ताज़ा खबर
 

अरे, ये एंटीबायटिक्स-स्टेरॉइड्स पागलपन में मत दो, ये इबोला की दवा है…फिर भी ठोंके जा रहे- रामदेव का इंटरव्यू में सनसनीखेज दावा

रामदेव ने कहा, 'सारे जानकार ये कह रहे हैं कि दवाएं पागलपन में मत दो। कोरोना के लिए ये संजीवनी नहीं हैं। इबोला की दवा हैं।'

हाथ में कोरोनिल लिए हुए योग गुरु रामदेव। (एक्सप्रेस फोटो)।

एबीपी न्यूज पर योगगुरु स्वामी रामदेव ने कहा कि देश में कोरोना से पीड़ित मरीजों को पागलपन में एंटीबायटिक्स और स्टेरॉइड्स दिए जा रहे हैं। रामदेव ने टीवी पर यहां तक कह दिया कि इस तरह की दवाएं देकर ही रोहित सरदाना जैसे लोगों को मारा गया।

दरअसल शो में एंकर रुबिका लियाकत ने योगगुरु स्वामी रामदेव से पूछा कि क्या कोरोना के इलाज के लिए जो दवाएं जरूरी हैं। वह हैं क्या आपके पास? रामदेव ने कहा, ‘प्लाजमा थेरेपी के लिए मैं कोई वादा नहीं कर रहा हूं। लेकिन रेमडिसिविर, स्टेरॉइड्स से लेकर एंडीबॉडी तक जिसकी भी जरूरत होगी वो जीवनरक्षक दवाएं दी जाएंगी। लेकिन पागलपन के साथ नहीं।’ रामदेव ने कहा, ‘सारे जानकार ये कह रहे हैं कि दवाएं पागलपन में मत दो। कोरोना के लिए ये संजीवनी नहीं हैं। इबोला की दवा हैं। फिर भी ठोके जा रहे हैं। ये दवाएं देकर रोहित सरदाना और ऐसे ही न जाने कितने लोगों को मारा गया है।’

बता दें कि आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे, हिमाचल के सीएम जय राम ठाकुर, एमपी के सीएम शिवराज चौहान और तमिलनाडु के सीएम एमके स्टालिन से उनके राज्यों में कोरोनो वायरस की स्थिति पर बात की। मोदी राज्यों में महामारी की स्थिति का जायजा लेने के लिए पिछले कुछ दिनों से टेलीफोन पर मुख्यमंत्रियों के साथ बातचीत कर रहे हैं।

इस बीच दिल्ली को अधिक वैक्सीन देने के लिए केंद्र से आग्रह करते हुए, मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने शनिवार को कहा कि दिल्ली में केवल 5-6 दिनों के टीके बचे हैं क्योंकि लगभग दिल्ली में हर रोज 1 लाख लोग टीकाकरण करवा रहे हैं। केजरीवाल ने यह भी कहा कि अगर केंद्र हर महीने 80-85 लाख खुराक देता है, तो 3 महीने के भीतर दिल्ली अपने टीकाकरण अभियान को समाप्त कर सकती है।

मालूम हो कि भारत में शनिवार सुबह पिछले 24 घंटों में कोरोना के 4 लाख नए मामले दर्ज किए गए। देश में कोरोना के कुल मामले 2.18 करोड़ से ऊपर हो गए हैं। इनमें से, 37 लाख से अधिक मामले वर्तमान में सक्रिय हैं, जबकि 1.79 करोड़ से अधिक लोग ठीक हुए हैं। 4,187 नई मौतों के साथ, मौत का कुल आंकड़ा अब 2.38 लाख से अधिक है।

Next Stories
1 कोविड-19 संकट : थाईलैंड, कतर जैसे देशों से चिकित्सा आपूर्ति पहुंचना जारी, यूएन एजेंसियों ने दिए 10 हजार कंसंट्रेटर
2 कोरोना काल में अंधेरगर्दी: मरीज ले जाने को एंबुलेंस वाले ने वसूल लिए 1 लाख से अधिक रुपए! रेमडेसिविर की कालाबाजारी में सरकारी डॉक्टर तक लिप्त
3 इस वक्त तबादला करने वाले अफसरों का हो हर हफ़्ते तबादला- बैंकों में तबादले पर रवीश कुमार की तंज भरी टिप्पणी
ये पढ़ा क्या?
X