ताज़ा खबर
 

पाकिस्‍तानी सैनिकों की बर्बरता: बीएसएफ जवान को घंटों तड़पाया, गला रेता, टांग काटी, आंख निकाली फिर मारी दो गोलियां

दुश्मन सैनिकों ने भारतीय जवान को पहले घंटों तढ़पाया, फिर गोली मारी और इसके बाद गला रेत दिया। घटना जम्मू-कश्मीर के रामगढ़ सेक्टर की है।

Author September 20, 2018 1:26 PM
तस्वीर का इस्तेमाल केवल प्रतीकात्मक रूप से किया गया है। (एक्सप्रेस फोटो)

पाकिस्तानी सैनिकों ने एक बार फिर कायराना हरकत की है। मंगलवार (18 सितंबर, 2018) को पाकिस्तानी रैंजरों ने घायल बीएसएफ जवान की ना सिर्फ हत्या की बल्कि उनके शव के साथ खूब बर्बरता की। सूत्रों के हवाले से मिली खबर के मुताबिक दुश्मन सैनिकों ने भारतीय जवान को पहले घंटों तढ़पाया, फिर गोली मारी और इसके बाद गला रेत दिया। घटना जम्मू-कश्मीर के रामगढ़ सेक्टर की है। सूत्रों ने बताया हेड कांस्टेबल नरेंद्र कुमार का शव अंतर्राष्ट्रीय बॉर्डर के नजदीक मंगलवार देर रात को बरामद किया गया। उनके सीने पर तीन गोलियां मारी गईं। कंधा और टांग काट दी गई, गला रेत दिया गया। इसके अलावा भारतीय जवान की एक आंख भी फोड़ दी गई। पीठ पर करंट लगाने से झुलसाने के निशान भी हैं। खबर के मुताबिक एक गोली उन्हें शुरुआत में लगी जबकि बाकी गोलियां उन्हें यातनाएं देने के दौरान मारी गईं।

बता दें कि जवान नरेंद्र कुमार के लापता होने के करीब 9 घंटे बाद उनका शव बरामद किया गया। हालांकि मंगलवार को शव बरामद होने के बाद भी बीएसएफ ने उसे हॉस्पिटल नहीं भिजवाया। शव बुधवार को हॉस्पिटल भिजवाया गया और गुपचुप तरीके से पोस्टमार्टम किया गया। खबर के मुताबिक संबंधित अधिकारियों जब मामले में पूछा गया तो कोई सामने आने को तैयार नहीं है। कुछ अधिकारियों का कहना है कि पाकिस्तानी बॉर्डर पर शहीद के शव के साथ ऐसी घटना पहली बार नहीं हुई है। हालांकि घटना के तुरंत बाद भारत-पाकिस्तान बॉर्डर पर अलर्ट जारी किया गया है।

भारतीय अधिकारियों का कहना है कि इस बर्बरता में पाकिस्तानी सैनिकों का हाथ है। बीएसएफ और अन्य सुरक्षा बल सही वक्त आने पाकिस्तान को इसका जवाब जरूर देंगे। बता दें कि पिछले साल भी पाकिस्तानी की बॉर्डर एक्शन टीम ने भारतीय सैनिकों के दो शवों को बुरी तरह खराब कर दिया था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App