ताज़ा खबर
 

दिल्ली HC में अमिताभ बच्चन की आवाज़ वाली कॉलर ट्यून के खिलाफ याचिका दायर, हटाने की मांग पर 18 जनवरी को होगी सुनवाई

याचिकाकर्ता का कहना है कि सिने स्टार अमिताभ बच्चन सामाजिक कार्यकर्ता नहीं है और ना ही उन्होंने कोविड-19 जागरूकता अभियान में राष्ट्र की सेवा करने के लिए कोई भागीदारी की है, बल्कि इसके लिए उनको सरकार से मेहनताना दिया गया है।

mobile caller tuneकोरोना के प्रति जागरूक करने को लेकर मोबाइल पर सिनेस्टार अमिताभ बच्चन की आवाज वाली कॉलर ट्यून हटाने की मांग। (फोटो- अमिताभ बच्चन ब्लॉग)

दिल्ली हाईकोर्ट में दायर की गई जनहित याचिका में मांग की गई है कि कोरोना वायरस के खतरे के प्रति जागरूक करने के लिए मोबाइल के कॉलर ट्यून में अमिताभ बच्चन की जगह उन कोरोना वॉरियर्स की आवाज शामिल की जाए जिन्होंने लॉकडाउन के दौरान लोगों की भरपूर सेवा की। याचिका में मांग की गई है कि अभिनेता अमिताभ बच्चन की आवाज़ वाली कॉलर ट्यून हटाई जानी चाहिए। याचिका को राकेश नाम के एक शख्स ने एडवोकेट एके दुबे और पवन कुमार के जरिए दायर की है। दिल्ली हाईकोर्ट ने याचिका को सुनवाई के लिए स्वीकार कर लिया है और 18 जनवरी को इस पर सुनवाई करेगा।

याचिका में यह भी कहा गया है कि अमिताभ बच्चन इस काम के लिए भारत सरकार से पैसे ले रहे हैं, जबकि देश में ऐसे बहुत से कोरोना वॉरियर्स मौजूद हैं, जिन्होंने कोरोना काल में आम लोगों की हर तरह से बिना पैसे लिए मदद की है। वे इस काम के लिए भी पैसे नहीं लेंगे। कहा कि कोरोना काल में समाज सेवक के रूप में काम करने वाले कोरोना वॉरियर्स को मोबाइल की कॉलर ट्यून में कोविड-19 जागरूकता कार्यक्रम के तहत हिस्सेदारी दी जानी चाहिए। ये अपनी सेवाएं मुफ्त देंगे। इन्होंने समाज के लिए पहले ही कोरोना पीड़ितों की मदद करके एक मिसाल कायम कर चुके हैं।

याचिकाकर्ता का कहना है कि सिने स्टार अमिताभ बच्चन सामाजिक कार्यकर्ता नहीं है और ना ही उन्होंने कोविड-19 जागरूकता अभियान में राष्ट्र की सेवा करने के लिए कोई भागीदारी की है, बल्कि इसके लिए उनको सरकार से मेहनताना दिया गया है। लिहाजा मोबाइल के कॉलर ट्यून से अमिताभ बच्चन की आवाज हटाई जानी चाहिए।

कॉलर ट्यून में अमिताभ बच्चन बोल रहे- नमस्कार, हमारा देश और पूरा विश्व आज कोविड-19 की चुनौती का सामना कर रहा है. कोविड-19 अभी खत्म नहीं हुआ है, ऐसे में हमारा फर्ज है कि हम सतर्क रहें. इसलिए जब तक दवाई नहीं, तब तक कोई ढिलाई नहीं. दो गज दूरी, मास्क है जरूरी. कोरोना से बचाव के लिए जरूरी है, नियमित रूप हाथ धोना, मास्क पहनना और आपस में उचित दूरी बनाए रखना।

Next Stories
1 15 देशों ने दिया 6 vaccine को Approval, जानिए कौन सी है सबसे ज्यादा प्रभावी
2 कांग्रेस का आरोप, मोदी सरकार चला रही पेट्रोल-डीज़ल-गैस में लूट का खेल, चुपचाप बढ़ा दी कीमतें
3 किसान कर रहे ट्रैक्टर रैली का रिहर्सल, सुप्रीम कोर्ट ने सरकार से कहा- तबलीगी ज़मात के मरकज़ वाला हाल नहीं होना चाहिए
आज का राशिफल
X