X

पेट्रोल की महंगाई को नरेंद्र मोदी ने बताया था सरकार की नाकामी का सबूत, अरुण जेटली ने कहा था- वोट नहीं देगी जनता

तेल की कीमतों पर बीजेपी के नेताओं के बयानों का एक वीडियो क्लिप इन दिनों सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। इस क्लिप में नरेंद्र मोदी और अरुण जेटली के अलावा राजनाथ सिंह, प्रकाश जावड़ेकर और मुख्तार अब्बास नकवी के बयान हैं।

तेल की बढ़ती कीमतों पर देशभर में हंगामा मचा हुआ है लेकिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इस मामले पर चुप्पी साधे हुए हैं। हालांकि, पीएम बनने से पहले साल 2012 में तेल की बढ़ती कीमतें और बढ़ती महंगाई को नरेंद्र मोदी ने दिल्ली की सरकार की नाकामी का सबूत बताया था। तब 24 मई 2012 को दिल्ली में पेट्रोल 73.18 रुपये प्रति लीटर बिक रहा था।  बदें कि आज देश में पेट्रोल की कीमत 88 रूपये को पार कर चुकी है जबकि डीजल भी 72 रुपये प्रति लीटर बिक रहा है। पिछले कई हफ्तों से तेल की कीमतों में लगातार इजाफा हो रहा है। इसके खिलाफ कांग्रेस समेत तमाम विपक्षी दलों ने सोमवार को भारत बंद का आह्वान किया था। कांग्रेस को 21 विपक्षी दलों ने साथ दिया था।

इसी तरह का विरोध-प्रदर्शन तब बीजेपी ने किया था जब केंद्र में यूपीए-2 की मनमोहन सिंह की सरकार थी। उस वक्त अरुण जेटली ने कहा था कि कांग्रेस पार्टी आम आदमी का नारा देकर शासन में आई लेकिन उसी आम आदमी के खिलाफ षडयंत्र कर रही है। जेटली ने कहा था कि आगामी चुनावों में लोग कांग्रेस सरकार को उखाड़ फेकेंगे। मनमोहन सिंह पर निशाना साधते हुए जेटली ने कहा था, “प्रधानमंत्री जी अगर पेड़ पर पैसे नहीं उगते हैं तो पेड़ से वोट भी नहीं टपकेंगे।”

देखिए- मई 2012 का विडियो:

बता दें कि बीजेपी के नेताओं के बयानों का एक वीडियो क्लिप इन दिनों सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। इस क्लिप में नरेंद्र मोदी और अरुण जेटली के अलावा राजनाथ सिंह, प्रकाश जावड़ेकर और मुख्तार अब्बास नकवी के बयान हैं। ये सभी लोग आज केंद्र सरकार में मंत्री हैं। मनमोहन सिंह सरकार पर निशाना साधने वाले ये सभी लोग आज महंगाई, तेल की बढ़ती कीमतों, एलपीजी सिलेंडर के बढ़ते दाम और रुपये की कमजोरी पर चुप्पी साधे हुए हैं। उस वक्त राजनाथ सिंह ने कहा था कि महंगाई की वजह से सबसे बड़ी मार गरीबों पर पड़ रही है। प्रकाश जावड़ेकर ने भी आरोप लगाया था कि अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमत गिरने के बावजूद मनमोहन सरकार तेल के दाम बढ़ा रही है। नकवी ने आरोप लगाया था कि बाजार माफिया तेल के जरिए महंगाई पर हर दो महीने पर तड़का लगा रही है और सरकार उन माफियाओं को संरक्षण दे रही है।

  • Tags: Narendra Modi,