ताज़ा खबर
 

हार्ट ऑफ एशिया में पाकिस्तान नहीं उठाएगा कश्मीर मुद्दा, सरताज अजीज बोले- भारत से बातचीत को हैं हम इच्छुक

सरताज अजीज ने कहा, "मैं यहां हार्ट ऑफ एशिया सम्मेलन में शरीक होने आया हूं, यहां आने का हमारा मकसद यह साबित करता है कि हम अफगानिस्तान में शांति और सुरक्षा के लिए हार्ट ऑफ एशिया के महत्व को बनाए रखने के लिए प्रतिबद्ध हैं।

pakistan, kashmir, indo-pak, afghan forum , heart of asia conference,Heart of Asia, Sartaj Aziz, terrorism, india news, latest newsहार्ट ऑफ एशिया सम्मेलन में भाग लेने अमृतसर पहुंचे सरताज अजीज (फोटो-PTI)

पाकिस्तान ने आतंकवाद के मुद्दे पर अब भारत से बात करने की इच्छा जताई है। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ के विदेश मामलों के सलाहकार सरताज अजीज ने शनिवार को अमृतसर में इंडियन एक्सप्रेस से खास बातचीत में कहा कि वो भारत से आतंकवाद से जुड़े हर पहलू पर बात करने को इच्छुक है। सरताज अजीज हार्ट ऑफ एशिया सम्मेलन में शामिल होने आए हैं। पिछले साल पाकिस्तान को इस सम्मेलन से किनारे कर दिया गया था। सरताज अजीज ने कहा, “मैं यहां हार्ट ऑफ एशिया सम्मेलन में शरीक होने आया हूं, यहां आने का हमारा मकसद यह साबित करता है कि हम अफगानिस्तान में शांति और सुरक्षा के लिए हार्ट ऑफ एशिया के महत्व को बनाए रखने के लिए प्रतिबद्ध हैं। मैं यहां क्षेत्रीय शांति और सुरक्षा की प्रतिबद्धताओं को जाहिर करने और उस दिशा में बहुपक्षीय बातचीत के लिए भी आया हूं।”

उन्होंने कहा कि पाकिस्तान कश्मीर के मुद्दे को इस सम्मेलन में नहीं उठाएगा। उन्होंने कहा कि इस मुद्दे के लिए हार्ट ऑफ एशिया उपयुक्त फोरम नहीं है। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि भारत में उनकी मौजूदगी इस बात की परिचायक है कि पाकिस्तान द्विपक्षीय बातचीत के लिए तैयार है।

उन्होंने कहा, “अगर भारत ने रुचि दिखाई तो हम निश्चित तौर पर मिलेंगे। लेकिन मुझे नहीं लगता है कि इस मीटिंग के लिए किसी अनुरोध की जरूरत है। हमलोग यहां हैं, देखते हैं कि आगे क्या होता है?” हालांकि, पाकिस्तानी अधिकारी ने कहा कि वो शांति चाहते हैं और शांति बिना बातचीत के संभव नहीं है। उन्होंने कहा कि इससे जुड़े मुद्दों पर चर्चा मीडिया के जरिए नहीं बल्कि बातचीत के टेबल पर होती है। इस बीच भारत सरकार के उच्च पदस्थ अधिकारी ने इंडियन एक्सप्रेस से कहा, “हार्ट ऑफ एशिया सम्मेलन से इतर 6ठी मंत्री स्तरीय वार्ता में पाकिस्तान से द्विपक्षीय बातचीत की कोई संभावना नहीं है।”

गौरतलब है कि अमृतसर में ‘हॉर्ट ऑफ एशिया’ सम्मेलन शुरू हो गया है। इसका औपचारिक उद्घाटन आज (रविवार को) प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और अफगानिस्तान के राष्ट्रपति अशरफ गनी करेंगे। सम्मेलन में शिरकत के लिए प्रधानमंत्री मोदी शनिवार की शाम को अमृतसर पहुंचे। इससे पहले विभिन्न देशों के अधिकारियों ने सम्मेलन के एजंडे को अंतिम रूप देने के लिए बैठक की। इस सम्मेलन में एशिया में शांति और आपसी सहयोग और अफगानिस्तान के हालात प्रमुख मुद्दे होंगे। इस सम्मेलन में पाकिस्तान के प्रतिनिधिमंडल के साथ वहां के प्रधानमंत्री के सलाहकार सरताज अजीज भी शनिवार को अमृतसर पहुंच गए हैं। अजीज रविवार को अमृतसर पहुंचने वाले थे और उनका महज दो घंटे रुकने का कार्यक्रम था। ऐसे में उनके शनिवार को ही भारत पहुंच जाने को अहम संकेत समझा जा रहा है। हालांकि भारतीय अधिकारियों ने इस दौरान भारत और पाकिस्तान के बीच द्विपक्षीय संबंधों को लेकर किसी भी तरह की बातचीत से इनकार किया है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 सुप्रीम कोर्ट में राष्ट्रगान ना गाने का केस जीता था यह परिवार, कहा था- हम सिर्फ गॉड की प्रार्थना करते हैं
2 सरताज अजीज ने भारत की विदेश मंत्री सुषमा स्वराज को भेजा गुलदस्ता, जल्द स्वस्थ होने की कामना की
3 भारत और अफगानिस्तान ने बनाई पाकिस्तान के ऊपर से एयर कार्गो लिंक बनाने की योजना
IPL 2020 LIVE
X