ताज़ा खबर
 

पाकिस्तानी आंतकी बहादुर अली ने कबूला- लश्कर ने ट्रेनिंंग देकर भेजा था भारत, किए और भी खुलासे

पाकिस्तानी आंतकी बहादुर अली को 25 जुलाई को एक 47 राइफल, ग्रेनेड और लॉन्चर के साथ गिरफ्तार किया गया था।

Author नई दिल्ली | August 10, 2016 4:10 PM
लश्कर-ए-तैयबा का आतंकी बहादुर अली (ANI PHOTO)

पिछले महीने जम्मू-कश्मीर से गिरफ्तार किए गए आंतकी बहादुर अली को लेकर राष्ट्रीय जांच एजेंसी (NIA) ने कई खुलासे किए हैंं। एनआईए ने बुधवार को  बहादुर अली के कबूलनामे का वीडियो दिखाते हुए प्रेस कॉन्फ्रेंस किया।  जांच एजेंसी ने बताया कि आतंकी बहुादर अली को जमात-उद-दावा ने रिक्रूट किया था। बाद में लश्कर-ए-तैयबा को सौंप दिया गया। बहादुर अली ने लश्कर द्वारा दी जाने वाली तीनों ट्रेनिंग ली है। लश्कर ने उसेे ट्रेंड करके जम्मू-कश्मीर में घुसपैठ करने और स्थानीय लोगों के बीच घुल मिलकर तनाव उत्पन्न करने के लिए कहा था। बता दें कि पाकिस्तानी आंतकी बहादुर अली को 25 जुलाई को एक 47 राइफल, ग्रेनेड और लॉन्चर के साथ गिरफ्तार किया गया था।

अली की गिरफ्तारी के बाद एनआईए हिजबुल मुजाहिदीन के कमांडर बुरहान वानी के मारेे जाने के बाद कश्मीर में चल रही अशांति में लश्कर की भूमिका की जांच कर रही थी। एनआईए चीफ संजीव कुमार ने बताया कि आंतकी को हथियारों की ट्रेनिंग को देखकर इसमें मिलेट्री एक्सपर्ट्स और पाकिस्तानी सेना का शामिल होना लग रहा था। उन्होंने बताया कि अली गिरफ्तार होने से पहले लश्कर के संपर्क में था। एनआईए ने बताया कि बहादुर अली के पास से मिले कोड्स से पता चलता है कि उसे बहुुत हाई ट्रेंड लोगों ने ट्रेनिंग दी थी।

HOT DEALS
  • Apple iPhone 6 32 GB Gold
    ₹ 25900 MRP ₹ 29500 -12%
    ₹3750 Cashback
  • Panasonic Eluga A3 Pro 32 GB (Grey)
    ₹ 9799 MRP ₹ 12990 -25%
    ₹490 Cashback

बहादुर अली ने एनआईए को पूछताछ में बताया कि लश्कर के ट्रेनिंग कैंप में 30-50 ट्रेनीज थे जो अलग-अलग देशों के अलग-अलग हिस्सों से आए थे, इसमें अफगानिस्तान और पाकिस्तान के लोग भी शामिल थे। उसने बताया कि कुछ आर्मी ऑफिसर्स थे जो कि सिविल ड्रेस में थे, उन्होंनेे चेेक लिस्ट के जरिए उनकी तैयारी चेेक की थी।

उसने बताया कि वह दो लश्कर के कैडर्स के साथ 11-12 जून को भारत की सीमा में घुसा था। उसने बताया कि जब हैदर फेंसिंग पार करके एलओसी पार करने की कोशिश कर रहा था, तो वह लगातार किसी से संपर्क में था। बहादुर का कहना है कि वह सीमा पर तैनात सुरक्षा बलों में से एक आदमी हो सकता है। उसने माना कि लश्कर से ट्रेेनिंग लेकर भारत में घुसा।

 


 

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App