ताज़ा खबर
 

पार्लियामेंट एथिक्स कमेटी का राहुल को नोटिस, पूछा-क्या आपने कभी खुद को ब्रिटिश नागरिक घोषित किया था?

वरिष्ठ भाजपा नेता लाल कृष्ण आडवाणी की अध्यक्षता वाली पार्लियामेंट एथिक्स कमेटी ने राहुल गांधी से पूछा है कि क्या आपने कभी अपने आपको ब्रिटिश नागरिक घोषित किया था?

Author नई दिल्ली | March 14, 2016 4:16 PM
कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी। (फाइल फोटो)

वरिष्ठ भाजपा नेता लाल कृष्ण आडवाणी की अध्यक्षता वाली पार्लियामेंट एथिक्स कमेटी ने राहुल गांधी से पूछा है कि क्या आपने कभी अपने आपको ब्रिटिश नागरिक घोषित किया था? राहुल गांधी से जुड़े इस विवाद को लेकर कांग्रेस पर कई भाजपा नेता निशाना साध चुके हैं। भाजपा नेता सुब्रमण्यन स्वामी ने पिछले साल पीएम मोदी को पत्र लिखकर इसकी शिकायत की थी। कांग्रेस ने इसे व्यक्तिगत मामला बताते हुए कहा कि भारतीय जनता पार्टी इस मुद्दे को आगे बढ़ाना चाहती है। ऐसे में आने वाले दिनों में बड़ा राजनीतिक विवाद पैदा होने की आशंका नजर आ रही है।

Read Also: BJP नेता ओम माथुर बोले- राहुल गांधी की शादी नहीं हुई, वरना उनके बच्‍चे देशद्रोहियों के गैंग में शामिल होते

रिपोर्ट्स के मुताबिक भाजपा सांसद महेश गिरी ने भी लोकसभा स्पीकर सुमित्रा महाजन को पत्र लिखा था, महाजन ने बाद में वह पत्र पार्लियामेंट एथिक्स कमेटी को भेज दिया। जिस पर कार्रवाई करते हुए कमेटी ने राहुल को पिछले सप्ताह पत्र भेजकर यह सवाल पूछा है। स्वामी का कहना है कि राहुल ने ब्रिटेन में रजिस्टर्ड एक कंपनी के डायरेक्टर के तौर पर खुद को ब्रिटेन का नागरिक बताया था। स्वामी ने राहुल से सांसद पद की योग्यता छीनने की मांग करते हुए कहा कि उनकी भारत की नागरिकता भी छीन लेनी चाहिए, क्योंकि यहां दोहरी नागरिकता की अनुमति नहीं है। इस पर कांग्रेस का कहना है कि यह भारतीय जनता पार्टी द्वारा स्वामी, गिरी और प्रधानमंत्री की नाकामियों को छुपाने के लिए किया जा रहा है।

Read Also: विजय माल्‍या के देश छोड़ने को लेकर हमलावर हुए राहुल तो जेटली ने दिलाई क्‍वात्रोची की याद

लोकसभा अधिकारियों के मुताबिक कमेटी ने इस मामले में जांच शुरू कर दी है और राहुल गांधी के जवाब के आधार पर कमेटी मामले को बंद करने और आगे बढ़ाने के बारे में फैसला करेगी।

Read Also: पढ़े पार्लियामेंट एथिक्स कमेटी के नोटिस का राहुल गांधी ने क्या दिया जवाब

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App