ताज़ा खबर
 

पीएम मोदी बोले – राम अनेकता में एकता के प्रतीक, अस्तित्व मिटाने की हर कोशिश हुई लेकिन राम हमारे मन में

इस अवसर पर राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के प्रमुख मोहन भागवत, उत्तर प्रदेश की राज्यपाल आनंदी बेन पटेल, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, श्रीरामजन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र न्यास के अध्यक्ष महंत नृत्य गोपाल दास सहित बड़ी संख्या में साधु-संत मौजूद थे।

Author Edited By अभिषेक गुप्ता नई दिल्ली/अयोध्या | Updated: Aug 06, 2020 7:09:16 am
Ram Mandir Bhoomi Pujan, Ram Mandir Bhumi Pujan, Ram Mandir Bhoomi Pujan LIVE, Ayodhya Ram Mandir Bhoomi, Ayodhya Ram Mandir, अयोध्या राम मंदिर, राम मंदिर भूमि पूजन, राम मंदिर पीएम मोदीप्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अयोध्या में हनुमानगढ़ी मंदिर में पूजा अर्चना की। (pc- ANI)

प्रधानमंत्री ने कहा कि बरसों से टाट और टेंट के नीचे रह रहे “हमारे रामलला” के लिए अब एक भव्य मंदिर का निर्माण होगा। उन्होंने कहा, “टूटना और फिर उठ खड़ा होना, सदियों से चल रहे इस व्यतिक्रम से राम जन्मभूमि आज मुक्त हो गई है।” प्रधानमंत्री ने कहा कि देश की स्वतंत्रता के लिए चले आंदोलन के समय कई-कई पीढ़ियों ने अपना सब कुछ सर्मिपत कर दिया था। गुलामी के कालखंड में कोई ऐसा समय नहीं था जब आजादी के लिए आंदोलन न चला हो, देश का कोई भूभाग ऐसा नहीं था जहां आजादी के लिए बलिदान न दिया गया हो।

Ram Mandir Bhumi Pujan Live Updates: यहां पढ़ें सभी लाइव अपडेट 

उन्होंने कहा, “15 अगस्त का दिन लाखों बलिदानों का प्रतीक है, स्वतंत्रता की भावना का प्रतीक है। ठीक उसी तरह राम मंदिर के लिए कई सदियों तक कई पीढ़ियों ने लगातार प्रयास किया और आज का यह दिन उसी तप, त्याग और संकल्प का प्रतीक है।’’ उन्होंने कहा कि राम मंदिर के लिए चले आंदोलन में अर्पण भी था, तर्पण भी था, संघर्ष भी था, संकल्प भी था। उन्होंने कहा, ‘‘ये मंदिर करोड़ों-करोड़ों लोगों की सामूहिक शक्ति का भी प्रतीक बनेगा।’’ अपने संबोधन से पहले, प्रधानमंत्री ने मंदिर निर्माण की आधारशिला से संबंधित एक पट्टिका का अनावरण किया और इस मौके पर ‘श्री राम जन्मभूमि मंदिर’ से संबंधित विशेष डाक टिकट भी जारी किया। प्रधानमंत्री ने अपने संबोधन के अंत में ‘सियापति रामचंद्र’ का जयकारा लगाया। पारंपरिक धोती-कुर्ता पहने प्रधानमंत्री ने इससे पहले भूमि पूजन कर राम मंदिर निर्माण की आधारशिला रखी।

अयोध्या पहुंचने के बाद उन्होंने सबसे पहले हनुमानगढ़ी पहुंचकर हनुमान जी की पूजा-अर्चना की और फिर राम जन्मभूमि क्षेत्र पहुंचकर भगवान राम को दंडवत प्रणाम किया और पारिजात का पौधा लगाया। इस अवसर पर राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के प्रमुख मोहन भागवत, उत्तर प्रदेश की राज्यपाल आनंदी बेन पटेल, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, श्रीरामजन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र न्यास के अध्यक्ष महंत नृत्य गोपाल दास सहित बड़ी संख्या में साधु-संत मौजूद थे।

Live Blog

Highlights

    22:31 (IST)05 Aug 2020
    अयोध्या में भूमि पूजन के अवसर पर ब्रिटेन में प्रार्थनाओं का आयोजन

    भारत में श्री राम जन्मभूमि मंदिर के भूमि पूजन के अवसर पर ब्रिटेन में कई मंदिरों में और भारतीय मूल के लोगों ने बुधवार को पूजा-अर्चना की। अयोध्या में भव्य राम मंदिर के निर्माण के लिए आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भूमि पूजन करने के बाद आधारशिला रखी। ब्रिटेन में कोविड-19 के कारण धार्मिक स्थलों पर अभी भी बड़ी संख्या में लोगों के एकत्र होने पर मनाही है, ऐसे में कई मंदिरों ने डिजिटल माध्यम से भूमि पूजन समारोह पर खुशियां मनायीं।

    21:48 (IST)05 Aug 2020
    हमारे लिए 15 अगस्त की तरह पांच अगस्त भी महत्वपूर्ण : भाजपा महासचिव

    अयोध्या में भगवान राम के मंदिर की आधारशिला रखे जाने पर प्रसन्नता जताते हुए भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने बुधवार को कहा कि सनातन हिन्दू धर्म में आस्था रखने वाले लोगों के लिए देश के स्वतंत्रता दिवस की तरह इस मंदिर की शिलान्यास तिथि भी महत्वपूर्ण है। विजयवर्गीय ने कहा, "हमारे लिए जितना महत्वपूर्ण 15 अगस्त (स्वतंत्रता दिवस) है, उतना ही महत्वपूर्ण पांच अगस्त (राम मंदिर शिलान्यास तिथि) भी है क्योंकि यह तारीख सनातन धर्म को मानने वाले लोगों के लिए गौरव की बात है।"

    21:19 (IST)05 Aug 2020
    राम मंदिर के निर्माण का शिलान्यास हर भारतीय के लिए खुशी का मौका है: खट्टर

    हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने बुधवार को अयोध्या में राम मंदिर की आधारशिला रखने के अवसर को हर भारतीय के लिए खुशी का मौका और ऐतिहासिक क्षण बताया। उन्होंने यह भी कहा कि आधारशिला रखने के साथ, भगवान राम के करोड़ों भक्तों का सपना सच हो गया। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने अयोध्या में बुधवार को राम मंदिर निर्माण के लिए भूमि पूजन किया और मंदिर की आधारशिला रखी। भारत की सर्वोच्च अदालत ने पिछले साल दशकों पुराने मुद्दे का समाधान करते हुए अयोध्या में राम मंदिर निर्माण का मार्ग प्रशस्त कर दिया था।

    20:28 (IST)05 Aug 2020
    अयोध्या में राम मंदिर का भूमि पूजन स्वर्णिम युग की शुरुआत: बाबूलाल मरांडी

    भाजपा विधायक दल के नेता बाबूलाल मरांडी ने बुधवार को यहां कहा कि अयोध्या में राम मंदिर का भूमि पूजन देश के लिए एक नए स्वर्णिम और गौरवशाली युग की शुरआत है। मरांडी ने एक बयान में कहा, ‘‘आज का ऐतिहासिक दिन भारतीय इतिहास के पन्नों में स्वर्णाक्षरों में दर्ज हो गया है। देश के आदरणीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने धर्म नगरी अयोध्या में भव्य, दिव्य और अलौकिक राम मंदिर निर्माण का शिलान्यास और भूमि पूजन कर नया इतिहास रचने का काम किया है।’’

    19:57 (IST)05 Aug 2020
    राम मंदिर भूमि पूजन के साथ वर्षों का संघर्ष समाप्त हुआ : रूपाणी

    गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने बुधवार को कहा कि अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के लिए भूमि पूजन होने के साथ ही कई वर्षों का संघर्ष पूरा हो गया और इस दिन को इतिहास की किताबों में स्वर्णाक्षरों में लिखा जाएगा। उन्होंने कहा कि बुधवार को भगवान राम के भव्य मंदिर के निर्माण की शुरुआत से साबित होता है कि भाजपा हमेशा अपनी प्रतिबद्धताओं को पूरा करती है।

    19:31 (IST)05 Aug 2020
    राज्यपाल कलराज मिश्र ने भूमि पूजन को बताया ऐतिहासिक दिन

    अयोध्या में राममंदिर के निर्माण के शिलान्यास के अवसर पर राजस्थान के कई हिस्सों में पूजा पाठ का अयोजन किया गया तथा राज्यपाल कलराज मिश्र ने इस ऐतिहासिक दिन बताते हुए लोगों को शुभकामनाएं दीं । मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने प्रार्थना की कि भगवान राम का मंदिर हमारे देश में एकता और भाईचारे का प्रतीक बने। अयोध्या में राम मंदिर के निर्माण के लिए आधारशिला रखे जाने के अवसर पर राज्य के कई शहरों में विशेष पूजा पाठ हुआ। अजमेर और अलवर में अखंड रामायण के पाठ का आयोजन किया गया।

    18:57 (IST)05 Aug 2020
    येदियुरप्पा ने अयोध्या में राम मंदिर के भूमिपूजन पर लोगों को शुभकामनाएं दीं

    कर्नाटक के मुख्यमंत्री बी एस येदियुरप्पता और उनके कैबिनेट सहयोगियों ने अयोध्या में राम मंदिर के निर्माण के लिए आधारशिला रखे जाने के अवसर पर लोगों को बुधवार को शुभकामनाएं दीं। कोरोना वायरस से संक्रमित पाए जाने के बाद एक निजी अस्पताल में उपचार करा रहे येदियुरप्पा ने ट्वीट किया, ‘‘सदियों बाद अयोध्या में भगवान राम का अभिषेक होगा।’’ उन्होंने कहा कि कई साधुओं, संतों और श्रद्धालुओं ने मंदिर निर्माण का सपना साकार करने के लिए कुर्बानी दी और यह सपना जल्द ही पूरा होगा।

    18:14 (IST)05 Aug 2020
    करोड़ों भारतीयों की तरह मैं भी स्वयं को सौभाग्यशाली मानता हूं: निशंक

    केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक अयोध्या में श्रीराम मंदिर के भूमि-पूजन के ऐतिहासिक अवसर का सीधा प्रसारण देखकर करोड़ों भारतीयों की तरह मैं भी स्वयं को सौभाग्यशाली मानता हूं। सदियों की प्रतीक्षा के पश्चात पीएम नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में हमें इस पावन पल का साक्षी बनने का सुअवसर प्राप्त हुआ है।

    17:46 (IST)05 Aug 2020
    आज लोकतंत्र की हार और हिंदुत्व की जीत का दिन है

    एआईएमआईएम प्रमुख असदउद्दीन ओवैसी ने कहा है कि राम मंदिर की आधारशिला रखकर प्रधानमंमत्री नरेंद्र मोदी ने आज अपनी ही शपथ का उल्लंघन किया है। उन्होंने कहा, "आज लोकतंत्र की हार और हिंदुत्व की जीत का दिन है। प्रधानमंत्री ने कहा कि वो आज भावुक हैं। प्रधानमंत्री जी, आज मैं भी भावुक हूं क्योंकि मैं नागरिकों की बराबरी और सबके साथ जीने में यक़ीन करता हूं। मैं भावुक हूं क्योंकि 450 वर्षों तक वहां एक मस्जिद थी।"

    17:16 (IST)05 Aug 2020
    मंदिर तथाकथित भारतीय लोकतंत्र के चेहरे पर एक धब्बा

    पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय ने एक बयान जारी कर राम मंदिर भूमिपूजन की निंदा की है। पाकिस्तानी विदेश मंत्रालय ने अपने बयान में कहा है, “ऐतिहासिक बाबरी मस्जिद जिस ज़मीन पर लगभग 500 वर्षों तक खड़ी रही, पाकिस्तान वहां ‘राम मंदिर’ निर्माण के शुरुआत की कड़ी निंदा करता है। मंदिर बनाने के लिए भारतीय सुप्रीम कोर्ट ने फ़ैसले ने न सिर्फ़ मौजूदा भारत में बढ़ते बहुसंख्यकवाद को दिखाया है, बल्कि न्याय के ऊपर धर्म के प्रभुत्व को बी दिखाया है। आज के भारत में अल्पसंख्यक, ख़ासकर मुसलमानों के धर्मस्थलों को लगातार निशाना बनाया जा रहा है। ” बयान में कहा गया है कि ऐतिहासिक मस्जिद की ज़मीन पर बना मंदिर तथाकथित भारतीय लोकतंत्र के चेहरे पर एक धब्बे की तरह होगा.”

    16:53 (IST)05 Aug 2020
    राम मंदिर विवाद में हिंदू पक्ष की ओर से प्रमुख वकील रहे के. परासरन ने टीवी पर भूमिपूजन कार्यक्रम देखा

    राम मंदिर विवाद में हिंदू पक्ष की ओर से प्रमुख वकील रहे के. परासरन ने आज अपने परिवार के साथ टीवी पर भूमिपूजन कार्यक्रम देखा। रामलला विराजमान की ओर से सुप्रीम कोर्ट में वरिष्ठ वकील के. परासरन ने पैरवी की थी। परासरन की आयु इस समय 93 वर्ष है और उन्होंने अपनी युवा टीम के साथ सुप्रीम कोर्ट में रामलला की पैरवी की थी। के. परासरन भारत के अटॉर्नी जनरल और साल 2012 से 2018 के बीच राज्यसभा के सदस्य भी रहे हैं। परासरन को पद्मभूषण और पद्मविभूषण से सम्मानित किया जा चुका है।

    16:34 (IST)05 Aug 2020
    देश में आनंद की लहर है

    अयोध्या में भूमि पूजन कार्यक्रम के बाद अपने संबोधन में भागवत ने कहा, "पूरे देश में देख रहा हूं कि आनंद की लहर है, सदियों की आस पूरी होने का आनंद है। लेकिन सबसे बड़ा आनंद है भारत को आत्मनिर्भर बनाने के लिए जिस आत्मविश्वास की आवश्यकता थी और जिस आत्म-भान की आवश्यकता थी, उसका साकार अधिष्ठान बनने का शुभारंभ आज हो रहा है।"

    16:06 (IST)05 Aug 2020
    जो संकल्प लिया गया था, वह आज पूरा हुआ

    राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के प्रमुख मोहन भागत ने राम मंदिर निर्माण की आधारशिला रखे जाने के बाद बुधवार को कहा कि यह आनंद का क्षण है क्योंकि जो संकल्प लिया गया था, वह आज पूरा हुआ है। उन्होंने कहा, ‘‘एक संकल्प लिया था और मुझे स्मरण है तब कि हमारे सरसंघचालक बाला साहब देवरस जी ने हमको कदम आगे बढ़ाने से पहले यह बात याद दिलाई थी कि बीस-तीस साल लगकर काम करना पड़ेगा और 30वें साल के प्रारंभ में हमको संकल्प पूर्ति का आनंद मिल रहा है।’’

    15:50 (IST)05 Aug 2020
    राष्ट्रपति कोविन्द ने यह कहा

    राष्ट्रपति कोविन्द ने ट्वीट किया, ‘‘ राम-मंदिर निर्माण के शुभारंभ पर सभी को बधाई! मर्यादा पुरुषोत्तम प्रभु राम के मंदिर का निर्माण न्यायप्रक्रिया के अनुरूप तथा जनसाधारण के उत्साह व सामाजिक सौहार्द के संबल से हो रहा है। ’’ उन्होंने कहा, ‘‘ मुझे विश्वास है कि मंदिर परिसर, रामराज्य के आदर्शों पर आधारित आधुनिक भारत का प्रतीक बनेगा।’’ 

    15:31 (IST)05 Aug 2020
    आधुनिक भारत का प्रतीक बनेगा

    राष्ट्रपति रामनाथ कोंिवद ने बुधवार को कहा कि भगवान राम के मंदिर का निर्माण न्यायप्रक्रिया के अनुरूप तथा जनसाधारण के उत्साह व सामाजिक सौहार्द के संबल से हो रहा है और यह आधुनिक भारत का प्रतीक बनेगा।

    15:16 (IST)05 Aug 2020
    अस्तित्व मिटाने का हर प्रयास हुआ, लेकिन राम आज हमारे मन में बसे हैं

    प्रधानमंत्री मोदी ने अपने संबोधन में कहा कि राम भारतीय संस्कृति का आधार हैं। उन्होंने कहा, "कोई काम करना हो तो प्रेरणा के लिए हम भगवान राम की ओर ही देखते हैं। आप भगवान राम की अद्भुत शक्ति देखिए. इमारतें नष्ट हो गईं. क्या कुछ नहीं हुआ। अस्तित्व मिटाने का हर प्रयास हुआ, लेकिन राम आज हमारे मन में बसे हैं।  हमारी संस्कृति के आधार हैं।"

    15:00 (IST)05 Aug 2020
    अयोध्या की सिर्फ भव्यता ही नहीं बढ़ेगी, इस क्षेत्र का पूरा अर्थतंत्र भी बदल जाएगा

    पीएम ने कहा "इस मंदिर के बनने के बाद अयोध्या की सिर्फ भव्यता ही नहीं बढ़ेगी, इस क्षेत्र का पूरा अर्थतंत्र भी बदल जाएगा। यहां हर क्षेत्र में नए अवसर बनेंगे, हर क्षेत्र में अवसर बढ़ेंगे। पूरी दुनिया से लोग यहां आएंगे, पूरी दुनिया प्रभु राम और माता जानकी का दर्शन करने आएगी" 

    14:51 (IST)05 Aug 2020
    देश जितना ताकतवर होगा हम उतने सुरक्षित होंगे

    प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा, "भगवान राम भी मानते हैं कि भय बिनु होइ न प्रीति यानी बिना डर के प्रेम नहीं होता है। इसलिए हमारा देश जितना अधिक ताक़तवर होगा, हम उतने ही सुरक्षित और भयमुक्त होंगे। " उन्होंने लोगों से कोरोना के दौर में देशवासियों से श्रीराम की मर्यादा के रास्ते पर चलने की अपील की। उन्होंने लोगों से मास्क लगाने और शारीरिक दूरी बनाए रखने की अपील की।

    14:18 (IST)05 Aug 2020
    मोदी ने भारतीयों के संयमित और शांतिपूर्ण व्यवहार की प्रशंसा की

    प्रधानमंत्री मोदी ने भारतीयों के संयमित और शांतिपूर्ण व्यवहार की प्रशंसा की। उन्होंने कहा, ''जब सुप्रीम कोर्ट ने राम जन्मभूमि मामले में अपना फ़ैसला सुनाया था तब समस्त देशवासियों ने शांतिपूर्वक और मर्यादा में रहते हुए व्यवहार किया था। आज कोरोना के दौर में भूमिपूजन के समय भी हमें यही मर्यादा देखने को मिल रही है। ”

    14:04 (IST)05 Aug 2020
    सम्बोधन की शुरुआत में सुंदरकांड की पंक्तियों का उल्लेख करते हुए की

    प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने सम्बोधन की शुरुआत में सुंदरकांड की पंक्तियों का उल्लेख करते हुए कहा, "मुझे तो यहां आना ही था क्योंकि राम काजु कीन्हें बिनु मोहि कहाँ विश्राम।" इस पंक्ति का अर्थ है- भगवान राम का काम किए बना मुझे आराम कहां मिलेगा?

    13:49 (IST)05 Aug 2020
    योगी आदित्यनाथ ने मंच से राम मंदिर की आधारशिला रखने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का शुक्रिया अदा किया

    उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मंच से राम मंदिर की आधारशिला रखने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का शुक्रिया अदा किया। उन्होंने कहा, "500 वर्षों का लंबा और कड़ा संघर्ष अब लोकतांत्रिक और संविधान सम्मत तरीके से संपन्न हुआ।''

    13:28 (IST)05 Aug 2020
    आडवाणी जी यहां नहीं आ सके लेकिन वो घर से बैठकर ये सारा कार्यक्रम देख रहे होंगे

    राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के प्रमुख मोहन भागवत ने मंच से अपने संबोधन में कहा कि कोरोना संक्रमण और अन्य कारणों की वजह से राममंदिर आंदोलन से जुड़े कई लोग कार्यक्रम में नहीं सके। उन्होंने कहा, "आडवाणी जी यहां नहीं आ सके लेकिन वो घर से बैठकर ये सारा कार्यक्रम देख रहे होंगे. हालात ऐसे हैं कि कुछ लोगों को बुलाया नहीं जा सका और कुछ आ नहीं सके। मगर इसके बावजूद आज पूरा देश आनंद में डूबा है।"

    12:51 (IST)05 Aug 2020
    भूमिपूजन समारोह में भाग लेते पीएम मोदी

    राम मंदिर के भूमिपूजन समारोह में भाग लेते प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, उत्तर प्रदेश की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत।

    12:36 (IST)05 Aug 2020
    पीएम ने भगवान राम को साष्टांग प्रणाम किया और पूजा-अर्चना की

    प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रामजन्मभूमि स्थल पर भगवान राम को साष्टांग प्रणाम किया और पूजा-अर्चना की, इस दौरान मोदी ने पारिजात का पौधा लगाया।

    12:13 (IST)05 Aug 2020
    मोदी ने हनुमानगढ़ी मंदिर में पूजा अर्चना की

    प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हनुमानगढ़ी मंदिर में पूजा अर्चना की। इस दौरान उनके साथ उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी मौजूद रहे।

    11:55 (IST)05 Aug 2020
    स्वामी अवधेशानंद गिरि ने यह कहा

    अयोध्या में राम जन्मभूमि स्थल पर स्वामी अवधेशानंद गिरि ने कहा "राममंदिर निर्माण का ये ऐतिहासिक दिन पूरे विश्व को सामाजिक समरसता के साथ-साथ आत्म सत्ता का भी बौद्ध देगा। ये जो रामलला की जन्मभूमि है यहां से हम आध्यात्मिक संवेदनाओं का प्रसार देखेंगे।"

    11:38 (IST)05 Aug 2020
    मोहन भागवत भूमिपूजन के लिए राम जन्मभूमि स्थल पहुंचे

    राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के प्रमुख मोहन भागवत भूमिपूजन के लिए राम जन्मभूमि स्थल पहुंचे। समारोह में मंच पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी,आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत, राम मंदिर ट्रस्ट के प्रमुख नृत्य गोपाल दास, उ.प्र. की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल और CM योगी आदित्यनाथ मौजूद रहेंगे।

    11:17 (IST)05 Aug 2020
    उमा भारती ने कहा अयोध्या ने सभी को एक कर दिया

    राम जन्मभूमि स्थल पर बीजेपी नेता उमा भारती ने कहा "अयोध्या ने सभी को एक कर दिया है। अब ये देश पूरी दुनिया में अपना माथा ऊंचा उठाकर कहेगा कि हमारे यहां कोई भेद-भाव नहीं है।" उत्तर प्रदेश की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल राम जन्मभूमि स्थल पहुंच गई हैं।

    10:54 (IST)05 Aug 2020
    लखनऊ पहुंचे पीएम मोदी, यहां से अयोध्या हेलिकॉप्टर में जाएंगे

    प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी लखनऊ पहुंच गए हैं, अयोध्या में राम मंदिर भूमिपूजन समारोह में शामिल होने के लिए यहां से वो हेलिकॉप्टर में रवाना होंगे। साढ़े 11 बजे उनका हेलीकॉप्टर अयोध्या के साकेत कॉलेज कैंपस में नवनिर्मित हेलीपैड पर उतरेगा।

    10:37 (IST)05 Aug 2020
    काशी, अयोध्या, दिल्ली व प्रयागराज के विद्वानों को बुलाया

    भूमि पूजन के कार्यक्रम को पूरा कराने के लिए काशी, अयोध्या, दिल्ली व प्रयागराज के विद्वानों को बुलाया गया है। अलग-अलग पूजा के अलग-अलग एक्सपर्ट हैं। पूरी टीम 21 ब्राह्मणों की है जो अलग अलग तरीकों से पूजा कराएगी। 

    10:26 (IST)05 Aug 2020
    अमेरिकी कैपिटल हिल पर इकट्ठा हुए अमेरिका में रहने वाले भारतीय

    अमेरिका में रहने वाले भारतीय अयोध्या में ऐतिहासिक राम मंदिर के शिलान्यास समारोह का जश्न मनाने के लिए अमेरिकी कैपिटल हिल पर इकट्ठा हो गए हैं। यहां एक झांकी ट्रक राम मंदिर की डिजिटल तस्वीरों को प्रदर्शित करते हुए कैपिटल हिल के चक्कर लगाएगा। मंदिर के निर्माण के लिए भूमि पूजन समारोह अयोध्या में आज है। 

    10:08 (IST)05 Aug 2020
    नागपुर में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के कार्यालय को सजाया गया

    राम मंदिर के भूमिपूजन के मौके पर नागपुर में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के कार्यालय को सजाया गया है। बता दें भूमिपूजन समारोह में मंच पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी,आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत, राम मंदिर ट्रस्ट के प्रमुख नृत्य गोपाल दास, उ.प्र. की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ मौजूद रहेंगे

    09:52 (IST)05 Aug 2020
    अयोध्या के लिए रवाना हुए पीएम मोदी

    प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी राममंदिर भूमिपूजन समारोह में हिस्सा लेने के लिए अयोध्या के लिए रवाना हो गए हैं। वे 10.35 बजे लखनऊ पहुंचेंगे। वहां 10 मिनट रुक कर हेलिकॉप्टर के जरिए अयोध्या के लिए रवाना होंगे और 11.30 तक भगवान राम की नगरी पहुंचेंगे।

    09:40 (IST)05 Aug 2020
    राम के भव्य मंदिर का आधारशिला नहीं धार्मिक गुलामी का अंत भी

    केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह का कहना है कि यह भूमिपूजन सिर्फ राम के भव्य मंदिर का आधारशिला नहीं धार्मिक गुलामी का अंत भी है। गिरिराज ने ट्वीट कर लिखा "प्रभु श्रीराम अपनी ही जन्मभूमि पर अब काल्पनिक नहीं रहेंगे। यह केवल प्रभु श्रीराम के भव्य मंदिर का आधारशिला नहीं है, बल्कि भारत के सांस्कृतिक और धार्मिक गुलामी का अंत भी है। जय श्रीराम।"

    09:24 (IST)05 Aug 2020
    कार्यक्रम के दौरान कौन-कौन होगा मंच पर?

    राम मंदिर भूमि पूजन के शिलान्यास कार्यक्रम के दौरान मंच पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, RSS चीफ मोहन भागवत, Ram Mandir Trust प्रमुख नृत्य गोपाल दास, यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ और राज्यपाल आनंदीबेन पटेल मौजूद रहेंगे।

    09:13 (IST)05 Aug 2020
    भारत राम राज्य में प्रवेश कर रहा हैः रामदेव

    अयोध्या में योग गुरु रामदेव ने हनुमान गढ़ी मंदिर में पूजा की। रामदेव ने कहा," 5 तारीख देश की ऐतिहासिक तारीख है। आज के दिन को सदियां याद करेगी। भारत राम राज्य में प्रवेश कर रहा है।"

    09:02 (IST)05 Aug 2020
    पहले हनुमानगढ़ी, फिर रामलला के दर्शन करेंगे PM मोदी

    PMO की ओर से जारी एक प्रेस विज्ञप्ति में कहा गया कि इस कार्यक्रम से पहले मोदी हनुमानगढ़ी में ‘‘पूजा’’ और ‘‘दर्शन’’ करेंगे। मंदिर के शिलान्यास समारोह में शामिल होने के लिए मोदी अयोध्या का दौरा करेंगे, आज इसकी आधिकारिक रूप से पुष्टि हुई। मंदिर निर्माण की आधारशिला रखने के लिए वे एक पट्टिका का अनावरण करेंगे और इस मौके पर ‘‘श्री राम जन्मभूमि मंदिर’’ पर एक स्मारक डाक टिकट भी जारी करेंगे।

    Next Stories
    1 UPSC Exams में 420वीं रैंक लाने वाले कौन हैं राहुल मोदी? हुए ट्रेंड, लोग बोले- ये ‘सदी का विलय’
    2 अयोध्या: नरेंद्र मोदी के कार्यकाल में BJP का एक और प्रमुख वादा पूरा
    3 विश्लेषणः कोरोना से मरने वालों में आधे 60 साल से ज्यादा उम्र के
    ये पढ़ा क्या?
    X