ताज़ा खबर
 

PHOTOS: ‘जैसे रावण की जान नाभि में थी, वैसे ही BJP की जान EVM में’, पोस्टर ले आंदोलन में पहुंचा किसान; बोला- ये खत्म, तो भाजपा खत्म

देश जहां एक ओर गणतंत्र दिवस मना रहा है वहीं कृषि कानूनों का विरोध कर रहे किसान दिल्ली में रैली कर रहे हैं।

किसान आंदोलन में पोस्टर लेकर पहुंचा किसान।

देश जहां एक ओर गणतंत्र दिवस मना रहा है वहीं कृषि कानूनों का विरोध कर रहे किसान दिल्ली में रैली कर रहे हैं। रैली कर रहे किसानों और दिल्ली पुलिस के बीच कई जगहें झड़प की खबरें भी सामने आई हैं। पुलिस ने जहां किसानों पर आंसू गैस के गोल छोड़े वहीं किसानों की ओर से भी कई जगह तोड़ फोड़ की गई है।आंदोलन में पोस्टर लेकर पहुंचे एक किसान ने पोस्टर में लिखा हुआ था, ”जैसे रावण की जान नाभि में थी, वैसे ही BJP की जान EVM में है’।

दिल्ली की सीमा पर पुलिस की बैरिकेडिंग तोड़ने के बाद प्रदर्शनकारी किसान दिल्ली के आईटीओ और लाल किले में अपने ट्रैक्टरों के साथ पहुंचे। जिस रास्ते पर ट्रैक्टर रैली के लिए अनुमति दी गई थी किसानों ने उस पर रैली नहीं की। झंडों के साथ हजारों किसान मार्च करते देखे गए।

दिल्ली पुलिस ट्रैक्टरों की कतारों के बीच रास्ता बनाती दिखी। अक्षरधाम के पास पुलिसकर्मियों ने एक ओवरब्रिज से किसानों पर आंसू गैस के गोले दागे। मुकरबा चौक पर प्रदर्शनकारियों ने कथित तौर पर पुलिस पर पत्थर फेंके।

Farm Laws, New Delhi, India News

दिल्ली मेट्रो ने आज कई मेट्रो स्टेशनों पर प्रवेश और निकास द्वार बंद कर दिए।

दिल्ली पुलिस ने गणतंत्र दिवस परेड के लिए यातायात एडवाइजरी जारी की है। ट्रैफिक डायवर्जन और वैकल्पिक मार्गों को पुलिस ने ट्विटर पर पोस्ट किया है।

18 महीने तक कानून को टालने की अंतिम पेशकश को किसानों ने ठुकरा दिया था।

किसानों और सरकार के बीच कई दौर की वार्ता हुई लेकिन कोई नतीजा नहीं निकल सका है।

इससे पहले केंद्र ने सुप्रीम कोर्ट में इस ट्रैक्टर रैली का विरोध किया था।

 

Next Stories
1 ट्रैक्टर परेड के बीच ITO पर जबदस्त हंगामा! जब किसान खेमे के बीच फंसा जवान, देखें फिर क्या हुआ
2 आबे, सुमित्रा, तरुण गोगोई, रामविलास समेत 119 को पद्म पुरस्कार
3 बकवास मत कर…गद्दार- जब पैनलिस्ट पर आपा खो बैठे रिटायर्ड मेजर; लाल सलाम-लाल सलाम चिल्लाने लगे मेहमान
ये पढ़ा क्या?
X