ताज़ा खबर
 

पाकिस्तानी एफ-16 ने भारतीय यात्री विमान को घेर लिया था, सवार थे 120 यात्री

हालांकि जब विमान के कोड का भ्रम दूर हुआ तो पाकिस्तानी लड़ाकू विमानों ने उसे अफगानिस्तान जाने की इजाजत दे दी।

Author Published on: October 18, 2019 4:56 AM
काबुल में सुरक्षित उतरने के बाद वापसी में उड़ान करीब पांच घंटे लेट हुई।

काबुल जा रहे एक भारतीय यात्री विमान को पाकिस्तानी एफ-16 लड़ाकू विमानों ने 23 सितंबर को घेर लिया था। गुरुवार डीजीसीए के अधिकारियों ने इस मामले में जांच रिपोर्ट के आधार पर बताया कि दो पाकिस्तानी एफ-16 विमान के पायलटों ने स्पाइसजेट के पायलट से उड़ान के दौरान ही पूछताछ की। उन्होंने पायलट से उड़ान की विस्तृत जानकारी मांगी और ऊंचाई घटाने निर्देश भी दिए। यात्रियों को इशारे कर विमान की खिड़कियां बंद करा दी थीं। बाद में स्थिति साफ होने पर पाकिस्तानी लड़ाकू विमानों ने उस यात्री विमान को अफगानी वायु सीमा तक छोड़ा।

डीजीसीए अधिकारियों ने इस बात की पुष्टि की है कि गफलत दूर होने के बाद भी पाकिस्तानी फाइटर प्लेन ने स्पाइसजेट को तब तक घेरे रखा, जब तक स्पाइसजेट के विमान ने पाकिस्तानी वायु सीमा को पार करके अफगानिस्तान की सीमा में प्रवेश नहीं कर लिया। काबुल में सुरक्षित उतरने के बाद वापसी में उड़ान करीब पांच घंटे लेट हुई।

स्पाइसजेट के विमान एसजी-21 ने 23 सितंबर को दिल्ली से काबुल के लिए उड़ान भरी थी। इसमें करीब 120 यात्री सवार थे। इस दौरान पाकिस्तानी वायु सीमा को भारत के लिए खुला रखा गया था। विमान के पायलट ने डीजीसीए अधिकारियों को बयान दिया है कि उसने पाकिस्तानी एफ-16 के पायलटों को बताया कि यह स्पाइसजेट है। यह भारतीय वाणिज्यिक उड़ान है, जिसमें यात्री सवार हैं। यह काबुल जा रहा है।

पाकिस्तानी लड़ाकू विमान के पायलटों ने स्पाइसजेट के पायलट को निर्देश देकर विमान की ऊंचाई घटाने और पायलट से उड़ान की विस्तृत जानकारी देने को कहा। दरअसल, हर उड़ान का एक कोड होता है। स्पाइसजेट का कोड ‘एसजी’ है। पाकिस्तानी एटीएस ने स्पाइस जेट को ‘आइए’ यानी इंडियन आर्मी या इंडियन एयरफोर्स समझ लिया।

ऐसा एफ-16 के पायलटों ने स्पाइसजेट के पायलट को अफगानिस्तान की सीमा में छोड़ने के दौरान बताया। स्पाइसजेट के पायलट के मुताबिक, जैसे ही पाकिस्तानी एटीसी को जानकारी मिली कि भारत की तरफ से आइए कोड वाला विमान आ रहा है, तो उन्होंने तुरंत अपने एफ-16 को पीछा करने के लिए रवाना कर दिया। हालांकि जब विमान के कोड का भ्रम दूर हुआ तो पाकिस्तानी लड़ाकू विमानों ने उसे अफगानिस्तान जाने की इजाजत दे दी। पाकिस्तान एफ-16 उस विमान को घेरे हुए थे और खिड़कियां बंद करा दी थीं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 महाराष्ट्र में सुधरी किसानों की स्थिति, हरियाणा में बढ़ी बेटियां
2 टीवी डिबेट के दौरान भड़के महंत, बोले- अरे गजब बात कर रहे हो मुझसे ज्यादा मुसलमानों को किसने सम्मान दिया
3 UP: हेलमेट न पहनने पर काटा गया ट्रैक्टर ड्राइवर का चालान! सफाई में बोले ट्रैफिक प्रभारी- यह टाइपिंग की चूक