कोरोना संकट पर बोले पीएम मोदी- देश को लॉकडाउन से बचाना है, अंतिम विकल्प के तौर पर ही इस्तेमाल करें राज्य

कोरोना संकट को लेकर प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि देश को लॉकडाउन से बचाना है और इसके लिए मर्यादाओं का पालन करना होगा। उन्होंने राज्यों से अपील की कि लॉकडाउन को अंतिम विकल्प के तौर पर ही इस्तेमाल करें।

pm modi, corona, live discussion, state cmकोरोना के बढ़ते प्रकोप को लेकर पीएम मोदी का संबोधन। फोटो- पीटीआई (फाइल)

देशभर में कोरोना की वजह से हाहाकार मचा हुआ है। बेड और ऑक्सीजन को लेकर मारामारी चल रही है। देश में किस्तों में लॉकडाउन और कर्फ्यू लगाया जा रहा है। इसी बीच प्रधानमंत्री मोदी ने देशवासियों को संबोधित करते हुए कहा कि इस बार आर्थिक गतिविधियां बंद नहीं होंगी और राज्य सरकारें अपने श्रमिकों से कहें कि वे जहां हैं, वहीं रहें। उन्हें वैक्सीन भी लगाई जाएगी और काम भी मिलेगा। प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि हमें मिलकर देश को लॉकडाउन से बचाना है। उन्होंने राज्यों से अपील की कि राज्य लॉकडाउन को अंतिम विकल्प के तौर पर ही इस्तेमाल करें

मोदी ने जताई सहानुभूति

पीएम मोदी ने संबोधन की शुरूआत में कहा, ‘कोरोना की दूसरी लहर आई है। जो पीड़ा आप सह रहे हैं उसका मुझे पूरा अहसास है। जिन लोगों ने अपनों को खोया है मैं सभी देशवासियों की तरफ से उनके प्रति संवेदनाएं व्यक्त करता हूं। परिवार के एक सदस्य के रूप में मैं आपके दुख में शामिल हूं। चुनौती बड़ी है लेकिन हमें मिलकर अपने संकल्प, हौसले और तैयारी के साथ इसको पार करना है।’

उन्होंने कहा, शास्त्रों में कहा गया है, कठिन से कठिन समय में भी हमें धैर्य नहीं खोना चाहिए। किसी भी परिस्थिति से निपटने के लिए हम सही निर्णय लें। सही दिशा में प्रयास करें तभी हम विजय हासिल कर सकते हैं। इसी मंत्र को सामने रखकर आज देश दिन रात काम कर रहा है। बीते कुछ दिनों में जो फैसले लिए गए हैं, वो स्थिति को तेजी से सुधारेंगे। इस बार कोरोना संकट में देश के अनेक हिस्से में ऑक्सीजन की डिमांड बहुत ज्यादा बढ़ी है। इस विषय पर तेजी से और पूरी संवेदनशीलता के साथ काम किया जा रहा है।

ऑक्सीजन की सप्लाई पर बोले पीएम

प्रधानमंत्री ने कहा, ‘ऑक्सीजन प्रॉडक्शन और सप्लाई को बढ़ाने के लिए भी कई स्तरों पर उपाय किए जा रहे हैं। राज्यों में नए ऑक्सीजन प्लांट्स हों, एक लाख नए सिलेंडर पहुंचाने हों, औद्योगिक इकाइयों में इस्तेमाल हो रही ऑक्सीजन का मेडिकल इस्तेमाल हो, ऑक्सीजन रेल हो, हर प्रयास किया जा रहा है।’

‘दुनिया का सबसे बड़ा टीकाकरण अभियान’

पीएम मोदी ने कहा, हमारे वैज्ञानिकों ने दिन-रात एक करके बहुत कम समय में देशवासियों के लिए vaccines विकसित की हैं। आज दुनिया की सबसे सस्ती वैक्सीन भारत में है। भारत की कोल्ड चेन व्यवस्था के अनुकूल वैक्सीन हमारे पास है। यह एक team effort है जिसके कारण हमारा भारत, दो made in India vaccines के साथ दुनिया का सबसे बड़ा टीकाकरण अभियान शुरू कर पाया। टीकाकरण के पहले चरण से ही गति के साथ ही इस बात पर जोर दिया गया कि ज्यादा से ज्यादा क्षेत्रों तक, जरूरतमंद लोगों तक वैक्सीन पहुंचे।

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, मेरे बाल मित्र, घर में ऐसा माहौल बनाइए कि बिना काम, बिना कारण, घर के लोग बाहर न निकलें। आपकी जीत बहुत पड़ा परिणाम ला सकती हैं। प्रचार माध्यमों से भी मेरी प्रार्थना है कि ऐसी संकट की घड़ी में सतर्क और जागरूक करने के प्रयास और बढ़ाएं। डर का माहौल कम करें और लोग अफवाह और भ्रम में आएं। हमें देश को लॉकडाउन से बचाना है। राज्यों से अनुरोध करूंगा कि लॉकडाउन को अंतिम विकल्प के रूप में ही इस्तेमाल करें। लॉकडाउन से बचना है और माइक्रो कन्टेनमेंट जोन पर ध्यान देना है।

युवाओं और बालकों से अपील
प्रधानमंत्री मोदी ने युवाओं से कहा कि वो अपनी सोसायटी में, मौहल्ले में, अपार्टमेंट्स में छोटी छोटी कमेटियाँ बनाकर COVID अनुशासन का पालन करवाने में मदद करें। उन्होंने कहा, हम ऐसा करेंगे तो सरकारों को न कंटेनमेंट ज़ोन बनाने की ज़रुरत पड़ेगी, न कर्फ़्यू लगाने की, न लॉकडाउन लगाने की। मित्रों से एक बात विशेष तौर पर कहना चाहता हूं। मेरे बाल मित्र, घर में ऐसा माहौल बनाएं कि बिना काम, बिना कारण घर के लोग, घर से बाहर न निकलें। आपकी जिद बहुत बड़ा परिणाम ला सकती है।

प्रधानमंत्री ने कहा, आज की स्थिति में हमें देश को लॉकडाउन से बचाना है। मैं राज्यों से भी अनुरोध करूंगा कि वो लॉकडाउन को अंतिम विकल्प के रूप में ही इस्तेमाल करें। लॉकडाउन से बचने की भरपूर कोशिश करनी है। और माइक्रो कन्टेनमेंट जोन पर ही ध्यान केंद्रित करना है। उन्होंने कहा कि अर्थव्यवस्था और लोगों की सेहत का साथ में ध्यान रखा जाएगा।

Next Stories
1 कोरोना पर बोले राकेश टिकैत, वे मांग रहे चंदा, किसानों के बीच फैला कोरोना तो जिम्मेदार सरकार की
2 बिहार: इलाज बिना पूर्व मंत्री की मौत! चार दिन में आई कोरोना रिपोर्ट, पैरवी से मिला बेड, नहीं मिला आईसीयू
3 कोरोनाः UP में लॉकडाउन से जुड़े HC के आदेश पर SC की रोक, पर 2000 से अधिक केस वाले जिलों में रहेगी ‘वीकेंड बंदी’
आज का राशिफल
X