चुनाव वाले बिहार में PM Cares Fund से बनेंगे दो कोविड अस्पताल, महाराष्ट्र में हुई हैं सबसे ज़्यादा मौतें

पटना के करीब बिहटा में 500 बिस्तरों वाले अस्पताल का सोमवार को ही उद्घाटन हो गया जबकि मुजफ्फरपुर में 500 बेड वाले अस्पताल का शुभारंभ जल्द ही किया जाएगा।

pm cares fund
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी। (रॉयटर्स)

प्रधानमंत्री कार्यालय (पीएमओ) ने बताया कि पीएम-केयर्स फंड ट्र्स्ट ने कोरोना वायरस महामारी के खिलाफ जारी लड़ाई के मद्देनजर बिहार में दो अस्थाई हॉस्पिटलों की स्थापना करने लिए धन आवंटित करने का फैसला लिया है। बिहार में ये हॉस्पिटल पटना और मुजफ्फरनगर में बनेंगे। इसमें पटना में बनने वाले हॉस्पिटल का उद्घाटन केंद्रीय गृह राज्य मंत्री नित्यानंद राय ने सोमवार (24 अगस्त, 2020) को किया था। अधिकारियों के मुताबिक हॉस्पिटल का काम अगले सप्ताह तक पूरा होने की संभावना है। बिहार में साल के आखिर में विधानसभा चुनाव होने हैं। राज्य में एनडीए गठबंधन सत्ता में है।

दरअसल सोमवार को पीएमओ ने सिलसिलेवार ट्वीट कर जानकारी दी और बताया कि दोनों अस्पतालों का निर्माण रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन (डीआरडीओ) करेगा। प्रधानमंत्री कार्यालय ने ट्वीट में कहा, ‘पीएम-केयर फंड ट्रस्ट ने कोरोना महामारी के खिलाफ लड़ाई के तहत बिहार के पटना और मुजफ्फरपुर में 500 बिस्तरों वाले कोविड-19 अस्थाई अस्पतालों के निर्माण के लिए धन आवंटित करने का फैसला किया है। इन अस्पतालों का निर्माण डीआरडीओ करेगा। यह बिहार में कोविड देखभाल में सुधार में बहुत मददगार होगा।’

Coronavirus Vaccine Live Updates

पीएमओ के मुताबिक पटना के करीब बिहटा में 500 बिस्तरों वाले अस्पताल का सोमवार को ही उद्घाटन हो गया जबकि मुजफ्फरपुर में 500 बेड वाले अस्पताल का शुभारंभ जल्द ही किया जाएगा। पीएमओ ने कहा, ‘इन अस्पतालों में 125 बिस्तर आईसीयू सुविधा से लैस होंगे जिनमें वेंटिलेटर की भी व्यवस्था होगी जबकि शेष 375 बिस्तर सामान्य श्रेणी वाले होंगे। हर बिस्तर पर आक्सीजन की भी सुविधा है। इन अस्पतालों में सशस्त्र बलों की चिकित्सा सेवा से डाक्टरों और पराचिकित्सीय र्किमयों की तैनाती की जाएगी।’

डीआरडीओ के अधिकारियों ने बताया पटना में अस्पताल, पटना से लगभग 35 किलोमीटर दूर बिहटा में नवनिर्मित ईएसआईसी अस्पताल में स्थित है। ये दिल्ली छावनी में 1,000 बिस्तर वाले सरदार वल्लभभाई पटेल अस्पताल की तर्ज पर बनाया गया है। अधिकारियों के मुताबिक बिहार सरकार रोजाना दो लाख लीटर पानी, 6 एमवीए बिजली की आपूर्ति और अस्पताल के लिए सुरक्षा व्यवस्था फ्री में मुहैया कराएगी।

वहीं केंद्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय के ताजा बुलेटिन के बुलेटिन के मुताबिक बिहार में कोरोना के 23111 एक्टिव केस हैं। 98325 मरीज ठीक हो चुके हैं और अबतक 511 लोगों की मौत हो चुकी है। देश में कोरोना से करीब 58 हजार लोगों की मौत हो चुकी है। इनमें सबसे अधिक महाराष्ट्र में कोरोना से लोगों की मौत हुई है। मंत्रालय के मुताबिक महाराष्ट्र में कोरोना से 22253 लोगों की मौत हो चुकी है और 1,71,859 एक्टिव केस हैं।

पढें राष्ट्रीय समाचार (National News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट
X