ताज़ा खबर
 

Parliament Winter Session Highlights: FM को ‘निर्बला’ कहने पर अधीर रंजन ने जताया खेद, बोले- निर्मला सीतारमण बहन हैं

Parliament Winter Session 2019 Today Highlights: इससे पहले, आज मोदी कैबिनेट से नागरिकता संशोधन विधेयक को मंजूरी मिल गई है, जबकि विपक्ष ने विरोध करते हुए कहा है कि यह संविधान के खिलाफ है।

Author नई दिल्ली | Updated: Dec 04, 2019 8:23:50 pm
लोकसभा में बुधवार को अपनी बात रखते हुए कांग्रेस के नेता अधीर रंजन चौधरी। (फोटोः LSTV/ANI)

Parliament Winter Session 2019 Highlights: लोकसभा में कांग्रेस के नेता अधीर रंजन चौधरी ने वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण को ‘निर्बला’ कहने के लिए बुधवार को खेद प्रकट किया। अनुदान की अनुपूरक मांगों पर चर्चा के दौरान चौधरी ने कहा कि वित्त मंत्री ‘‘मेरी बहन जैसी हैं और मैं उनके भाई की तरह हूं। मैं खेद प्रकट करता हूं।’’

दरअसल, कार्पोरेट कर में कटौती से जुड़े ‘कराधान विधि (संशोधन) विधेयक 2019’ पर सोमवार को लोकसभा में चर्चा के दौरान चौधरी ने कहा था कि वह वित्त मंत्री का सम्मान करते हैं, लेकिन ऐसा लगता है कि उन्हें रोका जा रहा है और ऐसे में उन्हें निर्मला नहीं, ‘निर्बला’ कहा जा सकता है।

सत्ता पक्ष के सदस्यों खासकर वित्त राज्य मंत्री अनुराग ठाकुर ने कड़ी आपत्ति जताते हुए कहा था कि चौधरी को इसके लिए खेद प्रकट करना चाहिए। वित्त मंत्री सीतारमण ने भी कांग्रेस नेता पर पलटवार करते हुए कहा था कि भाजपा में हर महिला ‘सबला’ है।

Live Blog

Highlights

    20:15 (IST)04 Dec 2019
    धार्मिक आधार पर नहीं होगा NRC: सरकार

    प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली NDA सरकार ने बुधवार को संसद में साफ किया कि उसकी ओर से धार्मिक आधार पर देश में नेशनल सिटिजंस ऑफ रजिस्टर (NRC) कराने का कोई प्लान नहीं था। उच्च सदन में यह जानकारी गृह राज्य मंत्री नित्यानंद राय की ओर से TMC सदस्य अहमद हसन के प्रश्न के रूप में दी गई।

    तृणमूल सदस्य ने पूछा था कि क्या सरकार NRC पूरे देश में धार्मिक आधार पर लागू करेगी? राय ने जवाब में न कहा। सदस्य ने यह भी जानना चाहा कि सरकार ने देश भर में इसके लिए कुछ जगहें चिह्नित की हैं? मंत्री ने इस बाबत बताया कि जरूरत के हिसाब से राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के प्रशासनों द्वारा ऐसे केंद्र स्थापित किए गए हैं।

    20:14 (IST)04 Dec 2019
    चंद्रयान-2 विफल होने के सौगत राय के दावे को FM ने किया खारिज

    वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने चंद्रयान-2 के विषय पर तृणमूल कांग्रेस सांसद सौगत राय की टिप्पणी को खारिज करते हुए बुधवार को कहा कि इसरो का यह एक ऐसा प्रयास था जिस पर दुनिया और हम सभी को गर्व है। लोकसभा में वर्ष 2019-20 के लिए अनुदानों की अनुपूरक मांगों के प्रथम बैच पर हुई चर्चा का जवाब देते हुए सीतारमण ने कहा कि अत्याधुनिक विज्ञान के क्षेत्र में किस प्रकार से प्रयोग होते हैं, यह समझने की जरूरत है।

    उन्होंने कहा, ‘‘अगर चंद्रयान-2 की हार्ड लैंडिंग हुई तो इसे विफलता कैसे कहा जा सकता है।’’ भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) की प्रशंसा करते हुए वित्त मंत्री ने कहा, ‘‘इसरो का यह ऐसा प्रयास है, जिस पर हम सभी को गर्व है, पूरी दुनिया को गर्व है।’’ इससे पहले, चर्चा में भाग लेते हुए सौगत राय ने अंतरिक्ष विभाग को अतिरिक्त धन दिये जाने के सरकार के फैसले पर आपत्ति जताते हुए यह बात कही।

    19:37 (IST)04 Dec 2019
    नागरिकता बिल पर बोली Congress- स्वरूप देखने के बाद तय करेंगे रुख

    केंद्रीय मंत्रिमंडल की ओर से नागरिकता (संशोधन) विधेयक को मंजूरी दिए जाने के बाद कांग्रेस ने बुधवार को कहा कि पार्टी इस विधेयक का स्वरूप देखने के बाद इस पर अपना रुख तय करेगी। लोकसभा में पार्टी के नेता अधीर रंजन चौधरी ने संसद परिसर में संवाददाताओं से कहा, ‘‘नागरिकता विधेयक का स्वरूप देखने के बाद हम निर्णय करेंगे।’’

    उन्होंने कहा, ‘‘हम देखेंगे कि इस विधेयक का क्या स्वरूप है और इसमें क्या संशोधन किए गए हैं। इसके बाद हम अपना रुख तय करेंगे।’’ बता दें कि केंद्रीय मंत्रिमंडल ने नागरिकता (संशोधन) विधेयक को मंजूरी दी जिसमें पाकिस्तान, बांग्लादेश एवं अफगानिस्तान में धार्मिक आधार पर उत्पीड़न झेलने वाले अल्पसंख्यकों को नागरिकता प्रदान करने का प्रावधान है।

    18:23 (IST)04 Dec 2019
    मॉब लिंचिंग पर बोले अमित शाह...

    संसद के उच्च सदन यानी कि राज्य सभा में  आज दोपहर राजधानी दिल्ली की अवैध कॉलोनियों से जुड़ा बिल केंद्रीय मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने पेश किया। वहीं, गृह मंत्री अमित शाह ने बुधवार को मॉब लिंचिंग (भीड़ द्वारा की जाने वाले हत्याओं) पर कहा है कि इस चीज से निपटने और सुझाव मांगने के लिए सरकार ने मंत्रियों की एक समिति बनाई है।

    शाह के मुताबिक, उन मंत्रियों की इस बाबत बैठक हुई और सरकार को भी इस बारे में मालूम है। ऐसे मामलों में आईपीसी की धारा 300 और 302 के तहत कार्रवाई होगी।

    16:29 (IST)04 Dec 2019
    सीमा सुरक्षा पर सेना पूरी तरह चौकसः रक्षा मंत्री

    संसद के शीतकालीन सत्र का आज 13 वां दिन है। गृह मंत्री के बयान से पहले आज लोकसभा में रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि सीमा सुरक्षा को लेकर सेनाएं पूरी तरह चौकस हैं। रक्षा मंत्री ने कहा कि सरकार पूरी तरह जागरुक है।

    किसी को सीमा सुरक्षा के संबंध में चिंता करने की जरूरत नहीं है। सिंह ने कहा कि चीन के साथ वास्तविक नियंत्रण रेखा को लेकर धारणाएं अलग-अलग होने की वजह से अतिक्रमण की घटनाएं होती हैं।

    15:53 (IST)04 Dec 2019
    नागरिकता संशोधन विधेयक को मोदी कैबिनेट की मंजूरी

    वहीं नागरिकता संशोधन विधेयक को मोदी कैबिनेट की मंजूरी मिल गई है। इस मुद्दे पर कैबिनेट की बैठक संसद भवन के एनक्सी बिल्डिंग में हुई। सरकार शीतकालीन सत्र में ही इस बिल को पारित करवाने के लिए एड़ी-चोटी का जोर लगा रही है। हालांकि एनआरसी के बाद नागरिकता संशोधन विधेयक के कई प्रावधानों को लेकर विपक्ष पुरजोर विरोध करने की तैयारी में लगा हुआ है।

    पिछले लोकसभा सत्र में इस विधेयक को मंजूरी नहीं दी जा सकी थी, उसे पूर्वोत्तर में राज्यों द्वारा व्यक्त की गई चिंताओं को दूर करने के लिए फिर से तैयार किया गया है। बीजेपी ने भी संसद में अपनी उपस्थिति सुनिश्चित करने के लिए अपने सांसद को व्हिप जारी किया है।

    15:15 (IST)04 Dec 2019
    पाकिस्तान आतंकियों को पनाह देता है

    लोकसभा में कांग्रेस के अधीर रंजन चौधरी ने कहा- 'पाकिस्तान आतंकियों को पनाह देता है और चीन दूसरी ओर पाकिस्तान को पनाह देता है। चीन ने अंडमान और निकोबार तक शिप भेजने लगा है। जब पाकिस्तान की बात आती है तो हम आक्रामक होते हैं लेकिन चीन की बात आने पर हम इतने बैंलेस्ड क्यों हो जाते हैं।'

    15:06 (IST)04 Dec 2019
    सरकार ने मंत्रियों की एक समिति बनाई

    अमित शाह ने कहा कि इस मुद्दे से निपटने और सुझावों को आमंत्रित करने के लिए सरकार ने मंत्रियों की एक समिति बनाई जिसने एक बैठक की है और सरकार को इस मामले की जानकारी है। ऐसे मामलों में भारतीय दंड संहिता की धारा 300 और 302 के तहत कार्रवाई की जाती है।

    14:52 (IST)04 Dec 2019
    नागरिकता संशोधन विधेयक पास करने के लिए एड़ी-चोटी का जोर

    नागरिकता संशोधन विधेयक को मोदी कैबिनेट की मंजूरी मिल गई है। इस मुद्दे पर कैबिनेट की बैठक संसद भवन के एनक्सी बिल्डिंग में हुई। सरकार शीतकालीन सत्र में ही इस बिल को पारित करवाने के लिए एड़ी-चोटी का जोर लगा रही है। 

    14:32 (IST)04 Dec 2019
    पत्र लिखकर मांगे सुझाव

    शाह ने राज्यसभा में प्रश्नकाल के दौरान एक सवाल के जवाब में कहा कि इस बारे में सभी राज्यों के मुख्यमंत्रियों, उपराज्यपालों और राष्ट्रपति शासन वाले राज्यों के राज्यपालों को पत्र लिखकर सुझाव मांगे गए हैं। उन्होंने बताया कि राज्यों से आपराधिक मामलों की जांच से जुड़े विशेषज्ञों और लोक अभियोजकों से इस विषय में सुझाव एकत्र कर अवगत कराने को कहा गया है।

    14:09 (IST)04 Dec 2019
    भीड़ ंिहसा कानून में बदलाव पर विचार विमर्श जारी,

    गृह मंत्री अमित शाह ने राज्यसभा में कहा कि भीड़ ंिहसा के बारे में भारतीय दंड संहिता (आईपीसी) और दंड प्रक्रिया संहिता (सीआरपीसी) के प्रावधानों में बदलाव करने के बारे में एक समिति का गठन कर सभी संबद्ध पक्षों के साथ विचार विमर्श किया जा रहा है।

    13:13 (IST)04 Dec 2019
    BSNL और MTNLको बरकरार रखा जाएगा

    प्रसाद ने कहा कि किसी भी क्षेत्र में स्वस्थ प्रतिस्पर्धा के लिए एक पीएसयू का होना जरूरी है। सरकार की सोच साफ है कि बीएसएनएल और एमटीएनएल ‘सामरिक संपत्ति’ हैं और इनको बरकरार रखा जाएगा तथा उन्हें मुनाफे में लाया जाएगा। मंत्री ने कहा कि बीएसएनएल में लागत का बड़ा हिस्सा कर्मचारियों के वेतन पर होता है। ऐसे में हमने बहुत आकर्षक वीआरएस योजना शुरू की। 92000 हजार से अधिक कर्मचारियों ने वीआरएस लिया है।

    13:07 (IST)04 Dec 2019
    BSNL और MTNL इस सरकार के लिए ‘सामरिक संपत्ति’

    संचार मंत्री रविशंकर प्रसाद ने  लोकसभा में कहा कि बीएसएनएल और एमटीएनएल इस सरकार के लिए ‘सामरिक संपत्ति’ हैं और इन दोनों को लाभ में लाने के लिए पूरा प्रयास किया जाएगा। उन्होंने सदन में प्रश्नकाल के दौरान सदाशिव लोखंडे, राजीव रंजन सिंह, असदुद्दीन ओवैसी और कुछ अन्य सदस्यों के पूरक प्रश्नों के उत्तर में यह टिप्पणी की।

    Next Stories
    1 हैदराबाद रेप कांड के बाद पंजाब CM का ऐलान- रात में महिलाओं को घर छोड़ेगी पुलिस, उठाए जाएंगे ये कदम
    2 दिल्लीवासियों को Free WiFi की सौगात, केजरीवाल सरकार देगी हर महीने 15GB फ्री डेटा
    3 राहुल बजाज पर बीजेपी सांसद का न‍िशाना- क‍िसानों का 10 हजार करोड़ बकाया है तो डर लगेगा ही
    जस्‍ट नाउ
    X