ताज़ा खबर
 

Coronavirus पर बैठक में आंकड़े देने लगे हरियाणा CM,पीएम मोदी ने बीच में टोक कहा, बताइए किया क्या है?

कोरोना को लेकर हुई बैठक के दौरान पीएम मोदी ने हरियाणा के सीएम खट्टर की क्लास लगा दी। उन्होंने कहा, आप आंकड़े न बताइए आगे का प्लान बताइए।

corona, haryana cm, pm modiकोरोना पर आंकड़े गिनाने लगे खट्टर तो पीएम मोदी ने टोका।

कोरोना वायरस को लेकर प्रधानमंत्री मोदी ने मंगलवार को मुख्यमंत्रियों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए बैठक की। इसमें पीएम मोदी ने राज्यों से कोरोना के प्रसार को रोकने के लिए बनाए गए प्लान के बारे में जानने की कोशिश की। इस बीच जब हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहरलाल खट्टर आंकड़े बताने लगे तो पीएम मोदी ने उनकी क्लास लगा दी। बीच में टोकते हुए पीएम मोदी ने कहा, आंकड़े पहले ही आ चुके हैं, आप आगे का प्लान बताइए। उन्होंने पूछा, ‘रोकथाम के लिए आप क्या कर रहे हैं, आप आगे क्या करेंगे, यह बताइए?’

बाद में सीएम खट्टर ने प्रेस कॉन्फ्रेंस करके नए नियम बताए। उन्होंने कहा, ‘गुरुग्राम, फरीदाबाद, रेवाड़ी, रोहतक, पानीपत और हिसार में बंद जगह पर 50 और खुली जगह पर 100 लोग से ज्यादा इकट्ठे नहीं हो सकंगें। बाकी जिलों में बंद जगह में 100 लोगों और खुले में 200 लोगों को अनुमति होगी। ‘

भारत में त्योहारों के सीजन के दौरान अचानक कोरोना के मामलों में फिर उछाल देखी गई है। इसको लेकर ही राज्यों की योजना को जनने के लिए प्रधानमंत्री मोदी ने वर्चुअल मीटिंग बुलाई थी। एक दिन पहले सी सुप्रीम कोर्ट ने सभी राज्यों से दो दिनों के अंदर जवाब देने को भी कहा है। कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए कई राज्यों ने फिर से कुछ प्रतिबंध लगा दिए हैं। राजधानी दिल्ली में भी कोरोना के मामलों में तेजी देखी जा रही है।

कोरोना को लेकर हुई बैठक में पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी ने बकाया जीएसटी का मुद्दा छेड़ दिया। उन्होंने पीएम मोदी से मांग की कि राज्यों को जीएसटी बकाया का पैसा भुगतान कर दिया जाए। उन्होंने कहा कि बंगाल सरकार कोरोना से लड़ रही है और जरूरी कदम उठा रही है। ऐसे में केंद्र को आर्थिक मदद देकर राज्यों की सहायता करनी चाहिए। महाराष्ट्र के सीएम उद्धव ठाकरे ने पीएम को बताया कि सीरम इंस्टिट्यूट और राज्य सरकार ने एक टास्क फोर्स बनाई है जिससे कि जल्द से जल्द टीकाकरण हो सके।

‘देखिए जब पीएम मोदी ने मनोहरलाल खट्टर को बीच में ही टोका’

यूरोप अमेरिका का उदाहरण दे गृह मंत्री ने किया सावधान
गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि यूरोप-अमेरिका और कई देशों में कोरोना के मामले फिर बढ़ रहे हैं, ऐसे में हमें भी सावधान रहना चाहिए। उन्होंने कहा सोशल डिस्टैंसिंग और मास्क को आवश्यक बनाने पर जोर देना चाहिए। स्वास्थ्य सचिव ने कहा कि दिल्ली, केरल, महाराष्ट्र और राजस्थान को ज्यादा ध्यान देने की जरूरत है।

दिल्ली के मुख्यमंत्री ने पराली का मुद्दा भी पीएम मोदी के सामने उठाया। उन्होंने कहा कि पराली जलाने की घटनाओँ पर रोक लगनी चाहिए। उन्होंने 1000 आईसीयू बेड्स की भी मांग की। केजरीवाल ने कहा कि यह लहर पहले से भी ज्यादा खतरनाक है इसलिए आईसीयू बेड्स का इंतजाम बहुत जरूरी है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 बीजेपी नेता बोलीं- महाराष्ट्र में अंधेर नगरी, ड्रग तस्करी, शिवसेना नेता ने कहा, यूपी, बिहार में बनाकर महाराष्ट्र भेज देते हैं
2 अंधेरे में पिछली बार की तरह नहीं होगी अगली शपथ- बोले BJP के फडणवीस, रह पाए थे तब सिर्फ 3 दिन के CM, लिख रहे घटनाक्रम पर किताब
3 यूपी में ‘लव जिहाद’ पर बहस के बीच हाई कोर्ट की बड़ी टिप्पणी, प्रियंका-सलामत केस में कहा- हम इन्हें हिंदू मुसलमान की तरह नहीं देखते
ये पढ़ा क्या?
X