसदों से कहा कि अगर उन्हें जीएसटी पर किसी तरह का स्पष्टीकरण चाहिए हो वो उनसे संपर्क कर सकते हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App