नीतीश कुमार के इस्‍तीफे पर पीएम मोदी ने दी बधाई, ट्वीट में दिया ये खास संदेश - pm Modi congratulates on Nitish Kumar resignation - Jansatta
ताज़ा खबर
 

नीतीश कुमार के इस्‍तीफे पर पीएम मोदी ने दी बधाई, ट्वीट में दिया ये खास संदेश

नीतीश कुमार ने राज्यपाल केसरी नाथ त्रिपाठी को अपना इस्तीफा सौंप दिया है।

पीएम नरेंद्र मोदी ने नीतीश कुमार को इस्तीफा देने पर बधाई दिया है। (Photo Source: Twitter/PMO India)

बिहार में जेडीयू-आरजेडी और कांग्रेस की महागठबंधन सरकार में लंबे समय से चल रहे विवाद के कारण दलों के बीच तकरार खत्म होने का नाम नहीं ले रहा है। इसका आज एक नया रुप देखने को मिला। आज मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है। उनके इस्तीफे को राज्यपाल केसरी नाथ त्रिपाठी ने स्वीकार भी कर लिया है। इस्‍तीफा देने के बाद नीतीश कुमार ने मीडिया से बातचीत करते हुए कहा कि जितना संभव हो सका, उन्होंने गठबंधन धर्म का पालन करने की कोशिश की, लेकिन बीते घटनाक्रम में जो चीजें सामने आईं उसमें काम करना मुश्किल हो गया था।

बता दें कि कुछ ही देर पहले जेडीयू विधायक दल की बैठक संपन्‍न हुई थी। जहां से निकलने के बाद नीतीश कुमार इस्तीफा देने के लिए राजभवन के लिए निकले। वहां उन्होंने राज्यपाल केसरीनाथ त्रिपाठी से मुलाकात की और उन्हें अपना इस्तीफा सौंप दिया।

नीतीश ने मीडिया से कहा, “मैंने इन 20 महीनों में जितना हो सका, सरकार चलाने की कोशिश की। लेकिन इस बीच जो हालात बने, जिस तरह की चीजें उभरकर सामने आईं, उसमें काम करना, नेतृत्व करना संभव नहीं रह गया था।” भ्रष्टाचार के आरोपों से घिरे राष्ट्रीय जनता दल नेता तेजस्वी यादव प्रकरण पर नीतीश ने कहा, “हमने कभी किसी का इस्तीफा नहीं मांगा था, बल्कि उनका पक्ष मांगा था। तेजस्वी और लालू यादव से हमने कहा था कि जो भी आरोप लगे हैं, उसे लोगों के बीच साफ करें।”

इस बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नीतीश कुमार को इस्तीफा देने पर बधाई दी है। उन्होंने ट्वीट करके कहा है कि, ”भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़ाई में जुड़ने के लिए नीतीश कुमार जी को बहुत-बहुत बधाई। सवा सौ करोड़ नागरिक ईमानदारी का स्वागत और समर्थन कर रहे हैं।” दूसरे ट्वीट में पीएम मोदी ने लिखा है, ”देश के, विशेष रूप से बिहार के उज्जवल भविष्य के लिए राजनीतिक मतभेदों से ऊपर उठकर भ्रष्टाचार के खिलाफ एक होकर लड़ना,आज देश और समय की मांग है।”

बता दें कि राज्यपाल केसरीनाथ त्रिपाठी ने नीतीश कुमार को वैकल्पिक व्यवस्था हो जाने तक बिहार के कार्यवाहक सीएम का पद संभालने को कहा है। बिहार की विधानसभा अभी भंग नहीं की गई है। इससे बिहार में फिर से गठबंधन की सरकार बनाने का रास्ता बरकरार है। अगर बिहार में बीजेपी और जेडीयू मिल जाए तो वो आराम से सरकार बना सकते हैं। बिहार में सरकार बनाने के लिए 122 विधायकों के समर्थन की जरूरत है। बिहार में जेडीयू और बीजेपी के विधायकों का आंकड़ा 124 हो जाता है। बिहार के 243 सदस्यों की विधानसभा में अभी जनता दल यूनाइेटड के 71 विधायक हैं, जबकि राष्ट्रीय जनता दल के 80 विधायक हैं, विधानसभा में कांग्रेस के 27 एमएलए हैं, जबकि बीजेपी के 53 विधायक हैं।

(Live Update)

देखिए वीडियो - जेडीयू में नीतीश कुमार के ख‍िलाफ बगावत का खतरा

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App