ताज़ा खबर
 

PM Modi Speech HIGHLIGHTS: ‘कोरोना पर मोदी सरकार निकम्मी और नकारा साबित हुई’ पीएम के राष्ट्र के नाम संदेश पर कांग्रेस का हमला

कांग्रेस ने कहा कि 24 मार्च, 2020 को मोदी ने कहा था कि महाभारत का युद्ध 18 दिन चला था और कोरोना से युद्ध जीतने में 21 दिन लगेंगे। लेकिन 210 दिन बाद भी समूचे देश में ‘कोरोना महामारी की महाभारत’ छिड़ी है,

PM Modi Speech, bihar electionप्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी। (पीटीआई)

PM Narendra Modi Speech, PM Modi address to nationHIGHLIGHTS: कांग्रेस ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के राष्ट्र के नाम संबोधन के बाद मंगलवार को केंद्र सरकार पर कोरोना वायरस संकट से निपटने में नाकाम रहने का आरोप लगाया और कहा कि देश अब ‘कोरा संबोधन’ नहीं, बल्कि ठोस समाधान चाहता है। पार्टी महासचिव रणदीप सुरजेवाला और प्रवक्ता पवन खेड़ा ने एक बयान जारी कर कहा, ‘24 मार्च, 2020 को मोदी जी ने कहा था कि महाभारत का युद्ध 18 दिन चला था और कोरोना से युद्ध जीतने में 21 दिन लगेंगे। लेकिन 210 दिन बाद भी समूचे देश में ‘कोरोना महामारी की महाभारत’ छिड़ी है, लोग मर रहे हैं, पर मोदी जी ‘समाधान की बजाय’ टेलीविजन पर कोरे संबोधन से काम चला रहे हैं।’

उन्होंने आरोप लगाया, ‘कोरोना से लड़ाई में मोदी सरकार पूरी तरह निकम्मी व नाकारा साबित हुई है। महामारी की विभीषिका में भाजपा ने देश के लोगों को अपने हाल पर बेहाल छोड़ दिया है।’ कांग्रेस नेताओं ने कहा, ‘भारत आज दुनिया का ‘कोरोना कैपिटल’ बन गया है। 19 अक्टूबर, 2020 को जारी आंकड़ों के मुताबिक कोरोना महामारी के संक्रमण में भारत अब दुनिया में पहले स्थान पर है।’

उन्होंने कोरोना वायरस से संबंधित कई आंकड़े पेश करते हुए दावा किया, ‘100 दिन में भारत में कोरोना संक्रमण एक लाख से बढ़कर 75 लाख हो गया। यह घोर नाकामी व निकम्मेपन’ को बयां करती है।’ सुरजेवाला और खेड़ा ने कहा, ‘मोदी जी ने राष्ट्र के नाम संबोधन में कहा कि दवा आने तक कोरोना खत्म होने की कोई उम्मीद नहीं। समझ नहीं आता कि कितनी बार एक-दूसरे के विरोधाभासी झूठ बोलकर देश को बरगलाएंगे। देश अब कोरा संबोधन नहीं, बल्कि ठोस समाधान चाहता है।’

बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार शाम छह बजे राष्ट्र के नाम संदेश दिया। प्रधानमंत्री ने अपने संबोधन पर सिर्फ कोरोना संक्रमण पर बात रखी। मोदी ने कहा कि कोरोना के खिलाफ लड़ाई में जनता कर्फ्यू से लेकर मौजूदा समय तक सभी भारतवासियों ने बहुत लंबा सफर तय किया है। अब आर्थिक गतिविधियों में भी तेजी नजर आ रही है। लोग फिर से घरों से बाहर निकल रहे हैं। बाजारों में रौनक धीरे-धीरे लौट रही है। मोदी ने कहा कि लोगों को याद रखना है कि लॉकडाउन चला गया मगर वायरस अभी नहीं गया है। भारतीयों के प्रयास से देश आज संभली हुई स्थिति में है। इसे अब बिगड़ने नहीं देना है और इसे और सुधारना है।

मोदी ने कोरोना पर कहा कि देश में रिकवरी रेट अच्छा है। भारत में प्रति दस लाख की आबादी में करीब 5500 लोगों को कोरोना हुआ है वहीं अमेरिका और ब्राजील जैसे देशों में यह आकंड़ा 25 हजार के करीब है। भारत में प्रति 10 लाख लोगों में मृत्यु दर 83 है जबकि अमेरिका ब्राजील स्पेन और ब्रिटेन जैसे अनेक देशों में यह आंकड़ा 600 के पार है। मोदी ने कहा कि दुनिया के साधन संपन्न देशों की तुलना में भारत अपने ज्यादा से ज्यादा नागरिकों का जीवन बचाने में सफल हो रहा है। आज हमारे देशो में कोरोना मरीजों के लिए 90 लाख से ज्यादा बेड की सुविधा है। 12,000 से ज्यादा क्वारंटाइन सेंटर हैं, 2,000 से अधिक लैब काम कर रही हैं। जिसमें टेस्ट की संख्या 10 करोड़ के आंकड़े को पार कर जाएगी।।

मोदी ने कहा कि सेवा परमो धरम के मंत्र पर चलते हुए हमारे डॉक्टर, नर्स और हेल्थ वर्कस इतनी बड़ी आबादी की निस्वार्थ सेवा कर रहे हैं। इन सभी के बीच यह समय लापरवाह होने का नहीं है। हाल के दिनों में हम सबने बहुत सी तस्वीरें, वीडियो देखे हैं जिसमें साफ दिखता है कि कई लोगों ने सावधानी बरतना बंद कर दिया है या ढिलाई कर रहे हैं। यह बिल्कुल ठीक नहीं है। अगर आप लापरवाही बरत रहे हैं, बिना मास्क के बाहर निकल रहे हैं तो आप अपने आपको अपने परिवार को, अपने परिवार के बच्चों को बुजुर्गों को उतने ही बड़े संकट में डाल रहे हैं। आप ध्यान रखिए आज अमेरिका हो या यूरोप के दूसरे देश हों, यहां कोरोना के मामले घटने लगे थे लेकिन अचानक बढ़ने लगे हैं।

मोदी ने संत कबीर दास का जिक्र करते हुए कहा कि जब तक पकी फसल घर ना आए तब तक काम पूरा नहीं मानना चाहिए। यानि जब तक सफलता पूरी नहीं मिल जाए तब तक लापरवाही नहीं करनी चाहिए। जब तक वैक्सीन नहीं आ जाती हमें कोरोना के खिलाफ अपनी लड़ाई को रत्ती भर भी कमजोर नहीं पड़ने देना है। वर्षों बाद हम ऐसा देख रहे हैं कि मानवता को बचाने के लिए युद्ध स्तर पर काम हो रहा है। हमारे देश के वैज्ञानिक भी जुटे हुए हैं। हमारे देश में भी कोरोना की वैक्सीन पर कई स्तर पर काम हो रहा है। पीएम ने अपने संबोधन के आखिर में नवरात्रे, दशहरा, ईद, दिवाली, छठ पूजा, गुरु नानक जयंती सहित सभी त्योहारों की शुभकामनाएं दीं।

यहां देखिए वीडियो-

 

Live Blog

Highlights

    06:21 (IST)21 Oct 2020
    पीएम मोदी की अपील, अपने और अपनों के लिए करें सामाजिक दूरी का पालन

    प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राष्ट्र के नाम संबोधन में लोगों से अपील की कि वे अपने लिए, अपनों के लिए, अपने समाज और देश के लिए सरकारी गाइडलाइंस का पालन करें। कोरोना की महामारी से बचने के लिए मास्क लगाए रखें और दो गज की दूरी के नियम का पालन करें।

    05:32 (IST)21 Oct 2020
    पीएम मोदी ने कहा कि बीमारी की चुनौती से लड़ने में हम सफल रहेंगे

    पीएम मोदी ने राष्ट्र के नाम संबोधन में कहा कि बीमारी एक चुनौती की तरह है। देशवासी इस चुनौती से मजबूती से लड़ाई लड़ रहे हैं। हम इस लड़ाई में सफल होंगे। हमें इसमें संदेह नहीं है।

    03:24 (IST)21 Oct 2020
    हर नागरिक तक वैक्सीन पहुंचाने के लिए सरकार कृतसंकल्‍प

    मानवता को बचाने के लिए पूरी दुनिया में काम हो रहा है। कोरोना को लेकर अपने स्‍तर पर प्रत्‍येक देश काम कर रहे हैं और हमारे देश के वैज्ञानिक भी इसमें जुटे हैं। भारत में भी कई वैक्सीन पर काम चल रहा है। कोरोना की वैक्सीन जब भी आएगी, वो जल्द से जल्द हर नागरिक तक कैसे पहुंचे, इसके लिए सरकार की तैयारी जारी है।

    03:16 (IST)21 Oct 2020
    अमीर देशों की तुलना में हमने अधिक जानें बचाई

    आज देश में फैटेलिटी रेट कम है, रिकवरी रेट ज्यादा है। अमेरिका व ब्राजील जैसे देशों में 10 लाख लोगों में संक्रमितों का आंकड़ा 25 हजार के आस पास है। भारत में 10 लाख लोगों में मृत्यु दर 83 है। अमेरिका, ब्राजील, ब्रिटेन जैसे देशों में ये आंकड़ा 600 के पार है। साधन संपन्न देशों की तुलना में भारत अपने ज्यादा से ज्यादा नागरिकों की जान बचाने में सफल रहा है।

    03:11 (IST)21 Oct 2020
    आर्थिक गतिविधियों में अब धीरे-धीरे तेजी आ रही

    कोरोना के विरु्द्धद्ध  लड़ाई में जनता कर्फ्यू से लेकर आज तक हम सभी देशवासियोंं ने बहुत लंबा सफर तय किया है। समय के साथ आर्थिक गतिविधियों में भी धीरे-धीरे तेजी आ रही है। हममें से अधिकांश लोग अपनी जिम्मेदारियों को निभाने के लिए फिर से जीवन को गति देने के लिए रोज घरों से बाहर निकल रहे हैं। त्योहारों के इस मौसम में बाजारों में भी रौनक धीरे-धीरे लौट रही है।

    21:58 (IST)20 Oct 2020
    प्रधानमंत्री का कोरोना पर संदेश महत्वपूर्ण, महामारी नियंत्रित होने से आएगी आर्थिक तेजी: उद्योग

    उद्योग जगत ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कोविड-19 को लेकर एहतियात बरतने के संदेश को हर देशवासियों के लिये महत्वपूर्ण बताया। उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस को नियंत्रित कर अर्थव्यवस्था में जोरदार तेजी लायी जा सकती है। प्रधानमंत्री ने मंगलवार को रार्ष्ट्र के नाम अपने संबोधन में देशवासियों को कोरोना वायरस संक्रमण के अब भी मंडरा रहे खतरे के प्रति आगाह करते कहा कि यह समय लापरवाह होने का नहीं है क्योंकि कोरोना वायरस अभी भी बना हुआ है तथा छोटी सी लापरवाही से भी त्योहारों की खुशियां धूमिल हो सकती है। कोविड-19 महामारी के बाद अपने सातवें राष्ट्र के नाम संबोधन में उन्होंने कहा कि लॉकडाउन भले खत्म हो गया है लेकिन कोरोना वायरस खत्म नहीं हुआ है। प्रधानमंत्री ने हाल के दिनों में विभिन्न माध्यमों से आई तस्वीरों और कुछ वीडियो का जिक्र करते हुए कहा कि कई लोगों ने अब सावधानी बरतना बंद कर दिया है।

    21:02 (IST)20 Oct 2020
    टीका कब आएगा, नरेंद्र मोदी ने नहीं बताया- गौरव वल्लभ बोले तो एंकर ने पूछा- आपको पता है क्या?

    कांग्रेस प्रवक्ता गौरव वल्लभ ने राष्ट्र के नाम प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संबोधन पर निशाना साधा है। उन्होंने कहा कि संबोधन में पीएम मोदी ने ये नहीं बताया कि टीका कब आएगा। कांग्रेस प्रवक्ता ने टीवी चैनल आजतक के डिबेट शो 'हल्ला बोल' में ये बात कही। हालांकि उनके इस सवाल पर एंकर ने पूछा लिया कि वो ही बता दें कि वैक्सीन कब आएगी। दरअसल डिबेट का संचालन कर रहे रोहित सरदाता ने उनपर तंज कसते हुए पूछा था कि राहुल गांधी चीन की तारीख पूछ रहे थे मगर पीएम ने सिर्फ कोरोना पर बात की। क्लिक कर पढ़ें पूरी खबर

    19:53 (IST)20 Oct 2020
    मोदी के संबोधन से दस मिनट पहले बोले थे राहुल गांधी- चीन पर भी बोलिए, पर 12 मिनट के संबोधन में सिर्फ कोरोना पर बोले पीएम

    प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार शाम छह बजे राष्ट्र के नाम संदेश दिया। करीब 12 मिनट के संबोधन में उन्होंने भारत में कोरोना वायरस महामारी की स्थिति का उल्लेख किया। इधर पीएम के राष्ट्र के नाम संबोधन से ठीक दस मिनट पहले कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने ट्वीट कर नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा। उन्होंने मंगलवार शाम 5:50 बजे ट्वीट कर कहा था कि प्रिय पीएम 6 बजे के अपने संदेश में कृपया राष्ट्र को वो तारीख बताएं जब आप चीन को भारत भूमि से बाहर निकाल फेंकेंगे। राहुल गांधी ने इससे पहले कहा कि मैं प्रधानमंत्री से सुनना चाहूंगा कि चीन, भारतीय क्षेत्र को कब छोड़ेगा लेकिन मैं आपको इस बात की गारंटी देता हूं कि प्रधानमंत्री में ये बताने की हिम्मत नहीं होगी, प्रधानमंत्री चीन के बारे में एक शब्द नहीं बोलेंगे।'

    19:31 (IST)20 Oct 2020
    कोरोना पर पीएम का भाषण: टीका कब आएगा, इस पर कुछ नहीं बोले नरेंद्र मोदी; कबीर, राम चरित मानस और अमेरिका-ब्रिटेन के उदाहरण से समझाई गंभीरता

    प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार शाम छह बजे राष्ट्र के नाम अपने संदेश में देशवासियों को कोरोना वायरस महामारी की गंभीरता समझाई। उन्होंने कहा कि हाल के दिनों में हम सबने बहुत सी तस्वीरें, वीडियो देखे हैं जिसमें साफ दिखता है कि कई लोगों ने सावधानी बरतना बंद कर दिया है या ढिलाई कर रहे हैं। यह बिल्कुल ठीक नहीं है। क्लिक कर पढ़ें पूरी खबर

    18:49 (IST)20 Oct 2020
    पीएम मोदी का राष्ट्र के नाम संबोधन, कोरोना से की अपने भाषण की शुरुआत

    प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राष्ट्र के नाम अपने संबोधन में मंगलवार को कहा कि कोरोना के खिलाफ लड़ाई में जनता ने बहुत बड़ा सफर तय किया है। उन्होंने कहा कि आर्थिक गतिविधियां भी पटरी आ रही है। लोग अब अपने घरों से बाहर निकल रहे हैं। बाजारों में रौनक लौट रही है। मोदी ने जनता को हिदायत देते हुए कहा कि लॉकडाउन खत्म हो गया मगर वायरस खत्म नहीं हुआ है। उन्होंने कहा कि भारतीयों के सामूहिक प्रयास से भारत आज संभली हुई स्थिति में है और हमें इसे बिगड़ने नहीं देना है। मोदी ने कोरोना पर कहा कि भारत में रिकवरी रेट बहुत अच्छा है। देश में दस लाख की आबादी में सिर्फ साढ़े पांच हजार लोगों को कोरोना हुआ है मगर अमेरिका और ब्राजील जैसे देशों में ये आंकड़ा पच्चीस हजार के करीब है।।

    18:11 (IST)20 Oct 2020
    वैक्सीन से पहले कोरोना के खिलाफ लड़ाई कमजोर ना पड़ने दें: मोदी

    संत कबीर दास का जिक्र करते हुए कहा कि जब तक पकी फसल घर ना आए तब तक काम पूरा नहीं मानना चाहिए। यानि जब तक सफलता पूरी नहीं मिल जाए तब तक लापरवाही नहीं करनी चाहिए। जब तक वैक्सीन नहीं आ जाती हमें कोरोना के खिलाफ अपनी लड़ाई को रत्ती भर भी कमजोर नहीं पड़ने देना है। वर्षों बाद हम ऐसा देख रहे हैं कि मानवता को बचाने के लिए युद्ध स्तर परकाम हो रहा है। हमारे देश के वैज्ञानिक भी जुटे हुए हैं। हमारे देश में भी कोरोना की वैक्सीन पर कई स्तर पर काम हो रहा है।

    18:10 (IST)20 Oct 2020
    कोरोना में लोगों ने सावधानी बतना बंद कर दिया: मोदी

    मोदी ने कहा कि सेवा परमो धरम के मंत्र पर चलते हुए हमारे डॉक्टर, नर्स और हेल्थ वर्कस इतनी बड़ी आबादी की निस्वार्थ सेवा कर रहे हैं। इन सभी के बीच यह समय लापरवाह होने का नहीं है। हाल के दिनों में हम सबने बहुत सी तस्वीरें, वीडियो देखे हैं जिसमें साफ दिखता है कि कई लोगों ने सावधानी बरतना बंद कर दिया है या ढिलाई कर रहे हैं। यह बिल्कुल ठीक नहीं है। अगर आप लापरवाही बरत रहे हैं बिना मास्क के बाहर निकल रहे हैं तो आप अपने आपको अपने परिवार को, अपने परिवार के बच्चों को बुजुर्गों को उतने ही बड़े संकट में डाल रहे हैं। आप ध्यान रखिए आज अमेरिका हो या यूरोप के दूसरे देश हों, यहां कोरोना के मामले घटने लगे थे लेकिन अचानक बढ़ने लगे हैं।

    18:09 (IST)20 Oct 2020
    भारत में प्रति दस लाख की आबादी में साढ़े पांच हजार लोगों को कोरोना हुआ अमेरिका में आंकड़ा 25 हजार के करीब: मोदी

    भारत में प्रति दस लाख करीब 5500 लोगों को कोरोना हुआ है वहीं अमेरिका औरब्राजील जैसे देशों में यह आकंड़ा 25 हजार के करीब है। भारत में प्रति 10 लाख लोगों में मृत्यु दर 83 है जबकि अमेरिका ब्राजील स्पेन और ब्रिटेन जैसे अनेक देशों में यह आंकड़ा 600 के पार है। दुनिया के साधन संपन्न देशों की तुलना में भारत अपने ज्यादा से ज्यादा नागरिकों का जीवन बचाने में सफल हो रहा है। आज हमारे देशो में कोरोना मरीजों के लिए 90 लाख से ज्यादा बेड की सुविधा है। 12000 से ज्यादा क्वारेंटाइन सेंटर है, 2000 से अधिक लैब काम कर रही है। जिसमें टेस्ट की संख्या 10 करोड़ के आंकड़े को पार कर जाएगी।

    18:08 (IST)20 Oct 2020
    बाजारों में रौनक लौट रही, लोग घरों से बाहर निकल रहे: राष्ट्र के नाम संबोधन में बोले पीएम

    मोदी ने कहा कि कोरोना के खिलाफ लड़ाई में जनता कर्फ्यू से लेकर आज तक हम सभी भारतवासियों ने बहुत लंबा सफर तय किया है। समय के साथ आर्थिक गतिविधियों मे भी धीरे-धीरे तेजी नजर आ रही है। हम में से अधिकांश लोग अपनी जिम्मेदारियों को निभाने के लिए घरों से बाहर निकल रहे हैं। त्योहारों के इस मौसम में बाजार में भी रौनक धीरे-धीरे लौट रही है। लेकिन हमें यह भूलना नहीं है कि भले लॉकडाउन चला गया हो लेकिन वायरस नहीं गया है। बीते 7-8 महीनों ने सभी लोगों के प्रयास से भारत आज जिस संभली स्थिति में है उसे बिगड़ने नहीं देना है।

    18:08 (IST)20 Oct 2020
    मोदी संबोधन से ठीक पहले राहुल गांधी का पीएम पर हमला

    पीएम के राष्ट्र के नाम संबोधन से ठीक पहले कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने ट्वीट कर नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा। उन्होंने मंगलवार को कहा कि प्रिय पीएम 6 बजे के अपने संदेश में कृपया राष्ट्र को वो तारीख बताएं जब आप चीन को भारत भूमि से बाहर निकाल फेंकेंगे। राहुल गांधी ने इससे पहले कहा कि मैं प्रधानमंत्री से सुनना चाहूंगा कि चीन, भारतीय क्षेत्र को कब छोड़ेगा लेकिन मैं आपको इस बात की गारंटी देता हूं कि प्रधानमंत्री में ये बताने की हिम्मत नहीं होगी, प्रधानमंत्री चीन के बारे में एक शब्द नहीं बोलेंगे।'

    17:52 (IST)20 Oct 2020
    मोदी के संबोधन से ठीक पहले राहुल गांधी का तंज

    पीएम के राष्ट्र के नाम संबोधन से ठीक पहले कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने ट्वीट कर नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा है। उन्होंने मंगलवार को कहा कि प्रिय पीएम 6 बजे के अपने संदेश में कृपया राष्ट्र को वो तारीख़ बतायें जब आप चीन को भारत भूमि से बाहर निकाल फेंकेंगे। धन्यवाद।

    17:21 (IST)20 Oct 2020
    जब मोदी ने देश के नाम संबोधन में की बड़ी घोषणा

    कोरोना संकट से देश की अर्थव्यवस्था को बचाने के लिए जब पहले राहत पैकेज का ऐलान हुआ था तब भी पीएम मोदी ने इसी तरह देश के नाम संबोधन में इसकी जानकारी दी थी। इसके बाद वित्त मंत्री ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर 20 लाख करोड़ रुपए के राहत पैकेज की डिटेल जानकारी दी।

    16:42 (IST)20 Oct 2020
    पीएम मोदी के ट्वीट को एलजेपी चीफ चिराग पासवान ने किया रिट्वीट

    एलजेपी चीफ चिराग पासवान ने पीएम मोदी के ट्वीट को रिट्वीट किया है। उन्होंने कहा कि कुछ महत्वपूर्ण जानकारी आदरणीय पीएम मोदी आज सभी देशवासियों से साझा करेंगे। देशवासियों से अपील है की राष्ट्रहित में किए जा रहे इस सम्बोधन को सुने। बिहार में एलजेपी के सभी प्रत्याशी से अपील है की क्षेत्र की जनता के साथ सम्बोधन सुने। कोरोना के कारण दूरी का भी ध्यान दें।

    15:40 (IST)20 Oct 2020
    आज शाम 6 बजे राष्ट्र को संबोधित करेंगे पीएम मोदी, ट्वीट कर बोले- आप जरूर जुड़ें

    प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मंगलवार शाम छह बजे राष्ट्र को संबोधित करेंगे। मोदी ने ट्वीट कर कहा, ‘आज शाम छह बजे राष्ट्र के नाम संदेश दूंगा। आप जरूर जुड़ें।’ भारत में जब से कोरोना संक्रमण की शुरुआत हुई है तब से प्रधानमंत्री कई दफे राष्ट्र के नाम संदेश जारी कर चुके हैं। मार्च महीने में उन्होंने इसकी शुरुआत की थी और 19 मार्च को उन्होंने लोगों से जनता कर्फ्यू की अपील की थी। इसके बाद 24 मार्च को राष्ट्र के नाम अपने संबोधन में उन्होंने 21 दिन के लॉकडाउन का ऐलान किया था। बाद के राष्ट्र के नाम अपने संबोधनों में उन्होंने आत्मनिर्भर भारत अभियान के लिए 20 लाख करोड़ रुपए के पैकेज की घोषणा की थी।

    14:50 (IST)20 Oct 2020
    अब मोदी का एलईडी राज चलेगा: जेपी नड्डा

    बिहार चुनाव प्रचार के दौरान भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने आरजेडी नेता तेजस्वी यादव पर निशाना साधा। उन्होंने मंगलवार को कहा कि आजकल यहां RJD के पोस्टर में केवल तेजस्वी दिखाई दे रहे हैं, लालू जी उसमें नहीं दिख रहे। अब पोस्टर में से ही उनके बेटे ने उन्हें गायब कर दिया। इसलिए गायब किया क्योंकि बिहार की जनता जागरूक हो चुकी है और जानती है कि अब लूट राज या लालटेन राज नहीं चलेगा। अब मोदी का LED राज चलेगा।

    Next Stories
    1 दबाई जा रही ‘आजाद’ आवाज? श्रीनगर में Kashmir Times का दफ्तर सील, एस्टेट विभाग ने लिया ऐक्शन
    2 मजदूर की 16 साल की बेटी एक दिन के लिए बनी जिला कलेक्टर, जानिए क्या-क्या किए काम
    3 COVID-19 पर केंद्र का डेटा गलत? 30% भारतीय हैं संक्रमित, फरवरी 2021 तक आधी आबादी को सकता है इन्फेक्शन- एक्सपर्ट ने किया आगाह
    ये पढ़ा क्या?
    X