ताज़ा खबर
 

गुजरात में बोले नरेंद्र मोदी- 2022 तक हो सबका घर अपना, ये है मेरा सपना

पीएम मोदी ने कहा,''सरकार ने पैसे जरूर दिए हैं, लेकिन इसके साथ ही, इन घरों को बनाने में परिवारों का पसीना भी लगा है। परिवारों ने तय किया है कि घर कैसा होगा? घर को बनाने में कौन सी निर्माण सामग्री का इस्तेमाल होगा और यह कैसे बनेगा। हम ठेकेदारों पर भरोसा नहीं कर स​कते। लेकिन परिवार में कर सकते हैं। जब एक परिवार अपना खुद का घर बनाता है तो वह सर्वश्रेष्ठ होता है।''

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी। फोटो: पीटीआई

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को कहा कि उनका सपना है कि जब देश साल 2022 में अपनी आजादी के 75 साल पूरा होने का जश्न मना रहा हो, उस वक्त तक हर परिवार के पास अपना घर हो। ये उच्च गुणवत्ता वाले घर प्रधानमंत्री आवास योजना के अर्न्तगत बनाए जाएंगे और किसी का भी इन्हें हासिल करने के लिए एक रुपये की भी रिश्वत नहीं देनी होगी। ये बातें प्रधानमंत्री ने गुजरात के वलसाड़ कस्बे के जुजवा गांव में सरकारी योजनाओं के लाभार्थियों की सभा को संबोधित करते हुए कहीं।

प्रधानमंत्री ने कहा, ”गुजरात में मुझे बहुत कुछ सिखाया है। इस पाठ से मैंने अपने सपनों को निश्चित समय में पूरा करना सीखा है। मेरा सपना है कि जब देश साल 2022 में अपनी आजादी की 75वीं वर्षगांठ मना रहा हो, उस वक्त देश में कोई भी परिवार ऐसा न हो, जिसके पास अपना खुद का घर न हो।”

आवासीय योजना के लाभार्थियों को पीएम ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए संबोधित किया। उन्होंने कहा, माताओं और बहनों मैं पूरी संतुष्टि के साथ कह सकता हूं कि आपको आपका घर ​पूरे नियमों के मुताबिक मिला है और उन्होंने एक भी रुपया रिश्वत देने की जरूरत नहीं पड़ी। प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत बने घरों के निर्माण की गुणवत्ता को देखकर एकबारगी तो आपको खुद यकीन नहीं होगा कि सरकारी घर ऐसे भी हो सकते हैं।”

पीएम मोदी ने आगे कहा,”सरकार ने पैसे जरूर दिए हैं, लेकिन इसके साथ ही, इन घरों को बनाने में परिवारों का पसीना भी लगा है। परिवारों ने तय किया है कि घर कैसा होगा? घर को बनाने में कौन सी निर्माण सामग्री का इस्तेमाल होगा और यह कैसे बनेगा। हम ठेकेदारों पर भरोसा नहीं कर स​कते। लेकिन परिवार में कर सकते हैं। जब एक परिवार अपना खुद का घर बनाता है तो वह सर्वश्रेष्ठ होता है।”

पूरे गुजरात में केन्द्र की इस महत्वाकांक्षी योजना के तहत एक लाख से ज्यादा घरों का निर्माण किया गया है। प्रधानमंत्री गुरुवार की सुबह गुजरात में एक दिन के दौरे पर आए थे। वलसाड़ में उन्होंने कुछ परियोजनाओं का उद्घाटन किया और बाद में जूनागढ़ चले गए। उन्होंने गांधी नगर में गुजरात विधि विज्ञान यूनीवर्सिटी के दीक्षांत समारोह में भी शिरकत की। इसके बाद वह राजभवन में सोमनाथ मन्दिर ट्रस्ट की मीटिंग में भी शामिल हुए।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App