ताज़ा खबर
 

नरेंद्र मोदी ने 11 जुलाई को लॉंच किया था जॉब पोर्टल, 69 लाख रजिस्ट्रेशन, 7700 को मिला काम

कर्नाटक, दिल्ली, हरियाणा, तेलंगाना और तमिलनाडु सहित कई राज्यों के आंकड़ों से पता चलता है कि श्रमिकों की भारी कमी है।

government launches job portalतस्वीर का इस्तेमाल केवल प्रतीकात्मक रूप से किया गया है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 11 जुलाई को एक सरकारी जॉब पोर्टल लॉन्च किया था, जिस पर महज चालीस दिन के भीतर 69 लाख से अधिक व्यक्तिगत रजिस्ट्रेशन हो चुके हैं। हालांकि रजिस्ट्रेशन कराने वाले लोगों में से एक छोटी संख्या में ही लोगों को नौकरी मिल सकी है। पता चला है कि 14 अगस्त से 21 अगस्त के बीच सिर्फ एक सप्ताह में सात लाख से अधिक लोगों ने रजिस्ट्रेशन कराया। इस सप्ताह के दौरान नौकरी पाने वाले लोगों की संख्या महज 691 रही।

कौशल विकास और उद्यमिता मंत्रालय द्वारा जुटाए गए आंकड़ों के मुताबिक इसके ASEEM पोर्टल पर नौकरियों की तलाश कर रहे 3.7 लाख उम्मीदवारों में से सिर्फ दो फीसदी को रोजगार मिल सका है। इसके अलावा रजिस्टर्ड होने वाले 69 लाख प्रवासी श्रमिकों में से 1.49 को रोजगार की पेशकश की गई थी। हालांकि सिर्फ 7,700 लोगों रोजगार पा सके।

मंत्रालय के सूत्रों ने बताया कि पोर्टल समय-समय पर विभिन्न क्षेत्र में प्रशिक्षित लोगों की सहायता करने के लिए था। जिन लोगों ने रजिस्ट्रेशन कराया वो सिर्फ प्रवासी मजदूर नहीं हैं। उन्होंने कहा, ‘इसमें दर्जी, इलेक्ट्रीशियन, फील्ड तकनीशियन, सिलाई मशीन ऑपरेटर और मिस्त्री क्षेत्र में रोजगार पाने वाले उम्मीदवार लिस्ट में टॉप पर है। इसके अलावा कुरियर डिलीवरी, नर्स, मैनुअल क्लीनर और ब्रिकी सहयोगियों के लिए भी मांग अधिक है।’

Coronavirus Vaccine Live Updates

कर्नाटक, दिल्ली, हरियाणा, तेलंगाना और तमिलनाडु सहित कई राज्यों के आंकड़ों से पता चलता है कि श्रमिकों की भारी कमी है। कोरोना और लॉकडाउन के दौरान इन राज्यों में भारी संख्या में प्रवासियों मजदूरों का पलायन हुआ, जिनमें सबसे अधिक मजदूर यूपी और बिहार के थे।

आंकड़ों से पता चलता है कि रोजगार की मांग करने वाले उम्मीदवारों की संख्या में एक सप्ताह के भीतर अस्सी फीसदी की बढ़ोतरी हुई है। यानी 14-21 अगस्त के बीच संख्या 2.97 लाख से बढ़कर 3.78 लाख के आंकड़े पर पहुंच गई। मगर इस दौरान नौकरी पाने वाले लोगों की संख्या सिर्फ 9.87 फीसदी रही यानी 7,009 से 7,700 लोगों को रोगमार मिल सका।

इसके अलावा 21 अगस्त को समाप्त सप्ताह में पोर्टल पर पंजीकृत कुल लोगों की संख्या में भी 11.98 फीसदी की बढ़ोतरी हुई और ये संख्या 61.67 से 69 लाख पर पहुंच गई।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 दिल्ली मेरी दिल्ली
2 कोविड-19 का असर: रेलवे ने पांच महीने में 1.78 करोड़ टिकट रद्द किए, पहली तिमाही में एक हजार करोड़ से ज्यादा का राजस्व घटा
3 विशेष: सालुमारदा थिमक्का : हरित शपथ की घनी छाया
ये पढ़ा क्या?
X