ताज़ा खबर
 

‘पंज प्यारों’ ने की पांच तख्तों के जत्थेदारों को हटाने की मांग

अकाल तख्त के पंज प्यारों ने शुक्रवार को शिरोमणि गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी (एसजीपीसी) से पांच तख्तों के जत्थेदारों को हटाने की मांग करते हुए आरोप लगाया कि उन्होंने ‘समुदाय में आक्रोश और बेचैनी पैदा’..

Author अमृतसर/चंडीगढ़ | October 24, 2015 16:42 pm
पंज प्यारों ने पांच तख्तों के जत्थेदारों को तलब करके डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम को माफी देने के बारे में स्पष्टीकरण मांगा था। (पीटीआई फोटो)

एक अभूतपूर्व घटनाक्रम के तहत, अकाल तख्त के पंज प्यारों ने शुक्रवार को शिरोमणि गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी (एसजीपीसी) से पांच तख्तों के जत्थेदारों को हटाने की मांग करते हुए आरोप लगाया कि उन्होंने ‘समुदाय में आक्रोश और बेचैनी पैदा’ की।

पंज प्यारों में शामिल सतनाम सिंह ने कहा, ‘हमने एसजीपीसी से अकाल तख्त के जत्थेदार ज्ञानी गुरबचन सिंह सहित पांच जत्थेदारों की सेवाएं तत्काल खत्म करने के लिए कहा क्योंकि सिख समुदाय में आक्रोश और बेचैनी पैदा करने वाले उनके हालिया पंथ विरोधी कदमों से समुदाय का उनमें भरोसा नहीं बचा है’।

यह पूछे जाने पर कि सिखों की शीर्ष धार्मिक संस्था एसजीपीसी ने पंज प्यारों को पहले ही निलंबित कर दिया है, उन्होंने कहा, ‘एसजीपीसी ने अपने कर्मचारियों को निलंबित किया है और हम यहां पंज प्यारों के तौर पर हैं जो हमेशा सिख समुदाय के व्यापक हित में फैसला लेने के लिए स्वतंत्र रहते हैं’।

बुधवार को पंज प्यारों ने पांच तख्तों के जत्थेदारों को तलब करके डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम को माफी देने के बारे में स्पष्टीकरण मांगा था। इसके बाद एसजीपीसी ने उन्हें निलंबित कर दिया था। पंज प्यारों ने कहा कि जत्थेदार शुक्रवार को स्वर्ण मंदिर में नहीं आए जिसके बाद उनके इस्तीफे की मांग की गई।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App