ताज़ा खबर
 

हार्दिक पटेल और अल्पेश के रिश्तों में आई कड़वाहट, पाटीदार नेता ने ठाकोर को बताया अमित शाह का ‘भेदिया’

पिछले एक साल के भीतर दोनों युवा नेताओं हार्दिक पटेल और अल्पेश ठाकोर के बीच मतभेद बढ़ गए हैं। कांग्रेस से इस्तीफा देने के बाद अल्पेश ठाकोर खुलकर पार्टी के खिलाफ बोल रहे हैं।

Author गांधीनगर | Published on: November 6, 2019 9:58 AM
hardik patel, hardik patel congress, hardik patel alpesh thakor, vijay rupani, gujarat bjp chief, gujarat news, india news, Hindi news, news in Hindi, latest news, today news in Hindiहार्दिक ने सोशल मीडिया पोस्ट के जरिये अमित शाह का हवाला देते हुए अल्पेश ठाकोर पर निशाना साधा। (फाइल फोटो)

गुजरात में पाटीदार नेता हार्दिक पटेल ने कांग्रेस छोड़कर भाजपा में शामिल होने वाले अल्पेश ठाकोर पर निशाना साधा है। कांग्रेस नेता हार्दिक पटेल ने सोशल मीडिया पोस्ट के जरिये अल्पेश ठाकोर को साल 2017 में हुए विधानसभा चुनाव में पार्टी की हार के लिए जिम्मेदार ठहराया।

हार्दिक ने आरोप लगाया कि अल्पेश ठाकोर कांग्रेस में भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह द्वारा भेजे गए ‘भेदिया’ के रूप में काम कर रहे थे। पाटीदार नेता ने कहा कि भाजपा ने खुद भी यह अनुमान लगाया था कि कांग्रेस को विधानसभा चुनाव में उनसे अधिक सीटें मिलेंगी।

हार्दिक ने आरोप लगाया कि शाह ने ही अल्पेश को कांग्रेस नेतृत्व से चुनाव के लिए 10 सीटों की मांग करने के लिए कहा था। ऐसी स्थिति में कांग्रेस के पास बहुत कम बहुमत से चुनाव जीतती। शाह के इशारे पर ही अल्पेश अपने समर्थकों के साथ भाजपा में शामिल हो गए।

हार्दिक के अनुसार अल्पेश ने साल 2017 में पार्टी के किसी भी अन्य उम्मीदवार को लिए चुनाव प्रचार नहीं किया। इतना ही नहीं भाजपा ने अल्पेश के खिलाफ कमजोर उम्मीदवार उतारा। मालूम हो कि ओबीसी नेता अल्पेश ठाकोर ने लोकसभा चुनाव से पहले भाजपा का दामन थाम लिया था। उन्होंने विधायक पद से भी इस्तीफा दे दिया था।

अल्पेश ने कहा था कि वह अपमान और धोखे की वजह से कांग्रेस छोड़ रहे हैं। उन्होंने कांग्रेस पर टिकट बेचने, ठाकोर समाज का अपमान, उपेक्षा और विश्वासघात करने का आरोप लगाया था। भाजपा में शामिल होने के बाद पार्टी ने उन्हें राधनपुर सीट से उपचुनाव का टिकट दिया। हालांकि, इस चुनाव में अल्पेश ठाकोर को हार का सामना करना पड़ा।

वहीं, अल्पेश के कांग्रेस छोड़ने पर हार्दिक ने कहा था कि पार्टी ने अल्पेश को काफी इज्जत और ताकत दी लेकिन वह इसे संभाल नहीं पाए। अल्पेश 2017 में कांग्रेस में शामिल हुए थे। करीब 18 महीने तक कांग्रेस में रहने के बाद उन्होंने पार्टी के सभी पदों से इस्तीफा दे दिया था।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 Bhim Army के चंद्रशेखर ने मायावती से की दोस्ती की अपील, कहा- साथ आओ, मिलकर BJP से लड़ेंगे
2 हिमाचलः साल में दो बार कर सकेंगे प्याज की खेती
3 यूपीः इमारतों के मलबे से बनेगी निर्माण सामग्री, जर्मनी से आएंगी मशीनें