ताज़ा खबर
 

पाकिस्‍तान को आतंकवाद प्रायोजित राष्‍ट्र घोषित करे मोदी सरकार, राज्‍यसभा में सांसद ने पेश किया बिल

निर्दलीय सदस्य राजीव चंद्रशेखर ने आतंकवाद प्रायोजक देश की घोषणा विधेयक, 2016 उच्च सदन में पेश किया।

Author नई दिल्ली | February 3, 2017 8:59 PM
pakistan terror bill, pakistan Terror Sponsor Bill, rajya sabha pakistan newsराज्यसभा की कार्यवाही का नज़ारा

पाकिस्तान को आतंकवाद प्रायोजक देश घोषित किए जाने तथा उससे आर्थिक एवं व्यापारिक संबंध समाप्त किए जाने के प्रावधान वाला एक निजी विधेयक शुक्रवार (3 फरवरी) को राज्यसभा में पेश किया गया। निर्दलीय सदस्य राजीव चंद्रशेखर ने आतंकवाद प्रायोजक देश की घोषणा विधेयक, 2016 उच्च सदन में पेश किया। यह निजी विधेयक पेश करते हुए चंद्रशेखर ने कहा कि भारत अपने पड़ोसी देश पाकिस्तान में स्थित तत्वों की आतंकवादी गतिविधियों का लगातार शिकार होता रहा है। उन्होंने कहा कि ठोस सबूत होने के बाद भी पाकिस्तान ने ऐसे तत्वों के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की है। इस क्रम में उन्होंने संसद पर हमला, मुंबई आतंकी हमला सहित विभिन्न आतंकवादी घटनाओं का जिक्र किया। उन्होंने कहा कि पिछले साल ही पठानकोट, गुरदासपुर और माछिल सहित कई आतंकवादी हमले हुए।

उन्होंने कहा कि पाकिस्तान का रिकॉर्ड है कि वह कई दशकों से भारत में आतंकवाद को प्रश्रय देता रहा है। उन्होंने मांग की कि पाकिस्तान को आतंकवाद प्रायोजक देश घोषित किया जाए और उससे आर्थिक एवं व्यापारिक संबंध समाप्त किए जाएं। इसके साथ ही उन्होंने मांग की कि पाकिस्तान को दिए गए सर्वाधिक तरजीही राष्ट्र (एमएफएन) के दर्जे पर भारत पुनर्विचार करे। उन्होंने पाकिस्तान के नागरिकों पर विधिक, आर्थिक और यात्रा प्रतिबंध लगाए जाने की भी मांग की। चर्चा में भाग लेते हुए कांग्रेस के आनंद भास्कर रापोलू ने पाकिस्तान के बारे में रूख को लेकर सरकार की आलोचना की और द्विपक्षीय संबंधों में गिरावट को लेकर सवाल किए। उन्होंने पाकिस्तानी अधिकारियों को जांच के लिए भारत आने की अनुमति देने के फैसले पर भी सवाल किए।

Next Stories
1 3 फरवरी, रात 9 बजे तक की न्‍यूज अपडेट्स: मुलायम के भाई-प्रेम से लेकर राहुल-अखिलेश की जुगलबंदी तक
2 महिलाओं की विवाह आयु बढ़ाकर 21 वर्ष की जाए, विधेयक राज्यसभा में पेश
3 Video: खराब खाने की शिकायत को ‘म्यूटनी’ कहने पर रिटा. ले. जनरल बख्शी पर भड़का ‘जवान’, कहा- भारतीय सैनिक देशद्रोही नहीं
ये पढ़ा क्या?
X