ताज़ा खबर
 

Parliament Live: अरुणाचल पर राजनाथ सिंह ने किया कटाक्ष तो राहुल की अगुआई में कांग्रेसियों ने किया वॉकआउट

राजनाथ सिंह ने कहावत बोलते हुए कहा, 'जब छेद वाली नाव को पानी में चलाएंगे, तो नाव का डूबना तो तय ही है। ऐसे में पानी को दोष देना गलत है।'

लोकसभा में बोलते केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह। (फाइल फोटो)

मानसून सत्र के दूसरे दिन मंगलवार (19 जुलाई) को कांग्रेस पार्टी ने बीजेपी को अरुणाचल प्रदेश में हुई राजनीतिक उथल-पुथल के लिए जिम्मेदार बताया। इसके जवाब में गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने पार्टी पर लगे आरोपों को नकार दिया। राजनाथ सिंह की तरफ से कहा गया कि अरुणाचल प्रदेश और उत्तराखंड में कांग्रेस द्वारा बहुमत खो देने में बीजेपी का कोई हाथ नहीं था।

राजनाथ सिंह ने कहावत बोलते हुए कहा, ‘जब छेद वाली नाव को पानी में चलाएंगे, तो नाव का डूबना तो तय ही है। ऐसे में पानी को दोष देना गलत है।’ राजनाथ सिंह ने कहा कि कांग्रेस दोनों राज्यों में टूट गई थी। इस बात पर कांग्रेस ने लोकसभा से वॉक-आउट कर लिया। वॉट आउट की अगुआई राहुल गांधी कर रहे थे।

Read Alsoकश्‍मीर हिंसा पर बोले राजनाथ- मिलिटेंट से सख्‍ती, जनता से सिम्‍पैथी

इससे पहले संसद के मानसून सत्र के पहले दिन यानी 18 जुलाई को राज्‍य सभा में कश्‍मीर मुद्दे पर चर्चा हुर्इ। चर्चा के जवाब में गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने कश्‍मीर हिंसा काा ठीकरा पाकिस्‍तान पर फोड़ा। उन्‍होंने कहा, ”मिलिटेंट के साथ सख्‍ती होगी और हो रही है। आम जनता के साथ सिम्‍पैथी। हिंसा के पीछे पाकिस्‍तान है। कहने को तो वह पाकिस्‍तान है लेकिन उसकी हर हरकत नापाक है। उन्‍होंने कहा कि जो कुछ भी हो रहा है पूरी तरह से पाकिस्‍तान स्‍पॉन्‍सर्ड है।”

 

राज्‍यसभा में बसपा सुप्रीमो मायावती ने दलितों की अनदेखी को लेकर सरकार पर हमलावर रुख अख्तियार किया था। उन्‍होंने आरोप लगाया कि गुजरात में भाजपा सरकार दलितों को नजरअंदाज कर रही है। हंगामों के बाद राज्यसभा को स्थगित कर दिया गया था।

Next Stories
1 पार्टनर का रिसॉर्ट बचाने के लिए सचिन ने रक्षा मंत्री से की थी पैरवी, छुट्टी छोड़ ऑस्‍ट्रेलिया से आए थे दिल्‍ली
2 भारत ने लद्दाख में तैनात किए 100 टैंक, चीनी घुसपैठ का दिया जाएगा जवाब
3 RTI के तहत PMO से पूछा- क्‍या प्रधानमंत्री मोदी राजनीति में आने से पहले रामलीला में काम करते थे
यह पढ़ा क्या?
X