चुनाव से पहले वापस होंगे तीनों कृषि कानूनः बोले PM- हम प्रयासों के बावजूद कुछ किसानों को समझा न पाए

पीएम मोदी ने तीनों कृषि कानूनों को वापस लेने की प्रकिया पर कहा, ‘इस महीने के अंत में शुरू होने जा रहे संसद सत्र में, हम इन तीनों कृषि कानूनों को वापस लेने की संवैधानिक प्रक्रिया को पूरा कर देंगे।’

pm modi, bjp, farms laws
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी(फोटो सोर्स: ANI)।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को राष्ट्र को संबोधित किया। इस दौरान पीएम मोदी ने तीनों कृषि कानूनों को वापस लेने का ऐलान किया। तीनों कृषि कानूनों का कई किसान संगठन लंबे समय से विरोध कर रहे थे और इन तीनों कानूनों को वापस लेने की मांग पर अड़े हुए थे।

पीएम मोदी ने कहा, ‘हमारी सरकार, किसानों के कल्याण के लिए, खासकर छोटे किसानों के कल्याण के लिए, देश के कृषि जगत के हित में, देश के हित में, गांव गरीब के उज्जवल भविष्य के लिए, पूरी सत्य निष्ठा से, किसानों के प्रति समर्पण भाव से, नेक नीयत से ये कानून लेकर आई थी, लेकिन इतनी पवित्र बात, पूर्ण रूप से शुद्ध, किसानों के हित की बात, हम अपने प्रयासों के बावजूद कुछ किसानों को समझा नहीं पाए।’

पीएम मोदी ने तीनों कृषि कानूनों को वापस लेने की प्रकिया पर कहा, ‘इस महीने के अंत में शुरू होने जा रहे संसद सत्र में, हम इन तीनों कृषि कानूनों को वापस लेने की संवैधानिक प्रक्रिया को पूरा कर देंगे।’

सिखों के पर्व प्रकाश पर्व के मौके पर तीनों कृषि कानूनों को वापस लेने के ऐलान करने के साथ ही पीएम मोदी ने इन कानूनों के विरोध में लंबे समय से आंदोलन कर रहे किसानों से घर लौटने की अपील भी की। उन्होंने कहा, ‘आप अपने अपने घर लौटे, खेत में लौटें, परिवार के बीच लौटें, एक नई शुरुआत करते हैं।’ पीएम मोदी कहा, मैंने पिछले कई दशकों तक किसानों की परेशानियों को बहुत करीब से देखा, महसूस किया। जब से मुझे मौका मिला, हमारी सरकार उनकी बेहतरी के लिए काम करने में जुट गई।

बता दें कि मोदी सरकार के तीनों कृषि कानूनों को वापस लेने के फैसले को पंजाब में होने वाले विधानसभा चुनाव से भी जोड़कर देखा जा रहा है। इन कानूनों को लेकर पंजाब में भाजपा को काफी विरोध का सामना करना पड़ा है। जगह-जगह भाजपा के नेताओं को जनता की नाराजगी का सामना करना पड़ा।

वहीं, तीन कृषि कानूनों को वापस लेने की मांग करते हुए लंबे समय से पंजाब में भाजपा के सहयोगी रहे शिरोमणि अकाली दल ने भी अपने रास्ते अलग कर लिए थे। लगातार विरोध के बीच, अब पंजाब चुनाव से पहले मोदी सरकार की नजर तीन कृषि कानूनों को वापस लेने के साथ ही राज्य में अपनी स्थिति मजबूत करने पर होगी।

पढें राष्ट्रीय समाचार (National News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट