संसद में ढेर सारी मिठाई-नमकीन लाते हैं, फिर भी इस एमपी से बात नहीं करते अपनी ही पार्टी के सांसद

जगनमोहन रेड्डी की पार्टी के सांसद के राजू को उनकी ही पार्टी के अन्य सांसद और नेता भाव नहीं दे रहे हैं। उनपर आरोप है कि वह पार्टी विरोधी गतिविधियों मे शामिल हैं।

k raju, ysrcp
वाईएसआरसीपी सांसद के रघु रामकृष्ण राजू। फोटो- एक्सप्रेस आर्काइव

संसद भवन में इन दिनों पेगासस को लेकर विपक्ष हंगामा कर रहा है और कार्यवाही ढंग से नहीं चल पा रही है। इसके इतर संसद के बाहर और अंदर भी कई तरह की गतिविधियां देखने को मिलती हैं। वहीं एक घटना यह भी देखने को मिली कि YSRCP सांसद के रघु रामकृष्ण राजू सांसदों के लिए मिठाइयां और नमकीन लेकर पहुंचे। लेकिन उनकी ही पार्टी के नेताओं ने उनसे दूरी बना लगी।

बता दें कि के राजू पर आरोप है कि वह पार्टी विरोधी गतिविधियों में शामिल हैं और आजकल वह सत्ताधारी दल के सांसदों से नजदीकी बना रहे हैं। ऐसे में उनकी पार्टी के सदस्यों ने उनसे बात करनी भी छोड़ दी है। वह संसद भवन में मिठाई और नमकीन लेकर पहुंचे थे। अन्य सांसदों ने इसका स्वाद लिया लेकिन उनकी पार्टी के लोगों ने किनारा कस लिया। सूत्रों का कहना है कि राजू के साथी सांसद इसलिए उनसे बात नहीं कर रहे क्योंकि उन्हें डर है कि कहीं जगनमोहन रेड्डी नाराज न हो जाएं।

बता दें कि YSR कांग्रेस के राजू पर राजद्रोह का भी आरोप है। उन्हें सीआईडी ने गिरफ्तार कर लिया था। आरोप लगाया गया था कि वह समदायों में नफरत फैलाने और सरकार के खिलाफ असंतोष बढ़ाने का काम कर रहे हैं। सरकार के लोग भी कह रहे थे कि वह ऐसे भाषण दे रहे हैं जिससे कि लोगों की छवि खराब हो रही है।

इससे पहले भी वह पार्टी से बगावत कर चुके हैं। वह इस समय नरसापुरम लोकसभा सीट से सांसद हैं।

उन्होंने पहले भी बगावत कर दी थी। वह कोरोना संकट के दौरान जगन मोहन रेड्डी की सरकार को खूब घेर रहे थे। केंद्रीय गृह मंत्रालय के आदेश पर उन्हें सुरक्षा दी गयी है। उनकी गिरफ्तारी भी तब हुई थी जब वह अपना जन्मदिन मना रहे थे। पहले तो केंद्रीय बल ने गिरफ्तारी का विरोध किया लेकिन बाद में सीनियर अफसरों की दखल के बाद उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया था। बाद में कोर्ट से उन्हें जमानत मिली।

 

पढें राष्ट्रीय समाचार (National News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट