ताज़ा खबर
 

दिल्ली के पंजाबी बाग में निर्माणाधीन अंडरपास का एक हिस्सा गिरा, एक मजदूर की मौत

दिल्ली के पंजाबी बाग में निर्माणाधीन अंडरपास का एक हिस्सा गिर गया जिसमें एक मजदूर की मौत हो गयी। घटना के बाद राहत और बचाव का कार्य जारी है।

Delhi, bridge , Punjabi Baghदिल्ली में निर्माणाधीन पुल का एक हिस्सा ढह गया (फोटो -ANI)

दिल्ली के पंजाबी बाग में निर्माणाधीन अंडरपास का एक हिस्सा गिर गया जिसमें एक मजदूर की मौत हो गयी। घटना के बाद राहत और बचाव कार्य शुरू कर दिया गया है। दमकल विभाग के अधिकारियों ने बताया कि एक मजदूर मलबे में दब गया था, जिसकी मौत हो गयी। फायर बिग्रेड की दो गाड़ियां मौके पर मौजूद है।

गौरतलब है कि हाल ही में हरियाणा में गुरुग्राम-द्वारका एक्सप्रेसवे पर निर्माणाधीन फ्लाईओवर गिरने से बड़ा हादसा हुआ था। इस घटना में दो मजदूर घायल हो गए थे। इस घटना में एक फ्लाईओवर के 250 मीटर के दो स्लैब गिर गए थे। सिगमेंट को शिफ्ट करने के लिए काम कर रही हाइड्रोलिक मशीन भी ध्वस्त हो गयी थी। उस घटना के समय वहां पर कम ही मजदूर काम कर रहे थे। हालांकि लोगो ने निर्माण कार्य कर रही कंपनी पर लापरवाही का आरोप लगाया था।

बनारस में हुआ था बड़ा हादसा: साल 2018 में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के क्षेत्र वाराणसी में एक पुल गिरने से बड़ा हादसा हुआ था। उस घटना में लगभग 20 मजदूरों की मौत हो गय थी। 2018 में हुए उस हादसे के बाद कई सवाल खड़े होने लगे थे।

कोलकाता में भी हुआ था हादसा: पिछले एक दशक में देश के कई हिस्सों में निर्माणाधीन पुल के गिरने की घटना हुई है। साल 2016 में उत्तरी कोलकाता के भीड़-भाड़ वाले इलाके में एक पुल गिर गया था जिसमें 26 लोगों की मौत हो गयी थी जबकि 90 से अधिक लोग घायल हो गये थे।

साल 2018 में कोलकाता के मजेरहाट में हुए एक अन्य हादसे में एक की मौत हो गयी थी जबकि 19 अन्य लोग घायल हो गये थे। यह पुल माजेरहाट रेलवे स्टेशन के ऊपर से गुजरता था। यह कोलकाता को 24 परगना जिले से जोड़ता था। बताते चलें कि देश में तेजी से बढ़ते जनसंख्या के कारण ट्रैफिक की समस्या बढ़ती गयी है। जिस कारण सरकार की तरफ से लगभग हर शहर में अंडरपास और फ्लाईओवर का निर्माण किया जा रहा है।

Next Stories
1 एंकर होते तो क्या करते?- SRK के सवाल पर लालू यादव ने दिया था ये जवाब
2 BJP का 41वां स्थापना दिवसः कभी LS में थीं 2 सीटें, आज हैं 300 सांसद; अटल-आडवाणी से लेकर पार्टी उदय में रहा RSS का भी ‘हाथ’
3 गुजरात की राजधानी का घेराव करने का आ गया है वक्त, जरूरत पड़ी तो तोड़ डालेंगे बैरिकेड- राकेश टिकैत की धमकी
ये पढ़ा क्या?
X