ताज़ा खबर
 

Parliament Live: कश्‍मीर हिंसा पर बोले राजनाथ- मिलिटेंट से सख्‍ती, जनता से सिम्‍पैथी

Monsoon session में PM Narendra Modi के सामने सबसे बड़ी चुनौती GST Bill को पारित कराना है। इसके अलावा राज्‍यसभा में भी 45 बिल लटके पड़े हैं।
Author नई दिल्‍ली | July 18, 2016 18:02 pm
संसद सत्र से पहले पत्रकारों से बात करते पीएम मोदी। (Source: Twitter)

संसद के मॉनसून सत्र के पहले दिन राज्‍य सभा में कश्‍मीर मुद्दे पर चर्चा हुर्इ। चर्चा के जवाब में गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने कश्‍मीर हिंसा काा ठीकरा पाकिस्‍तान पर फोड़ा। उन्‍होंने कहा, ”मिलिटेंट के साथ सख्‍ती होगी और हो रही है। आम जनता के साथ सिम्‍पैथी। हिंसा के पीछे पाकिस्‍तान है। कहने को तो वह पाकिस्‍तान है लेकिन उसकी हर हरकत नापाक है। उन्‍होंने कहा कि जो कुछ भी हो रहा है पूरी तरह से पाकिस्‍तान स्‍पॉन्‍सर्ड है।”

इससे पहले सदन में सत्‍ता पक्ष के नेता अरुण जेटली ने कश्‍मीर मुद्दे पर सरकार का पक्ष रखाा। जेटली ने कहा कि कश्‍मीर मुद्दे पर हमें राजनीतिक सीमा से ऊपर उठकर सोचना चाहिए।  चर्चा की शुरुआत करते हुए कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद ने सदन में सवाल उठाए कि मिलिटेंट्स और आम आदमी में कोई अंतर होना चाहिए कि नहीं। उन्‍होंने सरकार से कहा कि मिलिटेंसी को खत्‍म करने में कांग्रेस उनके साथ है।

इससे पहले, राज्‍यसभा में बसपा सुप्रीमो मायावती ने दलितों की अनदेखी को लेकर सरकार पर हमलावर रुख अख्तियार किया। उन्‍होंने आरोप लगाया कि गुजरात में भाजपा सरकार दलितों को नजरअंदाज कर रही है। सभापति हामिद अंसारी ने राज्‍यसभा को दोपहर 2 बजे तक के लिए स्‍थगित कर दिया। कांग्रेस ने कश्‍मीर मुद्दे पर चर्चा को नोटिस दिया।

लोकसभा में पहले दिन की कार्यवाही को मध्‍य प्रदेश के शाहदोल से सांसद दलपत सिंह परस्‍ते के निधन पर मंगलवार तक के लिए स्‍थगित कर दिया गया। इससे पहले मोदी ने लोकसभा में अपने नए मंत्रियों का परिचय सदन से कराया। दूसरी तरफ, राज्‍यसभा में नए सांसदों ने शपथ ली। सरकार ने मॉनूसन सेशन के लिए एक दर्जन बिलों को सदन के सामने रखने, चर्चा करने और पास करने की तैयारी की है।

Live Updates:

 

राज्‍यसभा में फिलहाल वित्‍त मंत्री अरुण जेटली कश्‍मीर हिंसा पर सरकार का पक्ष रख रहे हैं।

कांग्रेस नेता पी. चिदम्‍बरम ने कहा कि सरकार को सदन में जीएसटी बिल रखने दीजिए, पार्टी उसी आधार पर हम तय करेंगे।

राज्‍य सभा की कार्यवाही को दोपहर 2 बजे तक के लिए स्‍थगित किया गया।

मायावती ने दलित उत्‍पीड़न को लेकर उठाई आवाज। मायावती ने कहा कि गुजरात की भाजपा सरकार ने गरीबों की अनदेखी की है। इस पर वेंकैया नायडू ने उन्‍हें टोकते हुए कहा कि ‘सब जानते हैं कि पीएम माेदी गरीबों को बचाने आए हैं।’

कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद ने दिया कश्‍मीर मुद्दे पर चर्चा का नोटिस, दोपहर दो बजे हो सकती है चर्चा।

प्रधानमंत्री ने उम्‍मीद जताई कि संसद सत्र में स्‍वस्‍थ चर्चा होगी।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी संसद पहुंच चुके हैं।

READ ALSO: दिग्विजय सिंह ने उड़ाया मजाक, लिखा- अभिषेक को ऐश पसंद है, केजरी को क्लेश पसंद है, मोदी को…

संसद और आस-पास के हिस्‍सों में जोरदार बारिश हो रही है।

TMC के सांसदों ने सत्र शुरू होने से पहले गांधी प्रतिमा पर प्रदर्शन किया।

READ ASLO: Modi Cabinet Reshuffle 2016: प्रकाश जावड़ेकर कैबिनेट मंत्री बने, मेघवाल, अकबर और अठावले समेत 19 राज्‍य मंत्री बने

भाजपा के नेतृत्‍व में एनडीए सरकार को कश्‍मीर में जारी विरोध-प्रदर्शनों पर विपक्ष के सवालों का जवाब देना होगा। सोमवार को बारिश के बीच संसद पहुंचे प्रधानमंत्री ने कहा कि केन्‍द्र सरकार हर मुद्दे पर बातचीत को तैयार है। उन्‍होंने उम्‍मीद जताई कि राष्‍ट्रहित के मुद्दे पर सभी दल मिलजुलकर कर चर्चा करेंगे। रविवार को एक सर्वदलीय बैठक में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उम्‍मीद जताई थी कि मॉनसून सेशन में महत्‍वपूर्ण बिलों पर चर्चा होगी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App