ताज़ा खबर
 

पाक ने तोड़ा संघर्षविराम, सीमाई गांवों-नौ सीमा चौकियों को बनाया निशाना

पाकिस्तान रेंजर्स ने संघर्ष विराम का उल्लंघन करते हुए जम्मू कश्मीर के सांबा जिले में असैन्य इलाकों और बीएसएफ की नौ सीमा चौकियों को निशाना बनाया...

Author जम्मू | October 24, 2015 8:58 PM
सांबा जिले में पाकिस्तान की ओर से हुए हमले को दिखाता बीएसएफ का एक जवान। (पीटीआई फोटो)

पाकिस्तान रेंजर्स ने एक महीने से अधिक समय तक खामोश रहने के बाद शनिवार को लगातार दूसरे दिन संघर्ष विराम का उल्लंघन करते हुए जम्मू कश्मीर के सांबा जिले में असैन्य इलाकों और बीएसएफ की नौ सीमा चौकियों (बीओपी) को निशाना बनाकर भारी गोलीबारी की और मोर्टार बम दागे जिसमें दो व्यक्ति घायल हो गये।

सुरक्षा अधिकारियों ने बताया कि पाकिस्तानी रेंजर्स की गोलीबारी का बीएसएफ के जवानों ने माकूल जवाब दिया। पाकिस्तानी रेंजर्स की गोलीबारी में एक स्कूल बस, एक निजी मिनी बस और ट्रैक्टर को भी नुकसान हुआ है जबकि कुछ जानवर मारे गये हैं या घायल हो गये हैं।

मंगू चक सीमा अग्रिम चौकी में अंतरराष्ट्रीय सीमा चौकी (आईबी) पर पाकिस्तानी सैनिकों ने शुक्रवार शाम भारी गोलीबारी की जिसमें एक नागरिक की मौत हो गयी है और दो अन्य घायल हो गये। बीएसएफ के एक अधिकारी ने बताया ‘‘पाकिस्तान रेंजर्स ने सांबा सेक्टर में अंतरराष्ट्रीय सीमा के पास बीएसएफ की चौकियों पर शुक्रवार रात आठ बजकर 25 मिनट पर बिना किसी उकसावे के गोलीबारी शुरू की।’’ बीएसएफ ने उसका माकूल जवाब दिया।

उन्होंने बताया कि रेंजर्स ने सांबा सेक्टर में बसंतर और त्रेवा नदी के बीच अंतरराष्ट्रीय सीमा के पास सीमा सुरक्षा बल की नौ सीमा चौकियों पर गोलीबारी की। उन्होंने अंतरराष्ट्रीय सीमा के पास कुछ स्थानों पर 82, 82 और 51 एमएम के मोर्टार बमों का इस्तेमाल किया।

अधिकारी ने बताया कि बीएसएफ के जवानों ने जवाबी कार्रवाई की जिसके बाद शुरू हुई मुठभेड़ देर रात दो बजकर 20 मिनट तक चली। इस दौरान सीता सुरक्षा बल को कोई नुकसान नहीं हुआ।

एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि मोटार्र बम हमलों में दो ग्रामीण सुरिंदर और रोहित घायल हो गये हैं और उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

अधिकारी ने बताया कि कई गांवों विशेषकर सुजानपुर, मावा, भाटी और बोबीया में मोटार्र बम दागे गये। उन्होंने बताया कि एक स्कूल बस, निजी मिनी बस और ट्रैक्टर को भी नुकसान पहुंचा है।

कई सप्ताह से पाकिस्तान की ओर से नियमित रूप से हो रहा संघर्ष विराम का उल्लंघन दिल्ली में 12 सितंबर को बीएसएफ और पाकिस्तान रेंजर्स के बीच हुई महानिदेशक स्तर की वार्ता के बाद रुक गया था।

इस बीच, जम्मू कश्मीर के मुख्यमंत्री मुफ्ती मोहम्मद सईद ने सीमा पार से सांबा सेक्टर में गोलीबारी की ताजा घटना में एक व्यक्ति के मारे जाने और अन्य के घायल होने पर दुख व्यक्त किया है। एक आधिकारिक प्रवक्ता ने श्रीनगर में कहा कि मुख्यमंत्री ने शोकसंतप्त परिवार के प्रति संवेदना व्यक्त की और मृतक की आत्मा की शांति के लिए प्रार्थना की। सईद ने घायल लोगों के जल्द स्वस्थ होने की भी कामना की।

मुख्यमंत्री ने यह भी उम्मीद जताई कि अंतरराष्ट्रीय सीमा और नियंत्रण रेखा पर शांति कायम रखने के लिए भारत और पाकिस्तान के बीच हुए समझौते का सम्मान किया जाएगा।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App