मन की बात में बोले PM मोदी- मैं सत्ता में नहीं और न ही भविष्य में जाना चाहता, सोशल मीडिया पर लोग यूं देने लगे रिएक्शन

मन की बात कार्यक्रम में प्रधानमंत्री मोदी ने आयुष्मान भारत के लाभार्थी से बात करते हुए कहा कि मैं आज भी सत्ता में नहीं हूं और भविष्य में भी सत्ता में जाना नहीं चाहता हूं। मैं सिर्फ सेवा में रहना चाहता हूं।

मन की बात कार्यक्रम में प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि मेरे लिए प्रधानमंत्री पद सत्ता के लिए नहीं है बल्कि सेवा के लिए है। (फोटो: ट्विटर/narendramodi)

रविवार को प्रधानमंत्री मोदी ने मन की बात कार्यक्रम के जरिए राष्ट्र को संबोधित किया। अपने संबोधन के दौरान पीएम मोदी ने कहा कि मैं सत्ता में नहीं हूं और न ही भविष्य में सत्ता में जाना चाहता हूं। प्रधानमंत्री मोदी के इस बयान पर सोशल मीडिया यूजर्स ने जमकर रिएक्शन दिया। 

मन की बात कार्यक्रम में प्रधानमंत्री मोदी ने आयुष्मान भारत के लाभार्थी से बात की। इस दौरान जब लाभार्थी ने उनसे कहा कि आप लंबे समय तक सत्ता में रहें और आपकी उम्र बहुत लंबी हो। तो इसपर प्रधानमंत्री मोदी ने मुझे सत्ता में रहने का आशीर्वाद मत दीजिए, मैं हमेशा सेवा में रहना चाहता हूं। मैं आज भी सत्ता में नहीं हूं और भविष्य में भी सत्ता में जाना नहीं चाहता हूं। मैं सिर्फ सेवा में रहना चाहता हूं। मेरे लिए प्रधानमंत्री पद सत्ता के लिए नहीं है बल्कि सेवा के लिए है।

प्रधानमंत्री मोदी के सत्ता में न रहने वाले बयान पर सोशल मीडिया यूजर्स की तरह तरह प्रतिक्रिया देखने को मिली। कई यूजर्स ने मजेदार रिएक्शन दिए। ट्विटर हैंडल @GURUJI_502 ने लिखा कि सच में सेवा में रहना चाहते हैं तो झोला उठा कर चले जाईये देशवासी दुआएं देंगे। वहीं राजा एस नाम के यूजर ने लिखा कि बड़ी अच्छी खबर है जल्दी से घर जाना बची खुची देश की संपत्ति बच जाएगी। 

इसके अलावा ट्विटर हैंडल @SunilMatwa2 ने लिखा कि मजाक की भी एक हद होती है भाई मतलब कुछ भी। वहीं सोमेश धवन नाम के एक यूजर ने लिखा कि इस कथन को एक मुहावरे की संज्ञा दी जा सकती है- “जिम्मेदारी से मुंह मोड़ना”। साथ ही एक यूजर ने लिखा कि धन्यवाद मोदी जी वाला जो विज्ञापन है वो सेवा में या सत्ता बने रहने के लिए हैं।

रविवार को मन की बात कार्यक्रम के दौरान प्रधानमंत्री मोदी ने यह भी कहा कि अब यूनिकॉर्न्‍स की दुनिया में भी भारत तेज उड़ान भर रहा है। एक रिपोर्ट के मुताबिक इसी साल एक बड़ा बदलाव आया है। उन्‍होंने कहा कि आज भारत में 70 से अधिक यूनिकॉर्न्‍स हो चुके हैं यानी 70 से अधिक स्‍टार्टअप ऐसे हैं जो एक अरब से ज्यादा के वैल्यूएशन को पार कर गए हैं।  

पढें राष्ट्रीय समाचार (National News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट