ताज़ा खबर
 

पाकिस्तानी को फेसबुक पर हुआ हिंदुस्तानी लड़की से प्यार तो भारत आकर रचाई शादी, अब होना पड़ रहा है जुदा

भारत में टूरिस्ट वीजा पर रहने के दौरान उन्होंने लॉन्ग टर्म वीजा के लिए FRRO में अर्जी लगाई। मैंने अपना टूरिस्ट वीजा खत्म होने से दो महीने पहले अर्जी दी थी। मुझसे वीजा के लिए आवेदन करने के लिए कहा गया। अगस्त 2015 में एक अदालत ने वीजा नियमों का उल्लंघन करके भारत में अधिक समय रहने के लिए एक वर्ष की सजा सुनाई।

पंजाब के लुधियाना में एक दूल्हे को शादी के दौरान मारपीट और शर्मिंदगी का सामना करना पड़ा।। (Representative Image)

प्यार की कोई सरहद और सीमा नहीं होती, प्यार कभी भी किसी से भी, किसी भी समय हो सकता है। ऐसे ही कुछ हुआ- एक पाकिस्तानी लड़के और हिंदू लड़की के साथ। दोनों की दोस्ती सोशल मीडिया पर हुई और बाद में प्यार में बदल गई। पाकिस्तानी लड़के ने भारत आकर शादी रचाई और दोनों का एक बच्च भी है। लेकिन अब उसे अपने देश पाकिस्तान वापस भेजा जा रहा है। किसी बॉलिवुड फिल्म की कहानी से कम नहीं है 31 साल के अकबर दुरानी की लव स्टोरी। यह 5 वर्ष की एक दुख भरी कहानी है। पाकिस्तान के हैदराबाद प्रांत के ओखरी में रहने वाले दुरानी को पाकिस्तान भेजने के लिए मध्य प्रदेश से अटारी लाया गया है। वीजा नियमों का उल्लंघन करके ज्यादा समय तक भारत में रहने के बाद अब उनको पाकिस्तान वापस भेजा रहा है।

5 साल की दर्द भरी प्रेम कहानी के बारे में बताते हुए दुरानी कहते हैं कि हमारी कहानी 2011 में पहली बार तब शुरू हुई जब में फेसबुक और स्काइप पर मध्य प्रदेश के देवास में रहने वाली सोफिया के संपर्क में आया। सोफिया को लेकर मेरा प्यार मुझे भारत ले आया। मैं वीजा लेकर अपनी मां के साथ पाकिस्तान से देवास आ गया है। सोफिया के घर वालों ने मेरे शादी के प्रस्ताव को स्वीकार कर लिया, लेकिन एक शर्त रखी कि शादी में बाद मैं भारत में रहूंगा। 2013 में देवास में हमारी शादी हुई और एक साथ हमारा एक बेटा हुआ। इकोनॉमिक्स में पोस्ट ग्रेजुएट दुरानी घर चलाने के लिए मध्य प्रदेश के एक स्कूल में पढ़ाने लगे।

हालांकि उनके मुताबिक, भारत में टूरिस्ट वीजा पर रहने के दौरान उन्होंने लॉन्ग टर्म वीजा के लिए FRRO में अर्जी लगाई। मैंने अपना टूरिस्ट वीजा खत्म होने से दो महीने पहले अर्जी दी थी। मुझसे वीजा के लिए आवेदन करने के लिए कहा गया। अगस्त 2015 में एक अदालत ने वीजा नियमों का उल्लंघन करके भारत में अधिक समय रहने के लिए एक वर्ष की सजा सुनाई। आठ अगस्त 2016 को मुझे जेल से रिहा किया गया और पाकिस्तान उच्चायोग से यात्रा दस्तावेज के लिए एक पुलिस थाने में रखा गया। इसमें छह महीने से अधिक का समय लग गया। दुख की बात यह है कि प्रेम कहानी में सबसे दुख की बात यह है कि मेरी पत्नी और बच्चे को मेरे साथ पाकिस्तान जाने की इजाजत नहीं दी जा रही है।

दुरानी कहते हैं कि मेरे बिना पत्नी और बच्चे का भारत में रहना मुश्किल है। वह मुझे गुड बॉय करने के लिए अमृतसर में है। दुख की बात है कि वीजा नियों का उल्लंघन करने के कारण मुझे दोबारा भारत का वीजा नहीं मिलेगा। मुझे यह भी नहीं पता कि मेरी पत्नी और दो साल के बेटे आरिज़ को पाकिस्तानी हाई कमीशन द्वारा पाकिस्तान जाने की इजाजत मिलेगी या नहीं। मैंने कभी नहीं सोचा था कि भारत में भसने के बाद मुझे कभी अपने परिवार से अलग होना पड़ेगा। यह मेरी जिंदगी में सोनामी की तरह है।

वीडियो: लालू प्रसाद यादव ने कुछ इस तरह किया हेमा मालिनी के लिए अपने प्यार का इज़हार

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App