दीवाली से पहले पेट्रोल-डीजल की कीमतों में लगी आग: आज फिर बढ़े पेट्रोल के दाम, बालाघाट में पेट्रोल 121.29 रुपए और डीजल 110.19 के पार

मंगलवार को धनतेरस के मौके पर भी तेल के दामों में बढ़ोतरी हुई है, हालांकि डीजल के दाम में स्थिर रहे लेकिन पेट्रोल के दाम बढ़ गए। ताजा जानकारी के अनुसार राजधानी दिल्ली में 35 पैसे प्रति लीटर की बढ़ोतरी के बाद अब पेट्रोल 110 रुपये के पार पहुंच गया है।

petrol price, kumar vishwas, petrol price in delhi today
तस्वीर का इस्तेमाल प्रतीकात्मक प्रस्तुतीकरण के लिए किया गया है। (Photo-File)

दिवाली से पहले महंगाई ने आम आदमी की मुश्किलों को बढ़ा दिया है, पेट्रोल डीजल की कीमतों में लगी आग ने त्योहारों की रौनक को फीका कर दिया है। मंगलवार को धनतेरस के मौके पर भी तेल के दामों में बढ़ोतरी हुई है, हालांकि डीजल के दाम में स्थिर रहे लेकिन पेट्रोल के दाम बढ़ गए। ताजा जानकारी के अनुसार राजधानी दिल्ली में 35 पैसे प्रति लीटर की बढ़ोतरी के बाद अब पेट्रोल 110 रुपये के पार पहुंच गया है, दिल्ली में आज पेट्रोल का दाम 110.04 रुपये जबकि डीजल 98.42 रुपये प्रति लीटर है।

मध्य प्रदेश और राजस्थान के कई जिले तो रिकॉर्ड तोड़ रहे हैं। मध्य प्रदेश का बालाघाट में पेट्रोल 121.29 रुपए और डीजल 110.19 रुपये प्रति लीटर के दाम पर मिल रहा है।

अक्टूबर में इतने बढ़े दाम: अगर सिर्फ अक्टूबर महीने में हुई बढ़ोतरी की बात की जाए तो अकेले अक्टूबर महीने में पेट्रोल और डीजल के दाम करीब 8 रुपये प्रति लीटर बढ़ गए। जानकारी के अनुसार अक्टूबर महीने में पेट्रोल 7.45 रुपए महंगा हुआ जबकि डीजल के दाम 7.90 रुपये प्रति लीटर बढ़े।

कांग्रेस ने कसा तंज: राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने केंद्र सरकार पर निशाना साधते हुए मंगलवार को कहा कि आजादी के अमृत महोत्सव को पेट्रोल, डीजल व रसोई गैस के बढ़ते दामों के लिए याद रखा जाएगा। गहलोत ने ट्वीट किया कि आजादी के 75वें वर्ष (अमृत महोत्सव) को पेट्रोल, डीजल, रसोई गैस के दामों में रिकॉर्ड बढ़ोतरी के लिए हमेशा याद रखा जाएगा। गहलोत ने कहा कि पेट्रोल, डीजल, रसोई गैस, खाद्य तेल व सब्जियों के दाम जिस तरह से बढ़ रहे हैं, उसे देखकर ऐसा लगता है कि मोदी सरकार ने जनता को महंगाई का ‘दिवाली उपहार’ दिया है। पहले सरकारें प्रयास करती थीं कि त्योहारों पर महंगाई कम से कम हो जिससे आमजन हंसी-खुशी से त्योहार मना सकें।

उन्होंने तंज कसते हुए लिखा है, कि दीवाली से सिर्फ तीन दिन पहले व्यावसायिक एलपीजी सिलेंडर के दाम 266 रुपये बढ़ाकर मोदी सरकार ने दिवाली पर मिठाइयां महंगी करने का इंतजाम कर दिया है। पेट्रोल 116 रुपये प्रति लीटर एवं डीजल 108 रुपये प्रति लीटर हो गया है। घरेलू रसोई गैस सिलेंडर एक साल में 598 रुपये से 305 रुपये बढ़कर 903 रुपये हो गया है।

गहलोत ने कटाक्ष किया, ‘‘राज्य सरकार ने प्रतिभाशाली छात्राओं को कॉलेज आने जाने में सुविधा के लिए स्कूटियां बांटी हैं, लेकिन बच्चियां मोदी सरकार से पूछ रहीं हैं कि इतना महंगा पेट्रोल कैसे खरीदें?’’

पढें राष्ट्रीय समाचार (National News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट