ताज़ा खबर
 

एक घंटे देरी से आया पायलट, प्‍लेन में बैठे उड्डयन मंत्री पर यात्रियों ने निकाली भड़ास

दिल्ली से विजयवाड़ा जाने वाली फ्लाइट में बैठे करीब 100 यात्रियों को पायलट की लापरवाही के कारण 1 घंटे तक इंतजार करना पड़ा। इस विमान में उड्डयन मंत्री अशोक गजपति राजू भी सवार थे।
एयर इंडिया का विमान (फाइल फोटो)

एयर इंडिया की एक फ्लाइट में पायलट ने आने में इतनी देरी कर दी कि यात्रियों को विमान के अंदर करीब 1 घंटे तक उसके उड़ने का इंतजार करना पड़ गया। इस घटना के बाद एयर इंडिया ने अपने तीन कर्मचारियों को तो निलंबित कर ही दिया है साथ ही साथ पायलट को भी इस हरकत की वजह से चेतावनी दी है। बुधवार को दिल्ली से विजयवाड़ा जाने वाली फ्लाइट में बैठे करीब 100 यात्रियों को पायलट की लापरवाही के कारण 1 घंटे तक इंतजार करना पड़ा। इस विमान में उड्डयन मंत्री अशोक गजपति राजू भी सवार थे, पायलट की देरी से गुस्साए लोगों ने मंत्री पर ही अपनी भड़ास निकाल दी।

गजपति राजू ने एयर इंडिया के नए चीफ प्रदीप खरोला से इस मामले में सफाई मांगी। यात्रियों ने उड्डयन मंत्री से मांग की थी कि वह पता लगाएं कि विमान को उड़ान भरने में देरी क्यों हो रही है, जिसके बाद मंत्री ने यह एक्शन लिया। जब यात्रियों ने गजपति राजू को घेर लिया तब उन्होंने तुरंत ही खरोला को फोन लगाया और मामले की पूछताछ की।

एयरलाइन के प्रवक्ता जीपी राव ने इस बात की पुष्टि कर दी है कि बुधवार को विमान AI-459 ने अपने निश्चित समय से 1 घंटे 30 मिनट देरी से उड़ान भरी थी। उन्होंने बताया, ‘यात्रियों ने विरोध किया और मंत्री जी से ही उड़ान में देरी होने के कारणों के बारे में सवाल किया। जिसके तुरंत बाद ही मंत्री जी ने एयर इंडिया के सीएमडी प्रदीप खरोला को फोन लगाकर इस मामले के बारे में पूछताछ की। पायलट को देरी से एयरपोर्ट आने की वजह से एक चेतावनी भरा खत जारी कर दिया गया है।’

बता दें कि विमान को सुबह 6 बजे उड़ान भरना था, लेकिन आसमान थोड़ा साफ हो जाए और विजिबिलिटी भी क्लियर हो जाए, इसके कारण एयरलाइन ऑपरेशन ने थोड़ा इंतजार करना सही समझा, लेकिन कुछ समय बाद जब फ्लाइट के उड़ने का वक्त हो गया तब तक पायलट वहां नहीं पहुंच सका था। पायलट को सुरक्षाकर्मियों ने किसी कारणों से रोक लिया था। केवल को-पायलट ही विमान तक समय पर पहुंच सका था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.