ताज़ा खबर
 

मणिशंकर अय्यर पर फिर बरसे पीएम मोदी, पूछा- मेरी सुपारी देने के लिए गए थे पाकिस्तान?

गुजरात विधानसभा चुनाव के लिए बनासकांठा में आयोजित बीजेपी की एक रैली को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि क्या मणिशंकर अय्यर उनकी सुपारी देने के लिए पाकिस्तान गए थे?

पीएम मोदी और मणिशंकर अय्यर।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को नीच आदमी बताने वाले नेता मणिशंकर अय्यर की मुश्किलें लगातार बढ़ती जा रही हैं। पहले कांग्रेस ने उन पर बड़ी अनुशासनात्मक कार्रवाई करते हुए उनकी प्राथमिक सदस्या निलंबित कर दी तो अब पीएम मोदी ने भी उन पर जमकर निशाना साधा है। अय्यर के बयान को लेकर पीएम मोदी ने गुरुवार को भी उनके ऊपर हमला बोला था तो वहीं शुक्रवार को भी गुजरात में एक रैली के दौरान उन्होंने अय्यर पर अपना गुस्सा निकाला है। गुजरात विधानसभा चुनाव के लिए बनासकांठा में आयोजित बीजेपी की एक रैली को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि क्या मणिशंकर अय्यर उनकी सुपारी देने के लिए पाकिस्तान गए थे?

पीएम मोदी ने अय्यर के पाकिस्तान दौरे पर सवाल खड़ा करते हुए कहा, ‘अय्यर जब पाकिस्तान गए थे तब उन्होंने लोगों से कहा था कि मोदी को रास्ते से हटाओ तभी भारत और पाकिस्तान के रिश्ते अच्छे होंगे। मुझे रास्ते से हटाने का मतलब क्या था? और मेरा क्या जुर्म है? यही कि मुझे लोगों का आशीर्वाद प्राप्त है। पाकिस्तान जाकर मुझे रास्ते से हटाने की बात बोलने का मतलब तो यही हुआ कि वह मेरी सुपारी देने के लिए पाकिस्तान गए थे?’

प्रधानमंत्री ने गुरुवार को भी एक रैली के दौरान अय्यर के बयान पर पलटवार करते हुए कहा था कि भले ही नीची जाति का हूं, लेकिन काम ऊंचे किए हैं। उन्होंने कहा कि ऊंच-नीच की बातें उनके संस्कार में नहीं। ये सारी बातें कांग्रेस को ही मुबारक हों। मोदी ने दावा किया कि गुजरात की जनता बीजेपी को वोट देकर जवाब देगी। मोदी ने कहा कि कांग्रेस ने ‘गुजरात के बेटे’ के लिए नीच शब्द का इस्तेमाल किया। बता दें कि अय्यर ने गुरुवार को कहा था, ‘मुझको लगता है कि यह आदमी बहुत ही नीच किस्म का आदमी है। इसमें कोई सभ्यता नहीं है और ऐसे मौकों पर इस किस्म की गंदी राजनीति करने की क्या आवश्यकता है?’ हालांकि राहुल गांधी की फटकार के बाद अय्यर ने अपने बयान के लिए पीएम मोदी से माफी भी मांग ली है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App