scorecardresearch

बुलडोजर सेक्युलर है, योगी के मंत्री का भी अवैध निर्माण टूटा है- पैनलिस्ट का दावा, नूपुर के सपोर्ट में उतरे मुफ्ती शामून कासमी

डिबेट में मौजूद मुफ्ती शामून कासमी ने नूपुर शर्मा के विरोध में किए जा रहे प्रदर्शनों को लेकर कहा कि अब इनका कोई मतलब नहीं, जब बीजेपी उसे पार्टी से निकाल चुकी है, इस्लाम इसकी इजाजत नहीं देता।

Bulldozer Action| Bulldozer
यूपी में बुलडोजर एक्शन (Express representational image)

उत्तर प्रदेश में बुलडोजर एक्शन पर एक टीवी डिबेट के दौरान पैनलिस्ट शिवम त्यागी ने बुलडोजर को सेक्यूलर बताया और कहा कि इस कार्रवाई में योगी के एक मंत्री का भी अवैध निर्माण टूटा है। पैगंबर मोहम्मद पर विवादित टिप्पणी को लेकर उत्तर प्रदेश में हुए हिंसात्मक प्रदर्शनों में हुई गिरफ्तारियों के बाद बुलडोजर एक्शन को लेकर योगी सरकार पर सेलेक्टिव टार्गेट का आरोप लगाया जा रहा है।

पैनिल्सट ने उत्तर प्रदेश सरकार में मंत्री नंद गोपाल नंदी के अवैध निर्माण पर बुलडोजर चलने का जिक्र करते हुए कहा कि इससे ज्यादा हिंदू-मुस्लिम एकता की कोई बात नहीं हो सकती। उन्होंने दावा करते हुए कहा कि बुलडोजर सेक्यूलर है।

टीवी डिबेट में पैनलिस्ट ने कहा कि अभी तक करीब 322 से 323 के करीब गिरफ्तारियां हुई हैं, लेकिन सिर्फ 7 या 8 पर ही यह ऑर्डर निकला है। उन्होंने कहा कि बाकी भी तो मुसलमान हैं उनपर ऑर्डर नहीं निकला है, तो मामला साफ है कि उनका घर ऑथराइज्ड जगह पर बना हुआ है।

वहीं, डिबेट में मौजूद मुफ्ती शामून कासमी ने नूपुर शर्मा के विरोध में किए जा रहे प्रदर्शनों को लेकर कहा कि अब इनका कोई मतलब नहीं, जब बीजेपी उसे पार्टी से निकाल चुकी है। यह इस्लाम की तालीम के खिलाफ है। हालांकि, उन्होंने नूपुर शर्मा की विवादित टिप्पणी पर असहमति भी जताई। उन्होंने कहा कि जिन औरतों के लिए उस नबी ने इतनी कुर्बानी दी हो कि जिन्हें इस्लाम से पहले यह मुकाम हासिल नहीं था।

उन्होंने नूपुर शर्मा का समर्थन करते हुए कहा कि अगर वह नादानी में यह बात कह गई, जबकि वहां मौजूद एक शख्स उसे उकसा रहा था। उन्होंने कहा कि नूपुर ने खेद भी जताया है, तो अब जो लोग नारे लगा रहे हैं उसका इस्लाम की तालीम से कोई ताल्लुक नहीं है।

उन्होंने कहा कि अराजकता फैलाकर ये लोग इस्लाम को खुद बदनाम करवा रहे हैं, जबकि यह अमल और शांति वाला धर्म है। मैं कहता हूं कि संसार का पहला ज्ञान वेद और अंतिम ज्ञान कुरान है, दोनों का मूल एक ही है।

पढें राष्ट्रीय (National News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

X