चीनी फैशन ब्रांड ‘शीन’ की भारत में फिर से एंट्री के खिलाफ याचिकाः केंद्र, अमेजन को HC का नोटिस

भारत सरकार ने 29 जून 2020 को 59 चीनी ऐप को प्रतिबंधित किया था। शीन पर भी प्रतिबंध लगाया गया था। हालांकि, अमेजन ने ऐलान किया है कि कंपनी 26-27 जुलाई की सेल में अपने उत्पादों की बिक्री करेगी।

Amazon, Prime Days, Shein
अमेजन ने 26-27 जुलाई को होने वाली सेल में शीन के उत्पादों की बिक्री का ऐलान किया है। (एक्सप्रेस फाइल फोटो)

दिल्ली उच्च न्यायालय ने चीन के फैशन ब्रांड ‘शीन’ को डिजिटल बाजार पर अपने उत्पादों की बिक्री के जरिए भारत में फिर से प्रवेश करने से रोकने के लिए दायर याचिका पर शुक्रवार को केंद्र और अमेजन से जवाब मांगा।

मुख्य न्यायाधीश डी एन पटेल और न्यायमूर्ति ज्योति सिंह की पीठ ने याचिका पर इस आधार पर नोटिस जारी किये। याचिका में कहा गया है कि केंद्र ने पिछले साल भारत के हितों तथा संप्रभुत्ता के लिए हानिकारक होने के कारण भारत में शीन को अस्थायी तौर पर प्रतिबंधित कर दिया था। बहरहाल, अदालत ने अभी इसकी बिक्री पर रोक लगाने के लिए कोई अंतरिम आदेश पारित करने से इनकार कर दिया।

याचिकाकर्ता अनंतिका सिंह की ओर से पेश वरिष्ठ वकील विवेक राज सिंह ने अदालत से अनुरोध किया कि वह मामले में हस्तक्षेप करें वरना ‘‘चीनी कंपनी के पास चला जाएगा।’’ अदालत ने कहा, ‘‘हम जवाब आने की तारीख पर इस पर गौर करेंगे।’’

राज सिंह ने अदालत को बताया कि अमेजन पर एक विज्ञापन है जिसमें कहा गया है कि वह अपनी प्राइम डे बिक्री के तौर पर शीन के उत्पादों की बिक्री करेगा। उन्होंने कहा, ‘‘भारत सरकार ने 29 जून 2020 को 59 चीनी ऐप को प्रतिबंधित किया था। शीन पर प्रतिबंध लगाया गया था।’’ इसके बाद सरकार ने पिछले साल सितंबर में 118 मोबाइल एप्लिकेशन को राष्ट्र की संप्रभुता, अखंडता और रक्षा के लिख खतरा बताते हुए ब्लॉक कर दिया। उन्होंने कहा कि देश में शीन के उत्पादों की बिक्री पर पूर्ण प्रतिबंध होना चाहिए। इस मामले पर अगली सुनवाई 20 अगस्त को होगी।

अपडेट
X